युवा प्रतिभा

कठिन परिश्रम

आशुतोष
पटना बिहार
उभारता नित्य देश को

निखारता वो हर शक्ख है
अपनी अथक
परिश्रम से
करोड़ो दिलो की धडकन है
दो अक्षर का नाम वाला
130 अरब का
सेवक है।
इतिहास दर इतिहास दर्ज होगा
तेरे जीवन के हर पन्नों में
क्योंकि तू अकेला नही
तेरे पीछे 130 करोड़ का जीवन है।
है वह हिन्द का चमकता सितारा
जिसके चमक से भारत रौशन है अंधेरो में
रहने वालो को
उजाले का कहाँ अनुभव है।
मान चुका जान चुका पहचान चुका
पूरे विश्व में अपना डंका बजवा चुका
फिर भी नकारने की जिनकी फिदरत है
वो तो बदनाम करके भी हार चुका।
कहते है कारवां
बढ़ता रहे
हर घर हिन्द में खुशहाल हो
और इससे भी सशक्त
पुनः हिन्द की आनेवाली
सरकार हो।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

Close
Close