टुडे न्यूज़

अशोक तंवर बने चर्चाओं का केंद्र, दुष्‍यंत के बाद अब अभय चौटाला को समर्थन

तंवर ने जेेजेपी नेता दुष्‍यंत चौटाला के बाद इनेलाे नेता अभय चौटाला को समर्थन दिया।

हिसार टुडे

हरियाण कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष डॉ. अशोक तंवर चर्चाओं में हैं। उन्‍होंने जननायक जनता पार्टी और दुष्‍यंत चौटाला को समर्थन देने के बाद इनेलो नेता अभय चौटाला को समर्थन देने का ऐलान किया। तंवर ने ऐलनाबाद में इनेलो प्रत्याशी अभयचौटाला को समर्थन दिया। दूसरी ओर, कांग्रेस ने कहा है कि तंवर के पार्टी छोड़ने और किसी दल को समर्थन देने से कोई फर्क नहीं पड़ेगा।

सिरसा में बुधवार देर शाम डाॅ. अशोक तंवर के कोठी पर पहुंचने के डेढ़ घंटे बाद ही अभय चौटाला उनसे मुलाकात के लिए पहुंचे। तंवर ने ऐलनाबाद से अभय चौटाला को समर्थन देने की घोषणा करते हुए कहा कि एक समय ऐसा था इनेलो और कांग्रेस के बीच लड़ाई थी। परिस्थित ऐसी आई कि सब समीकरण बदल गए। अलग ही तरह की राजनीति हो गई है। हमें पहली लड़ाई भाजपा के खिलाफ लडऩी है। यहां लोकसभा में कमल खिल गया था अब उनकी जड़ें नहीं जमने देनी है।

उन्‍होंने कहा कि सबसे पहले इलाके की भलाई देखनी है। जो बदली हुई परिस्थिति थी उसके बाद वे दलगत राजनीति से ऊपर उठकर उन प्रत्याशियों की मदद कर रहे हैं जो इस सरकार को उखाड़ फेंक सकते हैं। तेवर ने कहा, मैं उन साथियों के साथ भी हूं जो कांग्रेस में हमारे साथ संघर्ष करते रहे हैं। उन्हें भी मैंने छोड़ा नहीं है। जहां निर्दलीय मजबूत है वहां निर्दलीय की, जहां जजपा मजबूत है वहां जजपा की और जहां इनेलो मजबूत है वहां उनकी मदद करेंगे। ऐलनाबाद में सभी इनेलो की मदद करेंगे और अभय चौटाला  भारी बहुमत से जीतकर विधानसभा पहुंचेंगे।अभय चौटाला ने कहा कि इस परिवार से उनके पारिवारिक रिश्ते हैं। मैं रिश्ते निभाने में विश्वास करता हूं। 19 अक्टूबर को नाथूसरी चौपटा में रैली कर रहे हैं जिसमें डा. अशोक तंवर को भी आमंत्रित किया गया है। कार्यकर्ताओं की मुलाकात के बाद दोनों नेता बंद कमरे में राजनीतिक विचार विमर्श करते रहे।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close