टुडे न्यूज़ताजा खबरराजनीतिहिसार

हिसार मेरा साथ नहीं देगा तो कौन देगा : कुलदीप बिश्नोई

Hisar Today 

हिसार, 11  मई: केन्द्रीय कांग्रेस कार्यसमिति के सदस्य एवं विधायक कुलदीप बिश्नोई ने शनिवार को हिसार शहर में डोर-टू-डोर जनसंपर्क के दौरान कहा कि कहा कि पिताजी के बाद मैंने हर संभव प्रयास किया कि मेरे हिसार के लोगों के हितों पर कोई आंच न आने दूं। मेरी वजह से मेरे हिसार के लोगों का सिर नीचे न हो। पिछले 32 साल के राजनीतिक जीवन में मैंने कभी अपने ऊपर कोई दाग नहीं लगने दिया। हमेशा सिद्धांतों, उसूलों व ईमानदारी की राजनीति की और यहां के लोगों के लिए चौ. भजनलाल के शासनकाल वाला स्वर्णिम दौर वापसी की दिशा में संघर्ष किया। संघर्ष के इस सफर में मुझे धोखे भी मिले, लेकिन हिसार  के लोगों ने मेरा कभी साथ नहीं छोड़ा। पिछले लोकसभा चुनाव  में भी अगर विरोधियों ने षडयंत्र न रचा होता तो मैं हमारे हिसार की राजनीतिक चौधर वापिस लाने में कामयाब हो जाता, लेकिन उस हार की वजह से हिसार पांच साल पीछे चला गया और मुझे राजनीतिक संघर्ष करना पड़ा। एक बार फिर हिसार की जनता के सामने सुनहरी अवसर है यहां राजनीतिक ताकत व चौधर लाने का। भव्य बिश्नोई की जीत के साथ ही हमारे हिसार की राजनीतिक ताकत बढ़ेगी और मैं हिसार में मुख्यमंत्री की कुर्सी लाने में देर नहीं लगाउंगा। इसलिए हिसार वासियों से मेरा निवेदन है कि अपने, पराए की पहचान करके तथा हमारे हिसार के भविष्य को देखते हुए 12 मई को फैसला लेकर अपने घर की राजनीतिक नींव को मजबूत करें, ताकि मैं इलाके की चौधर को वापिस लाकर यहां विकास व रोजगार वही दौर शुरू कर सकूं जो चौ. भजनलाल के शासनकाल में था। विपक्ष के लोग भ्रामक प्रचार करते हैं मेरे बारे में, लेकिन हिसार की जनता अच्छी तरह जानती है कि कुलदीप बिश्नोई ने कभी किसी का बुरा नहीं किया। मेरे खिलाफ विपक्षियों के पास बोलने को कुछ नहीं है, इसलिए बेतुकी बातें जनता के बीच करते रहते हैं। हिसार की जनता से मेरी अपील है कि इस चुनाव में सोच समझकर फैसला लेें। अगर कुलदीप बिश्नोई खत्म होता है तो हमारा हिसार भी राजनीतिक रूप से खत्म होता है। कौन यहां रोजगार लेकर आएगा? कौन यहां यूनिवर्सिटियां, कॉलेज, स्कूल, अस्पताल व नौकरियां लेकर आएगा, कौन नहरों में पानी लेकर आएगा। आप जानते हैं कि जब-जब भजनलाल परिवार सत्ता में रहा तो लोगों के काम किए, विकास किया, रोजगार दिया। जो विपक्षी प्रत्याशी हिसार की जनता से वोट मांग रहे हैं उन्होंने हिसार के लिए क्या किया?  

उन्होंने कहा कि हमने सत्ता से बाहर रहकर भी हर संभव प्रयास किया कि किसी तरह से लोगों की सेवा कर सकें। पिछले पांच साल से मोदी व राज्य में भाजपा की सरकार है। क्या इन पांच सालों में मोदी ऐसा कुछ हिसार के लिए करवा पाए जो भजनलाल ने नहीं किया था। हिसार व भजनलाल परिवार एक दूसरे की पहचान है। वो कहावत है कि अगर अपणा मारेगा तो छाया मे ही गेड़ेगा। अपने घर की चाबी हम उसी व्यक्ति को देते हैं जो परिवार का सदस्य होता है। ये सिरसा वाले और दिल्ली वाले क्या कभी हमारे हिसार के हो सकते हैं। जिस बीरेन्द्र सिंह परिवार से 40 वर्षों में उचाना की जनता काम नहीं करवा पाई, क्या वह परिवार हमारे हिसार के लिए कुछ करेगा?  दुष्यंत चौटाला जिसका वोट ही हिसार में नहीं है, जिसका परिवार हिसार के विकास के लिए जलता था, वह क्या हमारे हिसार का कभी हो पाएगा?  उन्होंने हिसार वासियों से आह्वान किया कि अगर जाने-अनजाने में मुझसे कोई भी गिला शिकवा है तो उसे भूलाकर हिसार के मान-सम्मान और भविष्य की दिशा में एक बार जरूर सोचें कि कौन अपना है और कौन पराया।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close