टुडे न्यूज़

राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय कैमरी में काउंसलर शिविर आयोजित

काउंसलर प्रशिक्षण नोबल कॉज एवं सामाजिक सहभागिता वाले कार्यों में लोगों की बढ़ाएगा भागीदारी

टुडे न्यूज | हिसार

सामाजिक कार्यों में सहभागिता बढ़ाने के उद्देश्य से जिला रैडक्रास सोसायटी ने राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय कैमरी में जूनियर रैडक्रास कांउसलर प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया। शिविर को सम्बोधित करते हुए विद्यालय के प्राचार्य केके दुआ ने कहा कि जिला रैडक्रास सोसायटी द्वारा आयोजित यह काउंसलर प्रशिक्षण नोबल कॉज एवं सामाजिक सहभागिता वाले कार्यों में लोगों की भागीदारी बढ़ायेगा। उन्होंने कहा कि इन कार्यों के अतिरिक्त ऐसे प्रशिक्षण शिविरों में आपदा प्रबन्धन,महिला सशक्तिकरण, नशामुक्ति, सड़क सुरक्षा, अत्याधिक मोबाईल प्रयोग की लत से होने वाली हानि, एचआईवी, हैपेटाइटस बी व सी,प्राथमिक चिकित्सा सहायता, समाज में फैल रही कुरीतियों आदि बारे जागरूक किया जाता है। इन प्रशिक्षण शिविरों में भाग ले रहे काउंसलर अध्यापक प्रशिक्षण उपरान्त अपने -अपने विद्यालयों के विद्यार्थियों को इन विषयों बारे जागरूक करेंगे। शिक्षा उपरान्त यही विद्यार्थी उक्त बिन्दुओं पर समाज सुधार बारे काम करेंगे।

उन्होंने बताया कि प्राथमिक चिकित्सा सहायता प्रशिक्षण एक अति महत्वपूर्ण प्रशिक्षण है। इस प्रशिक्षण की प्रत्येक व्यक्ति को जानकारी होनी चाहिए। आपदा व दुर्घटना जैसी घटनाओं के समय ये लोग घायल व्यक्तियों की जान बचा सकते हैं। इसके अतिरिक्त आबदा प्रबन्धन के समय भी अध्यापक एवं बच्चे प्रबन्धन में कैसे स्वयं सेवक के रूप में कार्य करें, इसकी भी जानकारी इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में मिलेगी। प्रशिक्षण शिविर को सम्बोधित करते हुए सामाजिक कार्यकर्ता डा0 बबली देवी ने स्वास्थ्य एवं नशामुक्ति बारे जानकारी देते हुए बताया कि किस प्रकार एक व्यक्ति साफ सफाई एवं जागरूकता से तरह तरह की बीमारियों से बच सकता है। वहीं व्यक्ति नशे से दूर रहकर लोगों में इस बारे जागरूकता फैला सकता है। नशा एक ऐसी बीमारी है जो मानव के शरीर एवं मस्तिष्क को बुरी तरह से प्रभावित करता है। परिणामस्वरूप व्यक्ति की सूझ -बूझ एवं काम करने की काबलियत बुरी तरह से प्रभावित होती है। यह काउंसलर शिविर काउंसलर के माध्यम से नशे से दूर रहने बारे लोगों को जागरूक करेंगे।

जिला प्रशिक्षण अधिकारी सुरेन्द्र श्योराण के बताया कि रैडक्रास सोसायटी का मुख्य उद्देश्य है कि वह प्राथमिक चिकित्सा प्रशिक्षण केअलावा विभिन्न सामाजिक कार्यों बारे भी काउंसलर तैयार करें जो विभिन्न आपदाओं व अन्य कार्यों में लोगों की मदद कर सकें। इस अवसर पर उन्होंने इस प्रशिक्षण में भाग लेने वाले सभी अध्यापकों एवं विद्यार्थियों का स्वागत किया और अपील की कि वे यहां से जो भी प्रशिक्षण लेकर जाएं उसे अपने विद्यार्थियों के साथ जरूर सांझा करें।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close