टुडे न्यूज़ताजा खबरराजनीतिहिसार

मतदान बॉक्स में तकदीर बंद

दिव्यांग मतदाता का विशेष ख्याल

Hisar Today

  •  हिसार जननायक जनता पार्टी उम्मीदवार दुष्यंत चौटाला ने मां नैना चौटाला और पत्नी के साथ किया मतदान 

  •  कांग्रेस प्रत्याशी भव्य ने पिता कुलदीप बिश्नोई के साथ किया मतदान

  •  केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र सिंह, भाजपा प्रत्याशी बृजेन्द्र सिंह ने परिवार समेत किया मतदान

  • हरियाणा में 70.31 फीसदी मतदान 2014 में हुई थी 71.86 फीसदी वोटिंग

  • बर्थडे पार्टी की तरह सजाए गए पिंक बूथ

  • 100 से अधिक वीवी पैट खराब

  • 80 बूथों की हो रही वेब कास्टिंग

अर्चना त्रिपाठी | हिसार
लोकसभा चुनाव में छठे चरण का चुनाव महत्वपूर्ण इसलिए है क्योंकि हरियाणा की सबसे हॉट सीट मनाई जाने वाली हिसार लोकसभा चुनाव में आज बढ़चढ़ कर मतदान किया गया। राज्य के संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी इंद्रजीत सिंह ने कहा कि कोई अप्रिय घटना नहीं हुई सुबह सात बजे से पॉलिंग हो रही है और राज्य में मतदान शांतिपूर्ण रहा, करीब 70.31 फीसदी मतदाताओं ने वोट डाले। हिसार, भिवानी, सिरसा और रोहतक सीटों पर मतदान करने के लिए बूथों पर लोग पहुंच रहे हैं। शहर और गांव में लोग उत्‍सव की तरह चुनाव महायक्ष में आहुति डाल रहे थे। दिन भर कहां क्‍या रहेगी स्थिति, बता दे की हिसार लोकसभा सीट पर अब तक मिली जानकारी के अनुसार 72.16 प्रतिशत मतदान हुआ है।

बर्थडे पार्टी की तरह सजाए गए पिंक बूथ
चुनाव आयोग की तरफ से इस बार नारी सशक्तीकरण करते हुए महिलाओं को बूथ की कमान दी गई है। इसके लिए हर विधानसभा क्षेत्र में पिंक बूथ बनाए गए है। हिसार में एचएयू में अधिकारियों ने पिंक बूथ बनाते हुए उसे लोगों को समर्पित किया है। इन बूथ में महिला कर्मचारी के अलावा माइक्रो आब्जर्वर तक महिलाएं है। पुलिस में भी महिलाओं की ड्यूटी लगाई गई है। इसके अलावा हिसार विधानसभा के अधिकारियों ने एक कदम बढाते हुए रेडक्रॉस स्थित बूथ नंबर 98 को स्मार्ट पोलिंग स्टेशन बनाया गया है। उसमें मतदाता के लिए सेल्फी जोन बनाया गया है। जिसमें मतदाता सेफी लेते नजर आये।

हिसार के बरवाला क्षेत्र स्थित सरसाना गांव में सूना पड़ा पोलिंग बूथ
बता दें कि हिसार लोकसभा सीट पर ही 16 लाख 31 हजार 809 मतदाता हिसार लोकसभा सीट के 26 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे। सुबह सात बजे शुरु हुआ मतदान शाम छह बजे खत्म हुआ। चुनाव को लेकर हिसार लोकसभा क्षेत्र की नौ विधानसभा क्षेत्र में 1751 पोलिंग स्टेशन बनाए गए हैं। इन स्टेशन पर 16 लाख 31 हजार 809 मतदाता अपने मत का प्रयोग किया। चुनाव के दिन सुरक्षा की दृष्टि से भारी पुलिस बल के अलावा अर्ध सैनिक बल को लगाया गया था। इसमें 208 अति संवेदनशील, 218 संवेदनशील और 20 क्रिटिकल बूथ बनाए गए हैं। इन बूथ पर अतिरिक्त फोर्स लगाया गया है। फोर्स के अलावा अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है। हिसार के नारनौंद के गांव राजथल के बूथ 113 पर वोट डालने आई सुनीता देवी वोट नहीं डाल पाई। वोटर लिस्ट में मृत दिखाया हुआ है । इस बात को लेकर काफी देर हंगामा हुआ। इसी तरह अन्‍य कई जगहों पर भी ऐसे मामले सामने आ रहे हैं।

यह प्रत्याशी मैदान में, इन्होंने डाला वोट
भाजपा से बृजेंद्र सिंह, कांग्रेस से भव्य बिश्रोई, सीपीआई (एम) से सुखबीर सिंह, बसपा से सुरेंद्र शर्मा, इनेलो से सुरेश कौथ, बहुजन मुक्ति पार्टी से जयभगवान, भारतीय जनराज पार्टी से दारासिंह, जननायक जनता पार्टी से दुष्यंत चौटाला, राष्ट्रीय भागीदारी समाज पार्टी से पवन फौजी, राष्ट्रीय लोक स्वराज पार्टी से विकास गोदारा, प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) से शशि भारत भूषण, भारत प्रभात पार्टी से संदीप, सपाक्स पार्टी से काका साहिल ठकराल और निर्दलीय प्रत्याशियों के रूप में अनूप महता, आत्मप्रकाश, कुलदीप भुक्कल, दीपक, प्यारेलाल वकील, प्रदीप कुमार, बजरंग वत्स, बिजेंद्र, मांगेराम वर्मा, शमशेर सिंह, सलीम दीन, सुधीर गोदारा व सुमित कुमार मैदान में हैं। इनके अलावा चुनाव में नोटा 27वें प्रत्याशी के रूप में रहा।

इस गांव में किसी ने नहीं डाला एक भी वोट

हरियाणा समेत बाकी जगहों पर लोकसभा चुनाव के छटे चरण में जहां मतदाता पोलिंग के लिए कतार बनाए खड़े हैं। वहीं हिसार के सरसाना गांव में अभी तक एक भी वोट नहीं डला है। पोलिंग पार्टियां मतदाताओं की राह देख रहे हैं। मामला तूल पकड़ता जा रहा है। ग्रामीणों का वोट न करने के पीछे तर्क यह है कि पहले उनका गांव उकलाना विधानसभा में था जिसे वहां से हटाकर नारनौंद विधानसभा में कर दिया गया है। यह उन्हें मंजूर नहीं है।

8398 सर्विस मतदाता लोकसभा में
हिसार लोकसभा सीट की बात करें तो 8398 मतदाता इस सीट पर दूसरी जगह देश की रक्षा के लिए लगे हुए है। इसमें 271 महिला वोटर भी शामिल हैं। उनकी तरफ से अभी तक वोट को भेजा जा रहा है। एक आंकड़ों पर नजर डाले तो करीब एक हजार वोट वापस प्रशासन के पास आ चुके है। इन वोट को गिनने के लिए अलग से एआरओ व टेबल लगाकर काउंटिंग की इजाजत मांगी गई है लेकिन वह अभी नहीं मिली है।

दिव्यांग मतदाता का विशेष ख्याल
बूथ पर आने वाले दिव्यांग मतदाता को लाने के लिए सरकारी अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गयी थी। उनकी मदद के लिए बूथ पर एनएसएस, एनसीसी के वॉलेंटियर्स को लगाया गया था। ख़ास दिव्यांगों को वीलचेयर में बिठाकर मतदान केन्द्रो तक वोट डालने के लिए ले जाय गया।

कितना रहा मतदान (70.31%)
संसदीय क्षेत्र मतदान प्रतिशत
1. अंबाला 71.12%
2. कुरुक्षेत्र 74.38%
3. सिरसा 75.51%
4. हिसार 72.16%
5. करनाल 68.54%
6. सोनीपत 70.72%
7. रोहतक 70.55%
8. भिवानी-महेंद्रगढ़ 69.84%
9. गुरुग्राम 67.37%
10. फरीदाबाद 64.88%

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close