टुडे न्यूज़ताजा खबरराजनीतिराष्ट्रीयहरियाणाहिसार

भव्य जीत के साथ लौटेगा भजन का दौर

कुलदीप बिश्नोई ने जीत के लिए उतारे स्टार प्रचारक, सिद्धु-प्रियंका करेंगे प्रचार

Hisar Today 

हिसार टुडे
यह एक बेटे का आत्मविश्वास है अपने पिता के लिए या यह एक आत्मविश्वास है एक प्रत्याशी का! आप जो भी कहें मगर हिसार लोकसभा चुनाव से कांग्रेस प्रत्याशी भव्य बिश्नोई के इस आत्मविश्वास का हर कोई कायल हो रहा है। एक तरफ राजनीति में पहली बार डेब्यू, दूसरी तरफ मुकाबला दिग्गजों के साथ, उम्र छोटी-सोच बड़ी। इस खूबियों को गिनाने वाले आज यही सोच रहे हैं कि क्या भव्य बिश्नोई जैसे युवा प्रत्याशी के आने से राजनीति में कुछ बदलाव आएगा?
वैसे एक बात तो तय है कि कांग्रेस प्रत्याशी भव्य बिश्नोई के चुनावी मैदान में उतरने से यह चुनाव बड़ा रोचक और दिलचस्प हो गया है। यह चुनाव भव्य बिश्नोई का चुनाव नहीं, बल्कि यह चुनाव है कुलदीप बिश्नोई के लिए प्रतिष्ठा का। कुलदीप बिश्नोई जिसका जीवन राजनीतिक उतार-चढ़ाव के बीच गुजरा, उन्होंने दोस्त भी देखे और दुश्मन भी। उन्होंने हार का स्वाद चखा तो जीत की राह बुलंद भी की। ऐसे में यह चुनाव मात्र भव्य का नहीं बल्कि अप्रत्यक्ष तौर पर कुलदीप बिश्नोई का चुनाव बन गया है। मगर क्या यह चुनाव कांग्रेस पार्टी के अंदर मुख्यमंत्री की दावेदारी को पक्का करेगा? क्या यह चुनाव दुबारा कुलदीप बिश्रोई के राजनीतिक करिअर को चमकाएगा? क्या यह चुनाव कुलदीप बिश्नोई के लिए भजनलाल के समय का सुनहरा दौर लाएगा? यह सवाल इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि यह सवाल इस हिसार लोकसभा चुनाव में कुलदीप बिश्नोई की तकदीर का फैंसला करेगा।
यही कारण है कि आज कुलदीप अपने बेटे भव्य बिश्नोई को जिताने में कोई को-कसर नहीं छोड़ रहे। यही कारण है कि कांग्रेस की हवा और ताकत दिखाने की कोशिश करते हुए कुलदीप ने कांग्रेस पार्टी के सबसे मशहूर और चर्चित चेहरे प्रियंका गांधी को हिसार लोकसभा क्षेत्र में लाने में कामयाबी हासिल कर सभी पार्टियों के दांव को खोखला साबित कर दिया है। तो चलिए जानते है क्या मायने है कुलदीप बिश्नोई और भव्य बिश्नोई के लिए चुनाव जीतने के।

प्रियंका गांधी के हिसार आगमन के साथ बदलेगी भव्य की तकदीर
बता दें कि भव्य बिश्नोई के चुनाव प्रचार में खुद कांग्रेस पार्टी का सबसे चर्चित चेहरा प्रियंका गांधी हिसार लोकसभा चुनाव दस्तक देने वाली है। 7 तारीख को प्रियंका गांधी की हिसार में आयोजित रैली से कांग्रेस को हिसार लोकसभा सीट में बड़ी लोकप्रियता और कांग्रेस की हवा का भव्य को लाभ पहुंच सकता है। बता दंे कि सरलता और सादगी के लिए मशहूर प्रियंका गांधी की रैली का खासा असर हर लोकसभा क्षेत्रों में दिखा है। जो लोग कांग्रेस से भले ही नाराज हों, मगर प्रियंका गांधी का जादू उनके सर चढ़ कर बोलता है। यही कारण है कि कांग्रेस यह उम्मीद लगाकर बैठी है कि प्रियंका का आना उनके लिए “game changer” साबित होगा।

पंजाबी समुदाय में लोकप्रिय सिद्धू करेंगे भव्य का प्रचार
कुलदीप बिश्नोई ने अपनी सोची समझी रणनीति के तहत पंजाबी वोट बैंक को रिझाने की कोशिश की है। बता दंे कि हिसार लोकसभा में बड़ी संख्या में पंजाबी वोटरों की भी निर्णायक भूमिका साबित होगी। यही कारण है कि हर पार्टी इस वोट बैंक में सेंध लगाने का काम कर रही है। ऐसे में कुलदीप बिश्नोई ने बड़ा दांव खेलकर पंजाबी समाज में सबसे लोकप्रिय और चर्चित चेहरे नवजोत सिंह सिद्धू को लाने की भी तैयारी कर ली है। सिद्धू को लाकर वह न केवल पंजाबी वोट बैंक को अपनी तरफ खींचने और वोटों को प्रभावित करने का काम करेंगे, बल्कि भाजपा प्रत्याशी बृजेन्द्र सिंह के लिए मुसीबतें भी खड़ी करेंगे।

भव्य की जीत से कुलदीप बिश्नोई का “सुनहरा दौर” फिर आएगा
बता दें कि भव्य बिश्नोई के जीत ही कुलदीप बिश्नोई के सुनहरे भविष्य का रास्ता तय करेगी। बता दें कि राजनीति में कुलदीप बिश्नोई ने काफी उतार-चढ़ाव देखे, जनता के हक्क में नई पार्टी बनते और बिखरते देखी, मगर कभी हार नहीं मानी। मगर इन कुछ वर्षों में कुलदीप ने एक अलग ताकत से दुबारा राजनीति में अपनी पैंठ बनाने का काम किया। पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी से नजदीकी का उन्हें गहरा फायदा हुआ और उन्होंने अपने बेटे की टिकट लाने में कामयाबी हासिल की। बता दें कि कुलदीप बिश्नोई खुद कांग्रेस पार्टी की तरफ से हरियाणा में मुख्यमंत्री की चेहरे की दौड़ में सबसे आगे हैं। इसलिए वह यह चाहते हैं कि भव्य की जीत के साथ उनका मुख्यमंत्री बनने का ख्वाब सच साबित हो और उनका खोया हुआ सुनहरा दौर फिर से लौट आये। हो सकता है कि भव्य बिश्नोई की जीत के साथ वह भी मुख्यमंत्री का सबसे प्रबल चेहरा बनकर साबित हो।

कांग्रेस को एकजुट करने में कुलदीप सफल
बता दें कि कांग्रेस की सबसे बड़ी समस्या है कांग्रेस के बीच की गुटबाजी। मगर कुलदीप बिश्नोई ने होने बेटे भव्य बिश्नोई के नामांकन में सभी कांग्रेस के दिग्गज और सभी कांग्रेस के नेताओं को एक साथ लाकर यह पहले ही दिखा दिया था कि कुलदीप बिश्नोई में वो काबलियत है कि वह कांग्रेस को एकजुट रखने का साहस रखते हैं। अगर यही एकजुटता रही तो वह भव्य बिश्नोई के लिए फायदेमन्द साबित हो सकती है।

सावित्री जिंदल के आशीर्वाद से भव्य बिश्नोई की जीत तय
बता दें कि जब भी हिसार की बात करंे तो सावित्री जिंदल का वोटबैंक भी बहुत मायने रखता है। सावित्री जिंदल ने हर चुनाव में अपने वोटबैंक के जरिये एक निर्णायक भूमिका साबित करने की कोशिश की है। अगर सावित्री जिंदल का आशीर्वाद और यह आशीर्वाद अगर वोटों में तब्दील होता है तो भी भव्य बिश्नोई को इसका बहुत लाभ हो सकता है।

मैं सांसद बना तो मुख्यमंत्री भी हिसार से होगा : भव्य बिश्नोई
हाल में भव्य बिश्नोई ने एक बड़ा बयान देकर भविष्य की संभावनाओं को जगजाहिर कर दिया है। भव्य आजकल लोगों को यह बता रहे हैं कि अगर वह सांसद बने तो मुख्यमंत्री भी हिसार का होगा अर्थात मुख्यमंत्री भी कुलदीप बिश्नोई होंगे। यह एक बड़ा और चुनाव के दौरान महत्वपूर्ण बयान माना जा रहा है। ऐसे में देखना होगा की इसका कितना लाभ भव्य को चुनाव में होगा।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close