टुडे न्यूज़ताजा खबरराजनीतिहरियाणाहिसार

नलवा विधानसभा क्षेत्र मेरा घर नलवा विधानसभा से लड़ने के लिए तैयार

सुभाष बराला के बेटे के छेड़छाड़ प्रकरण में बराला का किया बचाव

Hisar Today 

  • हिसार लोकसभा चुनाव लड़ने के लिए मुझे और पार्टियों से भी आए ऑफर!

  • सुभाष बराला के बेटे के छेड़छाड़ प्रकरण में बराला का किया बचाव

  • एसिड अटैक और रेप पीड़ितों के सवाल पर सोनाली की चुप्पी

“जीवन की कला को अपने हाथों से साकार किया, मंजिल बड़ी कठिन थी, न थके न साहस छोड़ा। नारी ने ही सभ्यता और संस्कृति का रूप निखारा है, घर हो या राजनीति अपनी प्रतिभा का डंका बजाया है।”

अर्चना त्रिपाठी | हिसार टुडे
“सोनाली फोगाट” भारतीय जनता पार्टी में दशकों से कार्य करने वाली सोनाली फोगाट का सफर जितना मुश्किल रहा, उसने उन्हें जनसेवा में आगे बढ़ाते हुए समाज से प्रति अपनी जिम्मेदारी को निभाने की एक अनोखी शक्ति दी। भारतीय जनता पार्टी में एक मजबूत और दमदार महिला नेता होने के साथ सोनाली फोगाट की पहचान एक अभिनेत्री के तौर पर भी मानी जाती है। कला क्षेत्र में हरियाणा की कला को आगे बढ़ाने में जोशोखरोश के साथ काम करने वाली सोनाली फोगाट के इन कार्यों को देखते हुए हरियाणा की मनोहर लाल खट्टर सरकार ने उन्हें हरियाणा कला परिषद् की क्षेत्रीय निदेशक के तौर पर नियुक्त किया। हालांकि सोनाली फोगाट कला क्षेत्र में कार्यों के अलावा हाल में लोकसभा चुनाव के दौरान भी काफी सुर्खियों में रही। बता दें कि इस बार हिसार लोकसभा क्षेत्र में भारतीय जनता पार्टी हाईकमान हिसार से जाट उम्मीदवार को चुनावी मैदान में उतारने का फैसला कर चुकी थी। परन्तु इस लोकसभा सीट में 3 लोगों की कड़ी टक्कर रही। पहला भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला, चौधरी बीरेंद्र सिंह के बेटे बृजेन्द्र सिंह और सोनाली फोगाट। बराला ने तो पहले ही यहां से चुनाव न लड़ने की घोषणा कर दी थी और पार्टी के कार्यकर्ता और संगठन बृजेन्द्र सिंह के नाम से सहमत नहीं थे। उन्होंने पार्टी हाईकमान को अपना फैसला तक सुना दिया था, मगर बावजूद इतने विरोध के माना जाता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह के सीधे संपर्क और पहुंच के दम पर बीरेंद्र सिंह ने वंशवाद बरकरार रखकर बृजेन्द्र सिंह के लिए टिकट ले आये। मगर इन धुरंदरों के बीच अपनी छाप छोड़कर सोनाली फोगाट ने दिखा दिया कि राजनीति के क्षेत्र में औरतें कभी पीछे नहीं रही। कॉफी विद हिसार टुडे में आज सोनाली फोगाट ने हमारे तीखे प्रश्नों का सामना किया, मगर वह कौन से सवाल थे जिसपर सोनाली फोगाट की बोलती बंद हो गई आइये जानते हैं।

भाजपा में महिलाओं के लिए आगे बढ़ने के हैं सामान अवसर
हरियाणा के संगठन ने मेरी काबलियत को देखते हुए हिसार लोकसभा सीट से मेरा नाम प्रस्तावित किया था, मुझे उस बात की ख़ुशी है। मेरे साथ कई लोगों के नाम चर्चा में थे, मगर टिकट तो किसी एक को मिलती है। इसलिए मुझे ख़ुशी है पार्टी हाई कमान ने बृजेन्द्र सिंह को यह जिम्मेदारी दी, मुझे लगता है पार्टी का जो भी फैसला है ठीक है। हालांकि एक महिला होने के नाते मुझे नहीं लगता कि पार्टी ने मुझे नजरअंदाज किया। क्योंकि हमारी पार्टी ने हमेशा महिलाओं का बड़ा मान-सम्मान किया है। मुझे उम्मीद है पार्टी ने जो मेरे लिए सोच रखा है उस जगह पर पार्टी मुझे जरूर बिठाएगी।

बृजेन्द्र सिंह सुलझे हुए और समझदार इंसान
इस बार हिसार लोकसभा में हम बृजेन्द्र सिंह का कला के माध्यम से चुनाव प्रचार करेंगे। वैसे बृजेन्द्र सिंह सुलझे और समझदार व्यवक्तित्व के हैं। वो एक बेहतरीन सांसद साबित होंगे हमारे एवं हिसार के लिए। मुझे पूरा विश्वास है कि भाजपा ने चारो तरफ हिसार का जो विकास किया है उसके दम पर इस बार हमारी जीत सुनिश्चित है, जबकि भजनलाल के परिवार जब सत्ता में था, आज माजूदा सांसद दुष्यंत है, मगर उन्होंने उतना विकास नहीं किया जितना विकास हिसार में भाजपा ने कर दिखाया

नलवा विधानसभा क्षेत्र मेरा घर नलवा विधानसभा से लड़ने के लिए तैयार
मैंने 10-12 साल पहले भारतीय जनता पार्टी में काम करने की शुरुवात की। उस समय में जब पार्टी इतनी ऊंचाई में नहीं थी, फिर भी हमारी पार्टी ने मेहनत से काम किया और हमने काम करते हुए अपने वरिष्ठों से बहुत कुछ सीखा भी है। आज अगर मुझे लोकसभा का टिकट नहीं मिला तो मुझे लगता है कि मुझसे भी कोई काबिल उम्मीदवार है जिसे यह टिकट दिया गया। लोकसभा न सही मुझे उम्मीद है आने वाले विधानसभा चुनाव में भी मुझे मौका मिलेगा। जब बृजेन्द्र सिंह के नाम की घोषणा हुयी उसके बाद मुझे कई पार्टियों से लोकसभा चुनाव लड़ने का प्रस्ताव आया था। मगर मैं भाजपा की कट्टर कार्यकर्ता हूं हम टिकट के लालच में नहीं रहते बल्कि जनसेवा ही हमारा मुख्य ध्येय रहा है। इसलिए मैंने सभी प्रस्ताव ठुकरा दिए क्योंकि मैं भाजपा में ही काम करना चाहती हूं।

सुभाष बराला के बेटे के छेड़छाड़ के प्रकरण में बराला ने बेटे का नहीं लड़की का दिया साथ
5 साल में महिला शोषण और अत्याचार की वाह वाही करने वाले सोनाली फोगाट से जब हिसार टुडे ने सवाल किया कि जब आपके ही पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला के बेटे ने लड़की से छेड़छाड़ की, तब आपने इस्तीफा क्यों नहीं मांगा? जवाब में सोनाली फोगाट ने सुभाष बराला का पक्ष लेते हुए कहा कि बराला और मुख्यमंत्री ने लड़के का नहीं, बल्कि लड़की का साथ दिया और उसको न्याय दिलाने का काम किया। वैसे अगर पार्टी को सुभाष बराला के मामले में कुछ लगता तो इस्तीफा मांगते, मगर हम इस्तीफा नहीं मांग सकते थे क्योंकि यह पार्टी संगठन का मामला था इस मामले में हाईकमान को फैसला लेना था। हम फैसला नहीं ले सकते थे, न मांग कर सकते थे। ऐसा कहकर उन्होंने इस मुद्दे से अपना पलड़ा झाड़ने की कोशिश की।

भाजपा सरकार ने ही हरियाणा के कलाकारों को दिया मान-सम्मान
मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने मुझे हरियाणा कला परिषद् की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी देकर मुझे हिसार जोन का डायरेक्टर बनाया है। इस महत्वपूर्ण जिम्मेदारी आने के बाद हम उसे बखूबी निभाने का काम करते हुए हरियाणा की कला संस्कृति को बढ़ावा देने का काम कर रहे हैं। इसी फेहरिस्त में भाजपा ने हरियाणा के कलाकारों का मान-सम्मान देने का काम किया, जो अब तक की पूर्व की सरकार देने में विफल रही है। कला परिषद् क्षेत्रीय निदेशक की जिम्मेदारी संभालने के बाद मैंने व्यवक्तिगत तौर पर कलाकारों को आगे लाने का काम किया है। हाल में हमारी मुलाकात फेमिना मिस इंडिया के टीम से हुई है वह हरियाणा सरकार का सहयोग चाहते हैं। वह फैशन शो का इवेंट करने के लिए इच्छुक है। जल्द हम उनके साथ फेमिना मिस इंडिया इवेंट करने जा रहे हैं।

कलाकार बनने की चाह रखने वाले बच्चों के लिए बनेगी हर शहर में वर्कशॉप
हमारे हरियाणा में ग्रामीण और गरीब घरों से ताल्लुक रखने वाले ऐसे कलाकार हैं जो आर्थिक तंगी के कारण अपनी कला को मंच नहीं दे पाते और अपनी कला का गला घोंट देते हैं। मगर हमारी सरकार ने जो मुझे जिम्मेदारी दी है, उसके तहत गरीब बच्चे जो कलाकार बनाना चाहते हैं उन्हें मंच और प्रशिक्षण देने के लिए हमने यह फैसला लिया है कि हर शहर में वर्कशॉप स्थापित करेंगे। ताकि हरियाणा की संस्कृति से सभी रूबरू हो सके। जो बच्चा आर्टिस्ट बनाना चाहता है उस बच्चे के सभी सपने पुरे हों। यही कारण है की इस दिशा में गंभीरता से लेते हुए हम कई कार्यक्रमों का भी आयोजन करने जा रहे हैं।

विकास गोदारा जैसे युवाओं की राजनीति में जरुरत, मेरी शुभकामनाएं उनके साथ: सोनाली फोगाट
विकास गोदारा ने विधानसभा चुनाव में पार्टी को सहयोग किया था, पार्टी के लिए उन्होंने काम किया था। कई अच्छे कार्यों के लिए वो मुझ से मिले। अगर वह समाज में अच्छा काम करना चाहते हैं तो ऐसे युवा को राजनीति में जरूर आना चाहिए। मेरी शुभकामनाये उनके साथ है।

हरियाणा के कलाकारों को बॉलीवुड में मिल रही पहचान
हरियाणा के कलाकारों का डंका इन दिनों बॉलीवुड में सर चढ़ कर बोल रहा है। बॉलीवुड में हमारी बोली का चलन और हमारे लोगों का प्रभाव भी वहां बहुत ज्यादा हो गया है। हाल में मैंने एक फिल्म का ऑडिशन हिसार में करवाया। ऑडिशन के बाद फिल्म निर्देशक और निर्माता ने कहा कि अन्य क्षेत्रों की तुलना में हिसार में बेहतरीन कलाकार है।

नलवा विधानसभा मेरा घर, चुनाव जरूर लड़ूंगी
नलवा में मेरा गांव पड़ता है हरिता। वहां हमने बहुत ज्यादा विकास और अच्छा काम है। इतना ही नहीं नलवा विधानसभा क्षेत्र में विकास के दृष्टिकोण से मैंने कई कार्य करवाए, शोषित और पीड़ितों से मिली, बच्चों के शिक्षा जैसे कई काम करवाए। वहां की जनता मुझे बहुत प्रेम और स्नेह करती है। मैं नलवा विधानसभा से जरूर चुनाव लड़ूंगी।

नैना चौटाला के आरोप गलत, पिछली सरकार में थे अधिक महिला अपराध
मौजूदा सांसद दुष्यंत चौटाला की मां नैना चौटाला आरोप लगाया था कि भाजपा के राज में महिला शोषण और बलात्कार की घटना अधिक हुयी है, इसी बात का खंडन करते हुए सोनाली फोगाट ने कहा कि यह विपक्ष केवल वोट पाने के लिए ही यह आरोप लगा रहा है। पिछली सरकार के दौर में महिलाओं के बहुत आपराधिक मामले आते थे, मगर मनोहर लाल खट्टर सरकार के राज में यह घटनाएं कम हुयी है। आपको बता दूं कि महिलाओं पर अपराध और बलात्कार का मुख्य कारण लड़का-लड़की लिंगानुपात में असमानता। इसलिए हमारी सरकार ने “बेटी बचाओ -बेटी पढ़ाओ” के माध्यम से इस मूल जड़ को ही उखाड़ फेंका है, इतना ही नहीं महिला निडर होकर अपनी शिकायतें दर्ज करवा पाए इसलिए महिला थाना, महिला कांस्टेबल, दुर्गा शक्ति ऐप जैसे कमिया दूर की।

https://youtu.be/jet5xqaxNgU

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close