टुडे न्यूज़ताजा खबरहिसार

दुष्यंत पर उंगली उठाने से पहले कुलदीप-रेणुका के कार्यकाल पर नजर डाले भव्य-बिश्नोई

Hisar Today 

जेजेपी के प्रदेश प्रवक्ता एडवोकेट मनदीप बिश्नोई ने कांग्रेसी प्रत्याशी के बयान पर टिप्पणी करते हुए सांसद दुष्यंत चौटाला के कार्यकाल के दौरान उनके द्वारा करवाए गए कार्यों पर उंगली उठाने से पहले कांग्रेस प्रत्याशी पहले अपने पिता कुलदीप बिश्नोई व विधायक रेणुका बिश्नोई के पिछले 10 साल तक के कार्यकाल पर नजर डालें कि उन्होंने जनता के लिए कितनी बार और कहां-कहां आवाज उठाई। वे कुलदीप बिश्नोई और रेणुका बिश्नोई के कार्यों का विवरण जनता के सामने क्यों नहीं रख रहे हैं। उन्होंने कहा कि भव्य बिश्नोई पहले अच्छे से तथ्यों का अध्ययन करें और इसके बाद मीडिया में कोई बयानबाजी करें। आधी-अधूरी जानकारी वाले बयान मीडिया में देना न केवल उपहास का विषय बनती है बल्कि यह भव्य बिश्नोई को तथ्यों की जानकारी न होने, विषयों के प्रति गंभीरता न होने का स्पष्ट प्रमाण भी है इसलिए तथ्यों का अध्ययन करने के बाद ही भव्य को किसी पर टिप्पणी करनी चाहिए न कि आधी-अधूरी जानकारी के साथ।

मनदीप बिश् नोई ने भव्य द्वारा हिसार के टोल प्लाजा को लेकर दुष्यंत पर दिए गए बयान को लेकर बताया कि न केवल दुष्यंत चौटाला ने टोल-प्लाजा का मुद्दा दो बार लोकसभा के पटल पर उठाया बल्कि इस संबंध में केंद्रीय सड़क व परिहन मंत्री नितिन गडकरी से भी मिले।  टोल प्लाजा को लेकर दुष्यंत ने जब मुद्दा उठाया तो भाजपा सरकार की संासे फूल गई और सरकार ने आनन-फानन में नगर परिषद से टोल-प्लाजा के स्थापित होने की 10 किलोमीटर के सीमा को संशोधित नियम के माध्यम से घटा कर पांच से अढ़ाई किलोमीटर तक सीमित कर दिया। चाहे तो भव्य बिश् नोई लोकसभा का रिकार्ड खंगाल सकते हैं। इस मुद्दे को भी दुष्यंत ने केंद्रीय मंत्री निनित गडकरी के समक्ष रखा था। उन्होंने कहा कि आज भी टोल-प्लाजा का मुद्दा अदालत में विचाराधीन है और इसके निर्णय के इंतजार में है। 

प्रदेश प्रवक्ता ने संसदीय कोष की राशि दुष्यंत द्वारा हिसार लोकसभा में खर्च करने पर कुलदीप बिश्नोई द्वारा दिए गए विरोधी बयान पर भी कड़ी आपत्ति जताई। उन्होंने कहा कि जनता का पैसा जनता के लिए खर्च हो जाता है तो कांग्रेसी नेता कुलदीप बिश् नोई को इसमें परेशानी क्यों हो रही है। उन्होंने कहा कि जनता के लिए आया पैसा और हिसार लोकसभा क्षेत्र में खर्च होता है तो कुलदीप बिश् नोई को इसका स्वागत करना चाहिए चाहे इस राशि को कोई खर्च करे। कुलदीप बिश्नोई द्वारा उनके संसदीय काल की तीन करोड़ रूपये की राशि को दुष्यंत चौटाला खर्च करने के बयान को झूठा बताना, उनकी छोटी सोच का परिचायक हैजबकि यह रिकार्ड का मामला है। 

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close