टुडे न्यूज़राजनीति

चार साल में हिसार म्ह एक ईंट तक नहीं लगाई बीरेन्द्र नै : कुलदीप

हिसार के 25 गामां का नाम भी कोनी बता पावैगा बीरेन्द्र का छोरा : कुलदीप

टुडे न्यूज | हिसार
पाछले 15 सालां तै सैंटर अर स्टेट म्ह मंत्री होते हुए भी बीरेन्द्र सिंह म्हारे हिसार म्ह विकास की एक ईंट तक ना लगा पाए। सत्ता में बड़े-बड़े पदों पर रहते हुए भी एक बड़ा कारखाना तक मेरे हिसार में नहीं ल्या पाए। इब उरै यें किस बात के वोट मांगै सैं। ये लोग बाहरी हैं, वोट लेण कै बाद ये उरै दिखैं भी कोनी। बीरेन्द्र के छोरे नै ना तो म्हारे हिसार के गामां का बेरा, ना गामां के लोगां का बेरा, अर ना गामां की समस्याओं का बेरा। एयरकंडीशन म्ह बेठण आले किस तरियां हिसार के काम करैंगे? बृजेन्द्र सिंह को हिसार लोकसभा के 25 गामां के नामां का भी कोनी बेरा पावै, फेर भी ये उरै वोट मांगण आगे। कुछ इसी तरह ठेस हरियाणवी लहजे में कुलदीप बिश्नोई ने वीरवार को आदमपुर व नलवा हलके के गांव झीड़ी, ठसका, न्यौलीकलां, मात्रश्याम, मिंगनीखेड़ा, सलेमगढ़, काबरेल, खारिया, किरतान, सीसवाला, भिवानी रोहिल्ला, सुंडावास, डोभी, बालसमंद, चंदन नगर में ग्रामीण सभाओं के दौरान भाजपा नेताओं पर कटाक्ष किया। इस दौरान भव्य बिश्नोई ने भी उनके साथ ग्रामीणों से कांग्रेस के पक्ष में मतदान व अपने-पराए की पहचान करके कुलदीप को मजबूती देने का आह्वान किया। गांवों में पहुंचने फूल मालाओं, मोटरसाईकिलों के काफिलों, मिठाईयों से उनका जोरदार स्वागत हुआ।
कुलदीप बिश्नोई ने कहा कि चौ. भजनलाल ने अपने शासनकाल में हिसार लोकसभा क्षेत्र को विकास की बुलंदियों तक पहुंचाया और यहां के बड़ी संख्या में युवा के युवाओं को योग्यता के आधार पर रोजगार दिया। कॉलेज, यूनिवर्सिटियों, नहरों, रजबाहों से लेकर स्कूलों, अस्पतालों का जाल उन्होंने अपने शासनकाल में बिछाया। उन्हीं के स्वर्णिम को वापिस लाने के लिए वे ईमानदारी से संघर्ष कर रहे हैं।
हिसार से बाहर के लोग यहां का भला कभी भी नहीं कर सकते। चाहे चौटाला परिवार हो या फिर बीरेन्द्र सिंह हिसार के हितैषी नहीं हो सकते। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार की नीतियों की वजह से जहां एक ओर किसान भारी मुसीबतों का सामना कर रहे हैं, वहीं एक बार फिर मौसम की मार ने किसानों के अरमानों पर पानी फेर दिया है। हिसार सहित प्रदेश के कई क्षेत्रों में ओलावृष्टि, बारिश व तूफान ने खेतों में खड़ी गेहूँ की फसल को पूरी तरह बर्बाद कर दिया है, वहीं मंडियों में खुले में पड़ी सरसों व गेहूँ को भी बर्बाद कर दिया है। उन्होंने पहले ही सरकार को चेताया था कि जल्द से जल्द मंडियों में किसानों की फसल का उठान करे, क्योंकि मंडियों में फसलों के लिए शैड आदि के पर्याप्त संसाधन किसानों के लिए उपलब्ध नहीं है, लेकिन असंवेदनशील खट्टर सरकार को प्रदेश के किसान व आढ़तियों की फिक्र नहीं है। उन्होंने प्रदेश सरकार से तुंरत गिरदावरी करवाकर प्रभावित किसानों को उनके नुकसान के आधार पर पर्याप्त मुआवजा राशी दिए जाने की मांग की।
भव्य ने चुनावी सभाओं को संबोधित करते हुए कहा कि उन्होंने क्षेत्र के चहुंमुखी विकास के लिए हिसार को राजधानी के रूप में विकसित करने का प्रस्ताव दिया है। अगर लोगों ने उनको आशीर्वाद दिया तो वे इसके लिए संघर्ष करेंगे, क्योंकि अगर एसवाईएल के पानी के बदले में हमें चंडीगढ़ पंजाब को देना पड़े तो हिसार को हरियाणा की राजधानी के रूप में विकसित कर सकते हैं, जिससे आसपास के जिलों के लोगों को भी फायदा होगा। यहां रोजगार बढ़ेंगे, हिसार के विकास को पंख लेंगे। उन्होंने कहा कि केन्द्र व प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने पर वे आम जनमानस के सहयोग से इस दिशा में गंभीरता से प्रयास करेंगे। इस दौरान ओमप्रकाश गवर्नर, रणधीर सिंह पनिहार, विक्रांत देवीलाल, जयवीर गिल, निहाल सिंह मताना, धर्मबीर गोयत, राजाराम खिचड़, मान सिंह चेयरमैन, राजेश काबरेल, दलबीर सलेमगढ़, बलवान कोहली, सुरेश मात्रश्याम, फूल कुमार मात्रश्याम, महावीर गावडिय़ा आदि उपस्थित थे।
चित्र परिचय: आदमपुर में कुलदीप व भव्य बिश्नोई।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close