टुडे न्यूज़ताजा खबरसिरसाहरियाणाहिसार

कुलदीप पर सुभाष बराला का कटाक्ष “हरियाणा को अपनी बपौती मानते हैं, लोगों को पता है किसने किया विकास”

महागठबंधन के इंतजार में तिनके की तरह बिखरा विपक्ष

पिता-पुत्र (भूपेंद्र हुड्डा-दीपेंद्र हुड्डा) ने मान ली है हार
कांग्रेस में हार का डर 10 सीटों पर जीतेगी भाजपा
अर्चना त्रिपाठी | हिसार टुडे
हिसार सबसे हॉट सीट है इस बात का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि बार-बार प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला लगातार हिसार के दौरे पर है। वह पार्टी में दूसरे दलों के कार्यकर्ताओं को ज्वाइन करवा रहे हैं। हाल में सुभाष बराला से हिसार टुडे ने खास मुलाकात में हिसार सीट पर जीत के दावे के साथ पूर्व मुख़्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा को घेरने की सीधी कोशिश करते हुए कहा कि पिता-पुत्र ने अपनी हार मान ली है।
इतना ही नहीं सुभाष बराला ने जजपा और आप गठबंधन पर भी कटाक्ष किया। इतना ही नहीं उन्होंने कुलदीप बिश्नोई पर सीधा निशाना साधते हुए कहा कि इन लोगों ने हरियाणा को अपनी बपौती समझ रखी थी, मगर यह बच्चा जनता है कि विकास किसने किया। आइये चलते हैं क्या कहा सुभाष बराला ने।

कुलदीप पर बराला का वार “हरियाणा को कुछ लोग बपौती लेकर चलते है”

सुभाष बराला ने हिसार टुडे से खास मुलाकात में कुलदीप बिश्नोई और भजनलाल परिवार पर सीधा प्रहार करते हुए कहा कि कुछ लोग देश और हरियाणा को अपनी बपौती लेकर चलते है। जबकि हरियाणा का बच्चा-बच्चा जनता है कि विकास किसने किया और पारदर्शी व्यवस्था किसने लायी। बराला ने कहा कि याद करो कि भ्रष्टाचार का जनक कौन था और उसे खत्म किसने किया, दलबदल की राजनीति हरियाणा में कौन लाया और उसपर किसने लगाम लगाई?

भूपेन्द्र सिंह हुड्‌डा व दीपेन्द्र पिता- पुत्र चुनाव के पहले मान चुके हैं हार

बता दें कि इस बार सोनीपत से पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा और रोहतक सीट से दीपेंद्र हुड्डा अपना भाग्य आजमा रहे हैं। इन दोनों पिता-पुत्र की जोड़ी पर सुभाष बराला ने कहा कि इन दोनों में हार का डर और बेचैनी साफ दिखाई दे रही है। बराला ने कहा कि हुड्डा कहते है कि भाजपा अन्य दलों से मिली हुयी है। जिसका अर्थ साफ है कि डर दिखाई दे रहा है। इस पिता पुत्र की जोड़ी ने चुनाव से पहले ही अपनी हार मान ली है। क्यूंकि इन दिनों दीपेंद्र भी यही कह रहे हैं कि उनको हारने की भाजपा चक्रव्यूह रच रहा है।

हार से डरी हुई है कांग्रेस

सुभाष बराला ने कहा कि काफी समय से कांग्रेस इस इंतज़ार में थी कि कौन उनकी पार्टी में आ रहा है, गठबंधन होगा या नहीं। आज नौबत यह आयी की उनको हार का इतना डर था कि जो भूपेंद्र हुड्डा चुनाव लड़ने को तैयार नहीं थे उन्हें चुनावी मैदान में उतारा गया। नवीन जिंदल हार के डर से भाग गए और नागर का िटकट काटकर अवतार भड़ाना को दे दिया गया। इसका मतलब सााफ है कि कोंग्रस हार से बहुत डरी हुई है।
सुभाष बराला ने कांग्रेस पर प्रहार करते हुए कहा कि आज “कांग्रेस बुरी तरह से डर गई है”और उसकी बेचैनी से ही सब दिखाई दे रहा है। उन्होंने महागठबंधन का मुद्दा उठाते हुए कहा कि “ममता बनर्जी ने महागठबंधन बनाने का प्रयास किया, सभी को वह एक मंच में ले आई, मगर हरियाणा में यह सभी लोग एक मंच में आने के पहले ही तिनके की तरह बिखर गए।
बराला ने अरविन्द केजरीवाल के उस वक्त की याद दिलाते हुए कहा की अरविन्द केजरीवाल ने पहले ही कह दिया था कि महागठबंधन नहीं होता तो 10 लोकसभा सीट भाजपा जीत जायेगी और यही डर बता रहा है कि भाजपा जीत रही है।

बृजेन्द्र सिंह की जीत पक्की

सुभाष बराला ने कहा कि 2014 के मुकाबले वह इस बार हरियाणा में 100% सीट जीत कर लाएंगे। उन्होंने कहा कि इस बार हरियाणा में अभूतपूर्व लहर चल रही है। इसी को देखते हुए इस बार बृजेन्द्र सिंह की 100% जीत निश्चित है।
Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close