खेलकूदटुडे न्यूज़

सरफराज ‘कन्फ्यूज’ थे, पाकिस्तान के पास प्लान नहीं था: सचिन तेंडुलकर

भारत ने डकवर्थ लुईस नियम के आधार पर पाकिस्तान को 89 रन से हराया।

हिसार टुडे  | मैनचेस्टर

चैंपियन बल्लेबाज सचिन तेंडुलकर का मानना है कि पाकिस्तानी कप्तान सरफराज खान भारत के खिलाफ वर्ल्ड कप मुकाबले में ‘कन्फ्यूज’ थे और उनकी टीम के पास कोई सोच नहीं दिखी। भारत ने डकवर्थ लुईस नियम के आधार पर पाकिस्तान को 89 रन से हराया। मैच के बाद एक टीवी इंटरव्यू में तेंडुलकर ने मुकाबले पर बात की।

मास्टर ब्लास्टर ने कहा,‘मुझे लगा कि सरफराज कन्फ्यूज थे क्योंकि जब वहाब रियाज गेंदबाजी कर रहे थे तो उन्होंने शार्ट मिडविकेट लगाया था। इसके बाद जब शादाब खान आए तो उन्होंने स्लिप में एक फील्डर लगाया।’ उन्होंने कहा,‘ऐसे हालात में लेग स्पिनर के लिए गेंद पर पकड़ बनाना मुश्किल होता है, खासकर जब सही लैंग्थ और लाइन नहीं हो। यह बड़े मैच में खेलने का सही तरीका नहीं है। उनके पास सोच का बिल्कुल अभाव दिखा।’

रोहित शर्मा ने पाकिस्तान के खिलाफ हाई वोल्टेज मैच में 113 बॉल में 140 रन ठोके। उनके करियर की यह 24वीं, पाकिस्तान के खिलाफ दूसरी और वर्ल्ड कप में तीसरी सेंचुरी रही। इस पारी के साथ रोहित ने कुछ खास रेकॉर्ड्स अपने नाम किए। देखिए
शिखर धवन की जगह उतरे लोकेश राहुल ने पहले विकेट के लिए 136 रन जोड़े। राहुल ने रोहित के साथ जिस तरह इनिंग्स बढ़ाई उससे शिखर की कमी नहीं खली। दोनों ने पाकिस्तान के खिलाफ भारत की ओर से वर्ल्ड कप में पहले विकेट के लिए सबसे बड़ी पार्टनरशिप की। पिछली सबसे बड़ी पार्टनरशिप 90 रन की थी जो नवजोत सिंह सिद्धू और सचिन तेंडुलकर के बीच 1996 में हुई थी।
पाकिस्तान के खिलाफ रोहित का यह लगातार दूसरा वनडे शतक है और वो ऐसा करने वाले भारत के पहले खिलाड़ी हैं। पिछले साल 23 सितंबर को मुंबई के इस बल्लेबाज ने दुबई में पाकिस्तान के खिलाफ नॉटआउट 111 रन बनाए थे। मैनचेस्टर में रोहित ने केवल 85 बॉल में सेंचुरी पूरी की जो वर्ल्ड कप में भारत की ओर से संयुक्त रूप से चौथी सबसे तेज सेंचुरी है। सबसे तेज सेंचुरी का भारतीय रेकॉर्ड वीरेंद्र सहवाग के नाम हैं जिन्होंने 81 बॉल में बरमुडा के खिलाफ 2007 के वर्ल्ड कप में शतक जड़ा था।

रोहित दूसरे ऐसे भारतीय खिलाड़ी बने जिन्होंने वर्ल्ड कप के मैच में पाकिस्तान के खिलाफ सेंचुरी ठोकी। वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के खिलाफ सेंचुरी जड़ने वाले पहले खिलाड़ी विराट कोहली थे जिन्होंने 2015 के वर्ल्ड कप में एडिलेड में 107 रन की पारी खेली थी। रोहित ने पारी में 140 रन बनाए। इस तरह वह विराट से आगे निकल गए।

203 वीं वनडे पारी में रोहित ने 24वीं सेंचुरी बनाई। सबसे कम 142 वनडे पारियों में 24 सेंचुरी पूरी करने का रेकॉर्ड साउथ अफ्रीका के हाशिम आमला के नाम है। इस मामले में विराट कोहली (161) दूसरे और साउथ अफ्रीका के एबी डिविलियर्स (192) तीसरे नंबर पर हैं।

15वीं बार वनडे मैचों में रोहित ने 125 या इससे ज्यादा रन का स्कोर बनाया। वनडे मैचों में सबसे ज्यादा 19 बार 125 या इससे ज्यादा रन का स्कोर सचिन तेंडुलकर ने बनाया है। इस मामले में रोहित दूसरे और विराट कोहली (13) तीसरे नंबर पर हैं।
पारी के दौरान रोहित ने इंग्लैंड की धरती पर 1000 वनडे रन पूरे किए। उन्होंने 18 मैचों में 1006 रन बनाए हैं जिसमें 4 सेंचुरी और 6 हाफ सेंचुरी शामिल हैं। वह राहुल द्रविड़ (1238), शिखर धवन (1101), सचिन तेंडुलकर (1051), विराट कोहली (1044) और सौरव गांगुली (1034) के बाद छठे भारतीय बल्लेबाज हैं जिन्होंने इंग्लैंड की धरती पर 1000 वनडे रन पूरे किए। रोहित ने 1000 रन का आंकड़ा 18वीं पारी में छुआ और शिखर धवन का रेकॉर्ड तोड़ा जिन्होंने 19वीं पारी में 1000 रन पूरे किए थे।

तेंडुलकर ने कहा कि पाकिस्तान का कोई गेंदबाज हालात का फायदा नहीं उठा सका और उन्हें कभी नहीं लगा कि भारत के विकेट विरोधी टीम की रणनीति की वजह से गिरे। उन्होंने कहा,‘ गेंद को अगर मूवमेंट नहीं मिल रही थी तो आप ओवर द विकेट गेंदबाजी जारी नहीं रख सकते। वहाब ने विकेट के इर्द गिर्द गेंद डालने की कोशिश की लेकिन तब तक बहुत देर हो चुका थी।’

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close