खेलकूदटुडे न्यूज़हरियाणा

अंडर 19 “नेशनल हैण्डबॉल चैंपियनशिप” में हरियाणा ने लगातार 9 वीं बार गोल्ड जीतकर रचा इतिहास

Hisar Today

हरियाणा हैंडबॉल खिलाड़ियों ने एक नया इतिहास रचते हुए लगातार 9 वीं बार “जूनियर नेशनल हैण्डबॉल चैंपियनशिप” की ट्रॉफी अपने नाम करते हुए हरियाणा का नाम रोशन किया। हिमाचल में संपन्न अंडर 19 “जूनियर नेशनल हैण्डबॉल चैंपियनशिप” में  इस बार उनका मुकाबला भारत के तमाम राज्यों से आये 28 टीमों के साथ रहा। इन टीमों में हरियाणा को कड़ी टक्कर देने के लिए साई (स्पोर्ट्स एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया), पंजाब, दिल्ली, हिमाचल, उत्तरप्रदेश, गुजरात, केरल और महाराष्ट्र जैसी टीमों ने हिस्सा लिया था।आसाम, पंजाब , झारखण्ड और दिल्ली को करारे मात देकर हरियाणा हैंडबॉल टीम ने गोल्ड अपने नाम किया। हालाँकि बरसात के कारण हिमाचल के साथ उनका कड़ा मुकाबला नहीं हो पाया और दोनों ही टीम को संयुक्त रूप से प्रथम पुरस्कार प्रदान किया गया।  

मैदान में हिमाचल की टीम को न हरा पाने का मलाल हैंडबॉल के कोच के साथ हरियाणा के हैंडबॉल खिलाड़ियों को भी रहा। हिसार टुडे से ख़ास बातचीत में ऑल इंडिया बेस्ट प्लेयर के पुरस्कार से सम्मानित “मोनिका नैन” ने कहा कि हमारी तैयारी बहुत अच्छी थी। हमें पूरा यकीन था कि हम 9 वी बार हिमांचल को हराएंगे , मगर ऐसा हो नहीं पाया।  बारिश के कारण हम मैदान पर उन्हें हरा नहीं पाए।

 गौरतलब हैं कि 18 से 22 सितंबर तक चले इस अंडर 19 “जूनियर नेशनल हैण्डबॉल चैंपियनशिप” में पहले चरण में खिलाड़ियों का शारीरिक फिटनेस को जांचने के बाद, दूसरे चरण में  4 से 16 तारीख तक ट्रेनिंग कैंप हिसार में किया गया था। इस बार हरियाणा की हैण्डबॉल टीम में कुल ७ अंतराष्ट्रीय खिलाड़ी भी टीम का हिस्सा बने थे। जिसमें शामिल है सोनिका, आशा , काजल , मोनिका, ममता, कोमल और खुशबु। यह वही खिलाड़ी है जिन्होंने पिछले चैंपियनशिप में हरियाणा को स्वर्ण दिलाने में कारगर भूमिका अदा कि थी। 

हर मैच को हमारी टीम ने गंभीरता से खेला इसलिए गोल्ड हमारे नाम हुआ :राकेश सोलंखी :(अंतराष्ट्रीय हैण्डबॉल कोच और भारतीय खेल प्राधिकरण विभाग के प्रमुख)

आज हमें अपनी मेहनत का ही फल मिला हैं। मुझे बड़ी ख़ुशी है कि हमारी गर्ल हैंडबॉल टीम ने इतिहास रचते हुए 9 वी बार गोल्ड अपने नाम किया। इस बार हमारी टीम को हमने इस चैंपियनशिप के लिए काफी तैयार किया था। हमने डिफेंस ,अटैक की अलग रणनीति बनाई थी। हमारी टीम ने हर मैच को बेहद गंभीर लेके खेला इसलिए जीत मुमकिन हो पाई।  मगर अफ़सोस है कि बरसात के कारण हिमाचल कि टीम को मैदान में हारने का मौका नहीं मिला।

टीम ने श्रेष्ठ प्रदर्शन कर हरियाणा का नाम रोशन किया : अनूप कासवान : हैंडबॉल कोच , हरियाणा खेल विभाग 

ये जित हमारे लिए बहुत बड़ी जीत हैं। 9 बार गोल्ड जितना एक इतिहास हैं। हमारी अंडर 19 जूनियर (महिला) टीम ने बड़ी मेहनत करके हर मुकाबला खेला और जीत अपने नाम दर्ज करवाई। मोनिका नैन समेत कई खिलाड़ियों ने अपना श्रेष्ट प्रदर्शन कर हरियाणा का नाम रोशन किया।

मोनिका नैन : ऑल इंडिया बेस्ट हैंडबॉल खिलाड़ी , हरियाणा  

मुझे ख़ुशी हैं कि जितना हमारे कोच ने हमें ट्रेनिंग दी हम उनकी आशाओं पर खरे उतरे। हिसार कैंप का हमें बहुत फायदा हुआ। नई तकनीक हमें सीखने को मिली। मेरे लिए मेरे प्रेरणा स्त्रोत हमारे कोच के साथ रितु दीदी और अनुमित हैं , जिन्हे मैं बचपन से हैंडबॉल खेले देखा करती थी।  उन्ही को देखकर मैं बड़ी हुई और आज हरियाणा के लिए 9 वी बार गोल्ड लाई। मेरा लक्ष्य है आगे चलकर रेलवे कि टीम से एशियाई खेलो में गोल्ड जितना।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close