सिरसा

वीडियो प्रोजेक्टर पर डॉक्यूमैंट्री दिखा कर नशा मुक्तिी के बारे में ग्रामीणों को किया जागरुक

Today News

हरियाणा सरकार के निर्देशानुसार सूचना, जनसम्पर्क एवं भाषा विभाग की जिला सिरसा इकाई द्वारा डबवाली खंड के गांव खाई शेरगढ़ में रात्रि ठहराव सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता पंचायत समिति सदस्य मांगेराम ने की। कार्यक्रम का शुभारंभ डीआईपीआरओ सुरेंद्र कुमार वर्मा व गांव के प्रबुद्घ व्यक्ति नरेश व अन्य गणमान्य व्यक्तियों की उपस्थिति में किया। डीआईपीआरओ ने गांव की सरपंच भादो देवी को भी विभागीय प्रचार सामग्री भेंट की।
कार्यक्रम में जहां एक तरफ वीडियो प्रोजेक्टर पर सरकार की विकासात्मक गतिविधियों पर आधारित लघु फिल्म के माध्यम से ग्रामीणों को प्रदेश सरकार की जनकल्याणकारी नीतियों व योजनाओं को दिखाया गया वहीं दूसरी ओर विभाग की प्रचार मंडली ने लोक गीत व प्रेरक गीतों के माध्यम से ग्रामीणों का खूब मनोरंजन किया। उन्होंने ग्रामीणों से नशा व अन्य सामाजिक बुराईयों से दूर रहने के प्रति प्रेरित किया। जिला सूचना एवं जनसम्पर्क अधिकारी सुरेंद्र कुमार वर्मा ने इस अवसर पर केंद्र व हरियाणा सरकार की जनहितैषी नीतियों एवं कार्यक्रमों तथा उपलब्धियों के बारे में ग्रामीणों को विस्तार पूर्वक जानकारी दी। उन्होंने ग्रामीणों से अपील की कि वे सरकार की योजनाओं का लाभ उठाएं।

डीआईपीआरओ ने फसल अवशेष प्रबंधन योजना की जानकारी देते हुए बताया कि फसल अवशेषों को खेत में मिलाने से मिट्टी और अधिक उपजाऊ हो जाती है, इस से किसान को खाद के खर्च पर करीब 2 हजार रुपये प्रति हैक्टेयर की बचत होती है। उन्होंने बताया कि किसानों को फसल अवशेष प्रबंधन हेतु मशीनरी खरीदने के लिए कृषि एवं किसान कल्याण विभाग द्वारा 50 प्रतिशत तक का अनुदान देने का प्रावधान है।

इसके अलावा फसल अवशेष प्रबंधन मशीनरी के कस्टम हायरिंग केंद्र स्थापित करने के लिए 80 प्रतिशत तक का अनुदान दिया जाता है। उन्होंने किसानों व ग्रामीणों को फसल अवशेष न जलाने के प्रति जागरुक किया। उन्होंने बताया कि फसल अवशेष जलाने से प्रदूषण फैलता है और पैदा हुई जहरीली गैसों से स्वास्थ्य को हानि पहुंचती है।

उन्होंने ग्रामीणों को बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, स्वच्छता ही सेवा अभियान, पौधगिरी अभियान, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, भावांतर भरपाई योजना, प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, म्हारा गांव-जगमग गांव, सीएम विंडो, जल संरक्षण, पोलिथीन व कैरोसीन मुक्त, आयुष्मान भारत योजना के बारे में भी विस्तार पूर्वक जानकारी दी।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close