टुडे न्यूज़सिरसा

पांच दशक में पहली बार पंजाबी-सिखों के हित में होगा पंजाबी हरियाणा सिख सम्मेलन

Today News | सिरसा

पंजाब से अलग होकर जब से हरियाणा प्रदेश अस्तित्व में आया है, तब से पंजाबियों की अनदेखी हुई है। पिछले 5 दशक से आज तक हरियाणा के पंजाबी व सिख समाज की किसी भी क्षेत्र में सुध नहीं ली गई है। अब वह समय आ गया है, जब पंजाबी व सिख समाज के लोगों को अपने अधिकारों की लड़ाई लडऩे के लिए संगठित होने की आवश्यकता है। यह बात हरियाणा कंबोज सभा के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष प्रेम सिंह कंबोज, परमजीत सिंह माखा, राष्ट्रीय पंजाबी महासभा के प्रदेशाध्यक्ष भूपेश मेहता, राजेंद्र देसूजोधा, मलकीत सिंह गंगा, जट सिख वैलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष हरदीप सरकारिया, अखिल भारतीय अरोड़ा एकता परिवार के संस्थापक अध्यक्ष बलदेव दाबड़ा, पंजाबी सत्कार सभा के अध्यक्ष प्रदीप सचदेवा ने आज कपास मंडी स्थित भूपेश मेहता कार्यालय में पत्रकारों से रू-ब-रू होते हुए कही। उन्होंने कहा कि पंजाबी हरियाणा सिख सम्मेलन का आयोजन स्थानीय अनाज मंडी में 23 सितंबर को सिरसा में किया जा रहा है, जिसमें पंजाबियों के अधिकारों की रूपरेखा बनेगी और एक कमेटी का गठन भी किया जाएगा।

सम्मेलन आयोजकों ने कहा कि वर्तमान में हरियाणा प्रदेश में पंजाबियों की स्थिति दयनीय है। राजनैतिक दल चुनावों में पंजाबियों को बरगलाकर उनके वोट हथिया कर सत्ता में आ जाते है, उसके बाद पंजाबियों के हितों में कोई नीति नहीं बनती। पूरे प्रदेश में लगभग 42 प्रतिशत जनसंख्या पंजाबियों की है। अगर यह जनसंख्या चुनाव लड़े, तो 38 प्रतिशत तक सीटें भी आसानी से हासिल कर सकती है। इसके बावजूद पंजाबियों को अपने हकों की लड़ाई लडऩी पड़ रही है। उन्होंने कहा कि पंजाबी नशे के दलदल में फंस चुके है। सम्मेलन में बनने जा रही कमेटी इस दिशा में भी कदम उठाएगी और पंजाबी समाज में फैल रही कुरीतियों को दूर करने में अहम् भूमिका अदा करेगी। उन्होंने कहा कि यह सम्मेलन ऐतिहासिक होगा और पंजाबी-सिखों के हितों में फैसले होंगे। इस सम्मेलन में काफी संख्या में लोग पहुचेंगे और एकजुटता का संदेश देंगे। इस मौके पर केहर सिंह कंबोज, गुरतेज सिंह, लखविंद्र सिंह लक्खा, देवेंद्र टक्कर, काला प्रधान, करनैल सिंह, प्रदीप सचदेवा बाजेकां, डॉ. राजकुमार धींगड़ा, अशोक पोपली सहित अन्य गणमान्य लोग मौजूद रहे।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close