टुडे न्यूज़सिरसा

कल से लांच होगी आयुष्मान भारत योजना

Today News| सिरसा

केंद्र सरकार की महत्वपूर्ण आयुष्मान भारत-राष्टटीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के लिए 12000 करोड रूपये का बजट निर्धारित किया गया है। यह योजना कल से पूरे देश व हरियाणा प्रदेश में लांच की जा रही है। इस योजना के तहत देश भर के लगभग 10 करोड़ गरीब परिवारों के 50 करोड़ से अधिक लोगों को लाभ दिया जाएगा। इनमें हरियाणा प्रदेश के 15.50 लाख परिवारों के 80 लाख लोगों को फायदा पहुंचेगा, जिनमें सिरसा जिला के 82 हजार 361 परिवार लाभ उठा सकेंगे। इस योजना के तहत चयनित किए गए परिवारों को प्रति परिवार 5 लाख रूपये तक का वार्षिक मुफ्त चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध होंगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देशव्यापी आयुष्मान भारत योजना की रांची से शुरूआत करेंगे। वहीं हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल करनाल से आयुष्मान भारत का शुभारम्भ करेंगे। प्रदेश के सभी जिलों में हरियाणा के मंत्री व वीआईपी योजना की लांचिंग करेंगे। सिरसा के जिला नागरिक अस्पताल में इस योजना का शुभारम्भ दोपहर पूर्व 11:30 बजे किया जाएगा। आने वाले समय में ओर भी निजी अस्पताल जुडेंगे। इससे जिला के लगभग 4 लाख लोगों को सीधे तौर पर निशुल्क मैडिकल सुविधा का लाभ प्राप्त होगा। लाभार्थी परिवार स्वास्थ्य विभाग की वेबसाइट पर या टोल फ्री नम्बर पर योजना में अपना नाम होने की जानकारी ले सकते है। नाम, मोबाइल नमबर व राशन कार्ड नम्बर के आधार पर इस बारे में पता चल सकता है। योजना के तहत बिना किसी शुल्क के लाभार्थी परिवार के कार्ड बनाकर दिए जाएंगे, जिसके बाद वह पैनल में शामिल सरकारी व निजी अस्पताल में अपना ईलाज करवा सकते है।

उपायुक्त प्रभजोत सिंह के अनुसार आयुष्मान भारत योजना से देश की छवि पूरी दुनिया में बनने वाली है। यह योजना विशेष तौर से गरीब लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं देने के लिए एक वरदान की तरह है। योजना के तहत पांच लाख रूपये का बीमा प्रति वर्ष प्रति परिवार किए जाने का प्रावधान है। परिवार के आकार, आयु व लिंग का कोई प्रतिबंध नहीं है। जिला सिरसा में डाटा एसईसीसी पोर्टल पर अपलोड कर 82 हजार 361 गरीब परिवारों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा। इनमें 24955 शहरी क्षेत्र एवं 57406 परिवार ग्रामीण क्षेत्र से सम्मिलित है। सिरसा शहर में 12 हजार 938 परिवारों को इस योजना के तहत लाभ दिया जाएगा। यह योजना दुनिया की सबसे बडी स्वास्थ्य बीमा योजना है। देश के किसी भी राज्य में इनपैनल अस्पतालों में लाभार्थी अपना ईलाज करवा सकता है।

सिविल सर्जन डा गोबिंद गुप्ता के अनुसार एबी-एनएचपीएम पात्रता आधारित योजना होगी। ग्रामीण क्षेत्रों में विभिन्न श्रेणियों में ऐसे परिवार शमिल है जिनके पास कच्ची दीवार और कच्ची छत का एक कमरा हो, ऐसे परिवार जिनमें 16 से 59 वर्ष की आयु के बीच का कोई व्यस्क सदस्य नहीं हो।
ऐसे परिवार जिसकी मुखिया महिला है और जिसमें 16 से 59 वर्ष आयु के बीच कोई व्यस्क सदस्य नहीं है, ऐसा परिवार जिसमें दिव्यांग सदस्य है और शारीरिक रूप से सक्षम व्यस्क सदस्य नहीं है, अनुसूचितजाति, जनजाति, मानवीय आकस्मिक मजदूरी से आय काबड़ा हिस्सा कमाने वाले भूमिहीन परिवार है। ऐसे परिवार ही उक्त योजना का लाभ ले सकते है। इसी प्रकार ग्रामीण क्षेत्रों में ऐसे परिवार स्वत: शामिल किए गए है जिनके रहने के लिए छत नहीं है, निराश्रित, खैरात पर जीवन यापन करने वाले, मैला ढोने वाले परिवार, आदिम जनजाति समूह, कानूनी रूप से मुक्त किए गए बंधुआ मजदूर हैं वहीं परिवार ही आयुष्मान योजना में निशुल्क ईलाज करवाने के लिए पात्र होंगे।

ये अस्पताल आएंगे पैनल के अंर्तगत

जिला में इस योजना के तहत चार सरकारी व नौ निजी अस्पतालों को पैनल में शामिल किया गया है, इनमें जिला नागरिक अस्पताल सिरसा, उपमंडल सिविल अस्पताल डबवाली, ऐलनाबाद, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चौटाला है तथा निजी अस्पतालों में संजीवनी अस्पताल, एपेक्स अस्पताल, आई क्यु अस्पताल, तलवाड अस्पताल, पुनियां अस्पताल, श्री अस्पताल, सिरसा ईएनटी अस्पताल, श्री बाला जी अस्पताल तथा शाह सतनाम जी अस्पताल को पैनल में लिया गया है।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close