धर्मकर्म

हिन्दू धर्म के रीति रिवाज व विज्ञान

Hisar Today

भारत कई जातियों और धर्म का मिला जुला संगम है। भारत में इतने धर्म और जाति होने के कारण हर धर्म के मुताबिक अलग मान्यताएं और नियम कानून बनाए गए हैं। यह सभी प्रथाएं, रीति-रिवाज सब मिलकर ही एक धर्म की पहचान बनते हैं।यूं तो हमारे यह रीति-रिवाज हमारी आस्था से जुड़े होते हैं, लेकिन इनमें से कई के पीछे विज्ञान भी छिपा है। जी हां आप सही सुन रहे हैं।यूं ही नहीं हमारे पूर्वजों ने इन्हें बनाया था। तो चलिए आपको बताते हैं कि कौन से हैं वह रीति-रिवाज और क्या हैं उनके पीछे के वैज्ञानिक कारण हैं।

उपवार को धार्मिक व वैज्ञानिक महत्व

हिंदू धर्म में उपवास रखना तो कई सदियों से चला आ रहा है. उपवास को हिन्दू धर्म में बहुत महत्व दिया जाता है। नव रात्री के व्रत, सोलह सोमवार का व्रत, जन्माष्टमी का व्रत, करवा चौथ आदि जैसे कितने ही मौकों पर हिन्दू धर्म में उपवास रखा जाता है। कई बार माना जाता है कि उपवास के जरिए हमारी मनोकामना भी पूरी होती है। अब मनोकामना पूरी होती है कि नहीं इस बात पर कोई माने न माने, लेकिन विज्ञान की नजर में तो उपवास बहुत काम की चीज है। विज्ञान के अनुसार उपवास रखने से हमारे शरीर को काफी फायदा होता है। इसके कारण हमारा शरीर कम कैलोरी लेता है जिससे हमें वजन कम करने में मदद मिलती है। इसके जरिए मधुमेह, दिल की बीमारी जैसी कितनी ही बीमारियाँ दूर हो सकती हैं।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close