राजनीतिहरियाणा

हरियाणा जैसा शांत राज्य आज अपराध का गढ़ बन गया

Today News | सिरसा

इनैलो के प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा का कहना है कि हरियाणा जैसा शांत राज्य आज अपराध का गढ़ बन गया है। आए दिन यहां गैंगरेप जैसी संगीन आपराधिक वारदातें हो रही हैं। सरकार राहगीरी करने, गुल्ली डंडा खेलने और डीजे पर नाचने में लगी हुई है। अरोड़ा आज यहां डबवाली रोड स्थित नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला के आवास पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

इस अवसर पर हिसार के सांसद दुष्यंत चौटाला, बसपा के प्रदेश उपाध्यक्ष नरेंद्र प्रजापति, सिरसा के विधायक मक्खन सिंगला, रानियां के विधायक रामचंद्र कम्बोज, इनैलो के जिला प्रधान पदम जैन, अमीर चावला, लीलूराम आसाखेड़ा, रविंद्र बल्याण, भूषण बरोड़, विकास खिचड़, तरसेम मिढ़ा व सन्नी खिचड़ मौजूद थे। अशोक अरोड़ा ने कहा कि 2016 में सुप्रीम कोर्ट का निर्णय आने के बाद जब पंजाब विधानसभा में तत्कालीन मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने सतलुज यमुना लिंक नहर पर प्रस्ताव लाया था, उसी दिन से बादल परिवार से इनैलो के सियासी रिश्तों का अध्याय समाप्त हो गया था। उन्होंने यह भी बताया कि गोहाना में 25 सितम्बर को प्रस्तावित रैली में बसपा सुप्रीमो मायावती भी शिरकत करेंगी। कोर्ट की इजाजत मिली तो इनैलो सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला भी हरियाणा की जनता को संबोधित करने पहुंचेंगे। अशोक अरोड़ा ने कहा कि आज कमेरा वर्ग इस सरकार से आहत है। महंगाई चरम पर है और कानून व्यवस्था की स्थिति दयनीय हो गई है।

अरोड़ा ने यह भी आरोप लगाया कि भाजपा सरकार कथित रूप से सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा एवं पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा को बचाने का काम कर रही है। उन्होंने अभी हाल में विधानसभा में अभय चौटाला एवं कर्ण दलाल के बीच हुई जुतमपैजार पर कहा कि कर्ण दलाल ने देवीलाल और चौटाला साहब के बारे में आपत्तिजनक शब्द कहे। ऐसे में गुस्सा आना स्वाभाविक है। कर्ण दलाल की ओर से मायावती को गठबंधन के संदर्भ में लिखे गए खत के संदर्भ में अरोड़ा ने कहा कि दलित हितों की बात करने वाले कांग्रेस के ये वही नेता हैं जिन्होंने कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष एवं दलित नेता डा. अशोक तंवर से मारपीट की थी। इस दौरान हिसार के सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि आज पंजाब के साथ सटे हरियाणा के अनेक इलाके नशे का गढ़ बन गए हैं।

गुड़गांव जैसा शहर तो विदेशी तस्करों और नशों का हब बन गया है। सरकार नशे की तस्करी पर अंकुश लगाने में पूरी तरह से विपऊल है। उन्होंने कहा कि अभी पिछले दिनों सिरसा में एक भाजपा नेता का नशे की तस्करी में पकड़े जाना दर्शाता है कि मुख्यमंत्री और सरकार की शह पर यह सारा खेल चल रहा है। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि कनीना में एक टॉपर छात्रा के साथ गैंगरेप हो जाता है और घटना के 82 घंटे बाद भी पीड़िता को न्याय नहीं मिला। घटना के 82 घंटे बाद भी पुलिस के हाथ महज तीन फोटो ही लगे हैं।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close