राजनीतिहिसार

सीटू हरियाणा ने एस्मा के खिलाफ की जेल भरो आंदोलन में शामिल होने की घोषणा

Hisar Today

18 सितम्बर को जेल भरो आंदोलन में सीटू हरियाणा ने शामिल होने की घोषणा है। सीटू ने हरियाणा सरकार द्वारा एमपीएचडब्लू एवम् रोडवेज कर्मचारीयों पर एस्मा लगाने और 10 सितम्बर को पंचकुला में कर्मचारियों के विधान सभा कूच के मौके पर कर्मचारियों पर की गई लाठी चार्ज और कर्मचारी नेताओं पर बनाये गये झुठे पूलिस केश की कड़े शब्दों में निंदा करते हुये इसे मजदूर.कर्मचारी विरोधी करार देते हुये तानाशाहीपूर्ण रूख करार दिया है।सीटू जिला कमेटी के प्रधान कामरेड देशराज व सचिव कामरेड सुरेश कुमार ने सीटू जिला मीटिंग में कहा कि देश और प्रदेश में भाजपा ने सत्ता में आने के लिये मजदूरों और कच्चे कर्मचारियों को पक्का करने का वायदा किया था लेकिन भाजपा के सत्ता में आने के बाद आज प्रदेश में ठेकेदारी और निजीकरण का बोलबाला है।

4 साल बीत जाने के बाद भी सरकार ने ना तो कच्चे कर्मचारियों को पक्का किया और ना ही ठेकेदारी प्रथा और नीजिकरण पर रोक लगाई बल्कि भाजपा सरकार आने के बाद सरकारी विभागों के नीजिकरण करने की रफतार को और तेज किया है जिसका ताजा उदाहरण हरियाणा रोड़वेज में बड़े पैमाने पर नीजि बसों को चलाने की छूट हमारे सामने है।
उन्होने कहा कि राज्य के अलग.अलग विभागों में कार्यरत मजदूर.कर्मचारी अपनी जायज मांगों को लेकर आन्दोलन करते हैं तो सरकार उनसे बात कर करके समझौता कर लेती है परन्तु उसे लागू नही किया जाता। नगर पालिका कर्मचारियों एआंगनवाड़ी वर्करोंए ग्रामीण चैकीदारोंए वन मजदूरोंए ग्रामीण सफाई कर्मचारियों और एमपीएचडब्लू कर्मचारियों समेत अनेकों उदाहरण हमारे सामने है कि सरकार ने समझौता किया और कई कई माह बीत जाने के बाद आज तक भी उस समझौते को लागू नही किया।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close