टुडे न्यूज़राजनीति

सांपला स्थित सर छोटूराम स्मारक में बनी 64 फुट ऊंची प्रतिमा को लेकर गरमाई राजनीति

ओमप्रकाश चौटाला के नाम का पत्थर न हाेने पर सर छोटूराम संग्रहालय के बाहर दुष्यंत की अगुवाई में इनेलो का हंगामा

अर्चना त्रिपाठी | सांपला

जिले के सांपला स्थिति चौधरी छोटूराम संग्रहालय में पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला के नाम का पत्थर लगाने को लेकर सांसद दुष्यंत चौटाला के अगुवाई में इनेलो कार्यकर्ताओं ने जोरदार हंगामा किया। सांसद दुष्यंत चौटाला ने अपने तीखे तेवर दिखाते हुए सर छोटूराम स्मारक में बनी दीनबंधु सर छोटूराम की 64 फुट ऊंची प्रतिमा के अनावरण में देरी को लेकर जमकर भाजपा सरकार के साथ चौधरी बीरेंद्र सिंह को भी आड़े हाथों लिए। 9 महीनों से उद्घाटन के इंतजार में धूल चाट रहे दिन बंधू छोटूराम की प्रतिमा का जबरन उदघाटन करने सांसद दुष्यंत चौटाला अपने इनेलो कार्यकर्ताओं के हुजूम के साथ संग्रहालय के मुख्य द्वार पर इकठ्ठा हुए।

सांसद दुष्यंत चौटाला ने भाजपा सरकार को घेरते हुए आरोप लगाया कि भाजपा ने सर छोटूराम की प्रतिमा के उद्घाटन में 9 महीनों की देरी करके उनके साथ अपमान किया है। इतना ही नहीं 2004 में जब पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला ने दीनबंधु सर छोटूराम की प्रतिमा का शिलान्यास किया तो आखिर भाजपा ने दुबारा उनकी प्रतिमा बनवाकर चौधरी ओमप्रकाश चौटाला के नाम का पत्थर क्यों फेंक दिया? उसे उसी सम्मान के साथ क्यों नहीं लगाया? भाजपा सरकार के राज में चौधरी ओमप्रकाश चौटाला के साथ सर दीनबंधु सर छोटूराम के इस अपमान के खिलाफ सैकड़ों इनेलो कार्यकर्ताओं के साथ सांसद दुष्यंत चौटाला पहुंचे। दुष्यंत के बगावती तेवर देखते हुए बड़ी संख्या में पुलिस बल को तैनात किया गया।

मगर बावजूद इसके इनेलो कार्यकर्ता पुलिस बैरिकेड्स को तोड़कर संग्रहालय के गेट तक पहुंच गए। पुलिस ने गेट पर इनेलो कार्यकर्ताओं के साथ सांसद दुष्यंत चौटाला को भी संग्रहालय में घुसने नहीं दिया। गौरतलब है कि संग्रहालय में केंद्रीय मंत्री चौधरी बीरेंद्र सिंह ने सर छोटूराम की 65 फीट ऊंची प्रतिमा बनवाई है। बता दें कि इस मूर्ति के अनावरण में हो रही देरी से खफा इनेलो सांसद दुष्यंत चौटाला एक महीने पूर्व चेतावनी दे चुके थे कि अगर 24 सितंबर तक मूर्ति का अनावरण नहीं हुआ तो 25 सितंबर को इनेलो कार्यकर्ता इस मूर्ति का खुद अनावरण करेंगे। इसी के चलते इनेलो सांसद दुष्यंत चौटाला कार्यकर्ताओं के साथ मूर्ति के अनावरण करने पहुंचे थे। गौरतलब है कि तिरपाल में बंधी यह प्रतिमा पिछले करीब 9 महीने से अनावरण के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का इंतजार कर रही है। बताया जा रहा है कि प्रदेश सरकार व मुख्यमंत्री कार्यालय (सीएमओ) को भी कई माह पहले सूचित किया जा चुका है कि प्रतिमा पूरी तरह तैयार है।

गौरतलब है कि इस दौरान पुलिस और कार्यकर्ताओं के बीच धक्कामुक्की हुई। बाद में जिला उपायुक्त और अन्य अधिकारी माैके पर पहुंचे। उन्होंने सांसद दुष्यंत चौटाला को आश्वासन दिया कि संग्रहालय में चौधरी ओमप्रकाश चौटाला के नाम की शिला लगाई जाएगी। इसके बाद इनेलो नेता शांत हुए। बता दें कि केंद्रीय इस्पात मंत्री चौधरी बीरेंद्र सिंह ने संग्रहालय में सर छोटूराम की प्रतिमा 65 फीट की ऊंचाई की बनवाई है। बीरेंद्र सिंह रिश्ते में सर छोटूराम के नाती हैं। इस प्रतिमा का अनावरण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे। इस संबंध में समय देने के लिए प्रधानमंत्री कार्यालय काे लिखा गया है और वहां से अभी इस बारे में जवाब नहीं मिला है। संग्रहालय का निर्माण ओम प्रकाश चौटाला ने 2004 में करवाया था। पाकिस्तान से भी छोटू राम से जुड़ी वस्तुओं को संग्रहालय में दिया गया है।

पीएम से समय न मिलने से धूल खा रही उनकी प्रतिमा

दुष्यंत चौटाला,सांसद, हिसार
दुष्यंत चौटाला,सांसद, हिसार

संग्राहलय में पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला के नाम का पत्‍थर नहीं लगाया जाना गलत है और इसे सहन नहीं किया जाएगा। इस संग्रहालय का निर्माण आेमप्रकाश चौटाला ने अपने मुख्यमंत्रित्व काल में 2004 में करावाया था। जिसके लिए वह पाकिस्तान से जाकर सर छोटूराम से जुडी वस्तुएं लेकर आये थे। आज दीनबंधु छोटूराम की प्रतिमा को बने 9 महीनों से अधिक समय हो गया परंतु सरकार बस चुनाव को ध्यान में रखकर प्रधानमंत्री के समय न मिलने के कारण उदघाटन नहीं करके उनका अपमान कर रही है, जिसे हम बिलकुल बर्दाश्त नहीं करेंगे।

1 नवंबर तक सम्मानपूर्वक शिला स्थापित करेंगे

डॉ यश गर्ग, उपायुक्त, रोहतक
डॉ यश गर्ग, उपायुक्त, रोहतक

आज सांसद दुष्यंत चौटाला से हमारी चर्चा हुई। हमने उन्हें 1 नवंबर का समय दिया है। हम 1 नवंबर तक इसका उद्घाटन करेंगे और चौधरी ओमप्रकाश चौटाला के नाम से बनी शिला को सम्मान पूर्वक स्थापित करेंगे।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close