राजनीतिहरियाणा

विज बोले : हिंदुस्तान को सबसे ज्यादा इनाम देने वाला प्रदेश है “हरियाणा”

Today News

हरियाणा विधानसभा के मानसून सत्र के दूसरे दिन की कार्रवाई आज शुरू हो गई है। इस दौरान कांग्रेस पार्टी भारत बंद की तख्ती लेकर घोड़ा गाड़ी से विधानसभा पहुंचे। वहीं सदन में खेल मंत्री अनिल विज और कांग्रेसियो में हुई बहस के गर्मागर्म बहस के साथ सदन की शुरुवात हुई। इस दौरान खेल मंत्री अनिल विज ने खिलाडिय़ों के कामनवेल्थ खेलों में मेडल लाने के लिये उन्हें जमकर बधाई दी।

विज ने बताया कि एशियाई खेलों में हरियाणा के खिलाडिय़ों ने छ: गोल्ड, पांच सिल्वर और सात ब्रांज लेकर कुल अठारह मेडल हासिल किए हैं। जिनमें मंजीत सिंह एथेलेटिक्स 800 मीटर में गोल्ड, पानीपत के नीरज चोपड़ा ने जेवलिन थ्रो में गोल्ड, अमित पंघाल रोहतक से 49 किलो बॉक्सिंग में कुश्ती में गोल्ड, झज्जर के बजरंग पूनिया ने भी कुश्ती में गोल्ड व चरखी दादरी की बेटी विनेश फौगाट ने भी कुश्ती में गोल्ड जीता है। वहीं सोनीपत में अरपिंदर सिंह ने ट्रिपल जंप में गोल्ड जीता है। वही यमुनानगर के संजीव राजपुत शूटिंग में सिल्वर, जींद लक्ष्य श्योराण ने ट्रैप शूटिंग में सिल्वर, सीमा पूनिया सोनीपत से ब्रांज जीता। भिवानी से विकास कृष्ण ने ब्रांज जीता। झज्जर के दुष्यंत ने रोईंग ने ब्रांज मेडल हासिल किया। पानीपत के अभिषेक वर्मा ने ब्रांज जीता। अनिल विज ने बताया कि हरियाणा की खेल नीति से पूरा देश प्रभावित है।

एशियन खेलों व कॉमनवेल्थ खेलों में जिन खिलाडिय़ों ने गोल्ड मेडल जीता है, जिन्हें हरियाणा सरकार तीन करोड़ रूपया इनाम देगी इसके साथ एचपीएस या एचसीएस की नौकरी दी जाएगी। इसी प्रकार सिल्वर मेडलिस्टों को उनको डेढ़ करोड़ रूपये के साथ क्लास वन की नौकरी दी जाएगी और ब्रांज मेडलिस्टों को 75 लाख रूपये के सााथ क्लास बी की नौकरी देने का काम हरियाणा सरकार देगी। विज ने बताया कि हिंदुस्तान में सबसे ज्यादा इनाम देने वाला प्रदेश हरियाणा है और ये हमारे लिए गर्व की बात है।

विज ने बताया कि ओलंपिक में गोल्ड में लेकर आने वाले खिलाडिय़ों को एचसीएस या एचपीएस की नौकरी आठ साल की सीन्योरिटी के साथ नौकरी देने का फैसला हरियाणा सरकार ने किया है। उन्होंने कहा कि पहले माता-पिता बच्चों को पढऩे के लिए बोलते थे, लेकिन अब वे लाखों-करोड़ों के इनामों के कारण अपने बच्चों को खेलने के लिए प्रेरित करते हैं।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close