टुडे न्यूज़राजनीतिहरियाणा

भजन ग्लोबल इम्पैक्ट फाउंडेशन द्वारा महिला आत्मरक्षा प्रशिक्षण शिबिर के जरिये रेणुका बिश्नोई ने मुख्यमंत्री के नाकामी का किया पर्दाफाश

Hisar Today

हिसार: हांसी की विधायक रेनुका बिश्नोई ने कहा कि भाजपा सरकार का बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का नारा सिर्फ विज्ञापनों तथा कागजों तक ही सीमित होकर रह गया है। जिस तरह से पिछले 4 वर्षों में राज्य में महिलाओं के साथ दंरिदगी की घटनाएं सामने आई है, उससे हरियाणा की पहचान गैंगरेप प्रदेश के रूप में हो गई है, जोकि किसी भी सरकार व समाज के लिए शर्मनाक स्थिति है। 21वीं सदी में भी आज महिलाएं, बेटियां घरों से निकलते हुए खौफ में रहती हैं कि कहीं कोई दरिंदा उसकी इज्जत न तार-तार कर दे। पुलिस प्रशासन व सरकार राज्य में बढ़ते बलात्कार, सामूहिक बलात्कार, महिलाओं पर अत्याचार की घटनाओं को रोकने में पूरी तरह से विफल रहे हैं, बल्कि कई मामलों में पुलिस की कार्यप्रणाली भी शक के घेरे में नजर आई है। खट्टर सरकार के कार्यकाल में बेटियों का आगे बढऩा तो दूर उनकी सुरक्षा का ही सबसे बड़ा प्रश्नचिन्ह लग गया है। ठोस कार्यवाही करके असामाजिक तत्वों के सामने उदाहरण पेश करने की बजाय मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर इस मामले में ऐसे चुप हैं, जैसे उन्हें किसी बात की जानकारी ही न हो।

जब पत्रकार उनसे इस बारे में सवाल करते हैं तो वे जवाब देने की बजाय टालमटोल करते नजर आते हैं, जिससे साफ है कि मुख्यमंत्री एवं उनकी सरकार महिलाओं की सुरक्षा के प्रति कितनी गंभीर है। भाजपा सरकार के उदासीन रवैए तथा पुलिस प्रशासन की नाकामी को देखते हुए कुलदीप बिश्नोई के समर्थकों ने उने 50वें जन्मदिवस को राज्यभर में हकरक्षक महिला सुरक्षा की प्रण लेने के रूप में मनाया, जिसके बाद अब भजन ग्लोबल इम्पैक्ट फाउंडेशन ने निर्णय लिया है कि राज्य की महिलाओं, बेटियों को अब आत्मरक्षा के प्रति एजुकेट किया जाएगा, जिसकी शुरूआत हमने महिला आत्मरक्षा प्रशिक्षण शिविरों के रूप में की है, जिसकी कड़ी में वीरवार को हिसार के डी.एन. कॉलेज, हांसी तथा बरवाला हलके के तलवंडी गांव में ये प्रशिक्षण शिविर आयोजित किए गए।

रेनुका बिश्नोई ने बताया कि आत्मरक्षा प्रशिक्षण शिविर में बैंगलोर से आए वुमन सेफ्टी विशेषज्ञ फै्रंकलीन जोसफ ने महिलाओं को आत्मरक्षा के कई टिप्स दिए, जिन्हें अपनाकर वे अपनी सुरक्षा स्वयं कर सकती हैं। उन्होंने कहा कि बवानीखेड़ा, नलवा, हिसार, हांसी में अभी तक हुए प्रशिक्षण शिविरों में स्कूली, कॉलेज छात्राओं का उत्साह देखने लायक था। इन कैंपों में महिलाओं व लड़कियों ने बढ़चढ़ कर भाग लिया और उनसे बात करने के बाद हमारे समाज की काली तस्वीर भी सामने आई है। स्कूली बच्चियों, छात्राओं ने उन्हें साफ तौर पर बताया है कि उन्हें लगभग हर रोज छेडख़ानी का सामना करना पड़ता है। असामाजिक तत्व उनको परेशान करते हैं, जिनमें किसी का खौफ नहीं है।

रेप, गैंगरेप की घटनाओं से प्रदेश भर की छात्राओं में भय का माहौल है, जिसके लिए भाजपा सरकार की ढुलमुल कार्यप्रणाली तथा कुंभकरणी नींद सोया पुलिस प्रशासन जिम्मेवार है। हमारे समाज के प्रबुद्धजनों को भी आगे आकर इस बारे में सोचना होगा और महिलाओं, छात्राओं को आत्मरक्षा के प्रति शिक्षित करना होगा। भजन ग्लोबल इम्पैक्ट फाउंडेशन हिसार लोकसभा क्षेत्र के बाद मुख्यमंत्री के गृह जिले करनाल में भी प्रदेश स्तरीय महिला आत्मरक्षा प्रशिक्षण शिविर का आयोजन करेगा। इस दौरान रणधीर सिंह पनिहार, संजय गौतम, डी.एन. कॉलेज प्रिंसीपल मंजू अरोड़ा, मोनिका कक्कड़, डॉ. अनूप परमार, संगीता मलिक, मंजू शर्मा, सुरेन्द्र खिचड़, डॉ. नीरू बाला, डॉ. आदित्य वंदना दुग्गल, विक्रम चहल सहित बड़ी संख्या में कॉलेज छात्राएं उपस्थित थी।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close