टुडे न्यूज़राजनीतिहरियाणा

गुरू जंभेश्वर के आदर्शों पर चलकर ही हम कर सकते हैं आदर्श समाज का निर्माण : कुलदीप

Hisar News | मुकाम

अखिल भारतीय बिश्नोई महासभा के संरक्षक कुलदीप बिश्नोई ने कहा कि गुरू जंभेश्वर महाराज के आदर्शों पर चलकर ही हम आदर्श समाज का निर्माण कर सकते हैं। गुरू महाराज के नियमों को अपने जीवन में ढालकर हम हर समस्या से निजात पा सकते हैं। आज समाज में अनेक बुराईयां पनप रहा हैं। सामाजिक बुराईयों को दूर करने के लिए हमें संतों के बताई बातें अपनानी चाहिए। वे मुक्ति धाम मुकाम असोज मेले में पूरे देश से आए हजारों लोगों को संबोधित कर रहे थे। कुलदीप बिश्नोई ने लोगों को गुरू जाम्भो जी महाराज के आदर्शों पर चलते हुए पर्यावरण व जीव रक्षा की दिशा में और ज्यादा काम करने का आह्वान किया। उन्होंने कार्यक्रम में शहीद जगदीश बिश्नोई व उमाराम जाट के परिवार को सम्मानित किया। उन्होंने लोगों से कहा कि सभी ज्यादा से ज्यादा पौधे लगाकर पर्यावरण को बचाएं। कुलदीप बिश्नोई ने कहा समाज को एकजुट होकर समाजसेवा की दिशा में आगे बढऩा होगा।

जननायक चौ. भजनलाल ने ताउम्र गुरू जम्भेश्वार महाराज के आदर्शों को आगे बढ़ाने का प्रयास किया। अपना पूरा समा उन्होंने जनसेवा में लगा दिया। उन्हीं की नीतियों पर चलते हुए वे सदैव ईमानदारी से जनसेवा के कार्यों में अपना योगदान देने का प्रयास करते रहेंगे। इस दौरान भजन ग्लोबल इम्पैक्ट फाउंडेशन के उपाध्यक्ष भव्य बिश्नोई ने भी पहली बार आयोजित मेले में अपना भाषण दिया। उन्होंने कहा कि मैं सलाम करता हूं बिश्नोई समाज के उन लोगों को, जिन्होंने अपने गौरवशाली इतिहास पर चलते हुए सलमान खान और उनके साथियों को जेलों की हवा खाने को मजबूर किया, जिन्होंने हमारे धर्म और आस्था पर ठेस पहुंचाने की कुचेष्टा की। बिना किसी लालच में आए, बिना डरे, किसी भी तरह का दबाव सहन किए बिना जो पिछले 2 दशकों से समाज के लोगों ने लड़ाई लड़ी, उससे साबित होता है कि आज भी हमारे समाज में वे लोग मौजूद हैं, जिनकी पीढ़ीयों ने कभी पर्यावरण की रक्षा के लिए अपने प्राणों की आहुति दे दी थी। सिर्फ सलमान खान केस ही नहीं, बल्कि और भी कई उदाहरण पिछले कुछ सालों के मिल जाएंगे, जिनमें बिश्नोई समाज के लोगों ने पर्यावरण तथा जीव, जंतुओं की रक्षा के लिए ऐतिहासिक कार्य किए हैं।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close