टुडे न्यूज़राष्ट्रीय

दिल्ली के आईटीओ पर बने स्काईवॉक के उद्घाटन को लेकर अब विवाद

Today News | नई दिल्ली

दिल्ली के आईटीओ पर बने स्काईवॉक के उद्घाटन को लेकर अब विवाद खड़ा हो गया है। आईटीओ स्थित बने स्काईवॉक का उद्घाटन 15 अक्टूबर को होना है, मगर इसके उद्घाटन कार्यक्रम के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को नहीं बुलाया गया है। खास बात ये है कि आईटीओ पर बने इस स्काईवॉक को दिल्ली सरकार के ही पीडब्ल्यूडी विभाग ने तैयार किया है, मगर बावजूद इसके इसमें न तो मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को आमंत्रित किया गया है और न ही लोक कल्याण विभाग मंत्री को। हालांकि, इसके बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल चुप नहीं बैठे और उन्होंने कार्यक्रम में न बुलाए जाने का दर्द साझा किया और एक तरह से केंद्र सरकार पर तंज भी कसा।

स्काईवॉक के उद्घाटन में न बुलाए जाने पर शुक्रवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार पर तंज कसा। उन्होंने एक खबर को शेयर करते हुए लिखा- ‘कोई बात नहीं। हमें तो काम करने से मतलब है। दिल्ली अच्छी बननी चाहिए। दिल्ली के लोगों की ज़िंदगी में सुधार होना चाहिए, बस, उद्घाटन आपको मुबारक।’ बताया जा रहा है कि स्काईवॉक का उद्‌घाटन केंद्रीय शहरी विकास मंत्री हरदीप सिंह पुरी के हाथों होगा और इस कार्यक्रम में दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल और कई बीजेपी नेता भी मौजूद रहेंगे।

बताया ये भी जा रहा है कि दिल्ली के किसी भी मंत्री को आईटीओ में बने स्काईवॉक के उद्धाटन समरोह के लिए निमंत्रण नहीं भेजा गया है। इसका कारण केंद्र और दिल्ली सरकार के बीच जारी अनबन को बताया जा रहा है। आमंत्रण में आम आदमी पार्टी के किसी भी मंत्री या विधायक का नाम नहीं है। आमंत्रण के अनुसार, “आवास और शहरी मामलों का मंत्रालय आपको आईटीओ में ‘डब्ल्यू’ बिंदु पर स्थित स्काईवॉक और एफओबी (फुट ओवर ब्रिज) के उद्घाटन समारोह में आमंत्रित करता है। केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के राज्य मंत्री हरदीप सिंह 15 अक्टूबर दोपहर तीन बजे प्रगति मैदान मेट्रो स्टेशन के पास स्थित स्काईवॉक का उद्घाटन करेंगे।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close