टुडे न्यूज़राष्ट्रीय

उत्तर भारत के 6 राज्यों में सस्ता होगा पेट्रोल-डीजल, वैट घटाने पर भी बनी सहमति

Hisar Today

हरियाणा, पंजाब, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हिमाचल व चंडीगढ़ अपने यहां पेट्रोल व डीजल की दरें एक समान करने पर सहमत हो गए हैं। इसके लिए सभी छह राज्य अपने-अपने प्रदेश में वैट की दरें कम करेंगे, ताकि पेट्रोल व डीजल के दाम कम हो सके। चंडीगढ़ में हरियाणा की मेजबानी में हुई इन राज्यों के वित्त मंत्रियों तथा अधिकारियों की बैठक में आबकारी नीति, ट्रांसपोर्ट परमिट और गाड़ियों के पंजीकरण से जुड़े टैक्स में भी एकरूपता लाने पर भी सहमति बनी। इन तमाम मुद्दों पर अधिकारियों की एक कमेटी का गठन किया गया है, जो अगले दो सप्ताह में अपनी रिपोर्ट देगी। इसके आधार पर न केवल पेट्रोल व डीजल पर वैट की दरें घटाई जाएंगी, बल्कि आबकारी नीति, ट्रांसपोर्ट परमिट और गाड़ियों के पंजीकरण के टैक्स भी एक समान होंगे।

बैठक में हरियाणा के वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु, पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल व दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने हिस्सा लिया। उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश और चंडीगढ़ ने प्रतिनिधियों के रूप में आबकारी एवं कराधान विभाग के अधिकारियों को बैठक में भेजा। हरियाणा के वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने बताया कि जिस तरह से मई 2015 में इन प्रदेशों ने आम सहमति बनाकर वैट की दरें लगभग एक समान कर जनता को राहत दी थी, उसी तर्ज पर फिर से काम होगा।

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने सलाह दी कि इन राज्यों में तेल की भांति आबकारी से जुड़े कर भी समान होने चाहिए। इसके लिए राज्यों की आबकारी नीतियों में समानता होना जरूरी है। सभी राज्य इस बात पर भी सहमत भी हो गए हैं।तेल व आबकारी की भांति ट्रांसपोर्ट परमिट और गाड़ियों के पंजीकरण में भी एकरूपता लाने का सुझाव पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत बादल ने दिया। उन्होंने कहा कि यह समय की मांग है कि इन करों की दरें भी अलग अलग न होकर लगभग एक जैसी की जाएं, ताकि लोग अन्य राज्य में पंजीकरण न करवा पाएं। यह सभी राज्यों के हित में होगा।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close