टुडे न्यूज़राजनीतिराष्ट्रीय

उत्तर भारतीयों पर हमला जीएसटी, बेरोजगारी का नतीजा : राहुल गांधी

Today News | नई दिल्ली

गुजरात में उत्तर भारतीयों को स्थानीय लोगों द्वारा निशाने पर लिए जाने की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही है। इन घटनाओं के कारण विपक्षी पार्टियां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गुजरात की बीजेपी सरकार को घेर रही हैं। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी मंगलवार को फेसबुक पोस्ट लिख जीएसटी, नोटबंदी को इन घटनाओं का मुख्य कारण बताया।कांग्रेस अध्यक्ष ने फेसबुक पर लिखा, “पूरे गुजरात में कमजोर आर्थिक पॉलिसी, नोटबंदी और जीएसटी के गलत तरीके से लागू होने के कारण छोटी फैक्ट्रियां बंद हो रही हैं। जिसके कारण बड़ी संख्या में बेरोजगारी फैल रही है। इसी बेरोजगारी के कारण युवाओं में सरकार के खिलाफ गुस्सा है, जो प्रवासी मजदूरों पर निकल रहा है।’’

राहुल गांधी ने लिखा, “प्रवासी मजदूर देश की अर्थव्यस्था की रीढ़ हैं, उनपर इस प्रकार के हमले होने देश के कारोबार के लिए ठीक नहीं है। सरकार को इन सभी हमलों के खिलाफ कड़ा एक्शन लेना चाहिए।’’गौरतलब है कि साबरकांठा में हुई रेप की घटना के बाद बीते एक हफ्ते में गुजरात में उत्तर भारतीयों पर हमले बढ़े हैं। इनमें सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश और बिहार के लोगों को निशाने पर लिया जा रहा है।बता दें कि इन हमलों के बीच गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपानी ने सोमवार को बयान दिया कि उनकी सरकार राज्य में स्थानीय युवाओं को नौकरी देने का प्रावधान लाएगी। इसके तहत 80 फीसदी नौकरियां स्थानीय युवाओं को ही दी जाएगी।

गुजरात में हिंसा भड़काने के आरोपों पर रो दिए अल्पेश ठाकोर, कहा- राजनीति छोड़ दूंगा

गुजरात से उत्तर भारतीयों के पलायन के पीछे हाथ होने के आरोप को लेकर कांग्रेस नेता अल्पेश ठाकोर कैमरे के सामने ही रो दिए। उन्होंने निजी चैनल से खास बातचीत में कहा कि इस समय मेरे बच्चे की तबीयत ठीक नहीं है और मुझ पर ऐसे आरोप लगाए जा रहे हैं। ठाकोर ने कहा कि मुझ पर आरोप लगाने वाले लाशों पर राजनीति करते हैं। ठाकोर ने कहा कि मैं गंदी राजनीति के लिए सार्वजनिक जीवन में नहीं आया था, अगर ऐसा ही चलता रहा तो मैं राजनीति ही छोड़ दूंगा। अल्पेश ने कहा कि मेरी कल कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से फोन पर बात हुई थी, उन्होंने मेरे बेटे की तबीयत के बारे में पूछा। अल्पेश ठाकोर ने कहा है कि गुजरात छोड़ रहे लोग छठ पूजा के लिए जा रहे हैं।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close