टुडे न्यूज़नारनौंद

80 प्रतिशत से अधिक दिव्यांगता वाले दिव्यांगजनों को मिलेगी बैटरी चालित मोटरसाइकिल: कृष्ण पाल गुर्जर

नारनौंद में जिला के 1347 दिव्यांगों को वितरित किए 1.26 करोड़ रुपये के निशुल्क कृत्रिम अंग व सहायक उपकरण

हिसार टुडे । नारनौंद

केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि 80 प्रतिशत से अधिक दिव्यांगता वाले सभी दिव्यांगजनों को केंद्र सरकार की ओर से बैटरी चालित तिपहिया मोटरसाइकिल वितरित की जाएंगी। नारनौंद के ऐसे 83 दिव्यांगजनों को यह मोटरसाइकिल एक सप्ताह के भीतर मिल जाएंगी। दिव्यांगजनों की ओर से अदा किया जाने वाला अंशदान वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु द्वारा वहन किया जाएगा।

केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल आज नारनौंद की नई अनाज मंडी में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय की ओर से आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि दिव्यांगजनों को संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता हरियाणा के वित्त एवं राजस्व मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने की। राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर व कैप्टन अभिमन्यु ने 1347 दिव्यांगजनों को 1.26 करोड़ रुपये के निशुल्क कृत्रिम अंग व सहायक उपकरण वितरित किए।

केंद्रीय राज्यमंत्री ने कहा कि दिव्यांगजन भी समाज का अभिन्न अंग हैं और इन्हें किसी की दया की नहीं बल्कि प्यार से की जाने वाली सहायता की जरूरत है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री मनोहर लाल दिव्यांगों के प्रति कितने संवेदनशील हैं इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि पिछले 5 साल में देश के 13 लाख दिव्यांगजनों को 815 करोड़ रुपये के निशुल्क अंग व उपकरण प्रदान किए गए हैं। पूर्ववर्ती सरकारों में एडिप योजना के तहत मिलने वाला बजट का इस्तेमाल ही नहीं किया जाता था जिसके बाद प्रतिवर्ष बजट में कटौती कर दी जाती थी लेकिन इस सरकार में 6 महीने में ही बजट का उपयोग करके और बजट की मांग की जाती है ताकि अधिक से अधिक पात्रों तक लाभ पहुंचाया जा सके।

उन्होंने कहा कि वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु की दिव्यांगजनों के प्रति संवेदनशीलता व विशेष प्रयासों से आज यह शिविर यहां लगाया जा सका है। आज से पहले इस क्षेत्र में कभी ऐसा आयोजन नहीं हुआ क्योंकि पूर्व के जनप्रतिनिधि कभी इतने संवेदनशील नहीं रहे। उन्होंने कहा कि पिछले 5 साल में नारनौंद हलके में अन्य सभी हलकों के मुकाबले अधिक विकास हुआ है।

केंद्रीय राज्यमंत्री ने कहा कि पहले 7 प्रकार की दिव्यांगता पर ही योजनाओं का लाभ मिलता था लेकिन दिव्यांगजनों के हित में वर्तमान सरकार ने विशेष विधेयक बनाया जिसके तहत 14 अतिरिक्त दिव्यांगता को भी शामिल किया गया है। सरकारी नौकरियों में दिव्यांगजनों का आरक्षण 3 प्रतिशत से बढ़ाकर 4 प्रतिशत व शिक्षण संस्थानों में दाखिलों में 3 से बढ़ाकर 5 प्रतिशत किया गया है। पूर्ववर्ती सरकारों के समय के 15 हजार दिव्यांगजनों के पद रिक्त पड़े थे। वर्तमान सरकार ने 5 सालों के दौरान सभी 15 हजार पदों पर दिव्यांगजनों की भर्ती कर दी है और अभी कोई पद खाली नहीं है, यह इस सरकार की सोच को दर्शाता है।

उन्होंने कहा कि पहले एक स्थान का बना हुआ दिव्यांग प्रमाण पत्र दूसरे जिले या राज्य में मान्य नहीं होता था लेकिन अब मोदी सरकार ने एक जैसा सार्वभौमिक पहचान पत्र बनाना शुरू किया है जिसके माध्यम से दिव्यांगजनों को देश के सभी हिस्सों में योजनाओं का लाभ मिलेगा। हिसार जिला में भी अब तक 2500 व्यक्तियों के कार्ड अब तक बन चुके हैं। उन्होंने कहा कि जन्म से गूंगे-बहरे बच्चों के जीवन को आसान बनाने के लिए नई पहल की है। ऐसे 5 साल तक के बच्चों को भारत सरकार की ओर से 6 लाख रुपये कीमत का कोकलर इंप्लांट करवाया जाएगा। ऐसे 2066 बच्चों को यह सुविधा दी जा चुकी है। नारनौंद में ऐसे 106 बच्चे हैं जिनकी सूची प्रशासन से प्राप्त करके उन्हें जल्द यह सुविधा प्रदान की जाएगी। बीपीएल परिवारों के 60 साल से अधिक आयु के ऐसे व्यक्तियों को भी कान की मशीन, दांत-जाड़ों का सैट आदि विशेष उपकरण मुहैया करवाए जाएंगे जिनकी उन्हें आवश्यकता होगी।

केंद्रीय राज्यमंत्री ने कहा कि पहले अच्छे उपकरण विदेेशों से आयात किए जाते थे और देश में बनने वाले उपकरण उच्च गुणवत्ता के नहीं होते थे लेकिन वर्तमान सरकार द्वारा विदेशी कंपनियों के साथ अनुबंध करके अब देश में ही उच्च गुणवत्ता के उपकरण बनाने शुरू किए गए हैं। अब आधुनिक व्हील चेयर इंग्लैंड में नहीं बल्कि कानपुर में बनने लगी हैं। इसी प्रकार जर्मनी में बनने वाले आधुनिक हाथ-पैर भी अब जर्मन कंपनी के सहयोग से भारत में बनने लगे हैं। उन्होंने कहा कि नारनौंद के ऐसे 83 व्यक्तियों को बैटरी चालित मोटरसाइकिल अगले एक सप्ताह में दी जाएगी जिनकी दिव्यांगता 80 प्रतिशत है। इन दिव्यांगों के अंशदान की अदायगी की जिम्मेदारी वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने ली है।

वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने कहा कि दिव्यांगजनों की भलाई के लिए आयोजित यह कार्यक्रम उनका पिछले 5 वर्ष का सर्वाधिक सुख व संतोष देने वाला कार्यक्रम है। उन्होंने इस आयोजन के लिए नारनौंद की धरती का चयन करने पर केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर का आभार जताया। वर्तमान सरकार ने विकलांगों को दिव्यांग का दर्जा देकर उनमें दिव्यता का भाव पैदा किया है। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के आयोजनों के माध्यम से दिव्यांगजनों को जो सुविधा मिलती हैं उनके बदले वे कई गुणा अधिक दुआएं देते हैं।

कैप्टन अभिमन्यु ने कहा कि वर्तमान सरकार ने हर वर्ग की भलाई के लिए हर संभव कार्यक्रम शुरू किए हैं। आज कोई वर्ग ऐसा नहीं है जिसे सरकार की योजनाओं का लाभ न मिला हो। इसी का परिणाम है कि हाल ही में हुए लोकसभा चुनाव में जनता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की झोली वोटों से भर दीं। हरियाणा में भी जनता ने सभी 10 सीटें भाजपा को देकर यह संकेत दे दिए कि आमजन इस सरकार की नीतियों व कार्यों से पूरी तरह से खुश व संतुष्ट है। उन्होंने उम्मीद जताई कि आने वाले विधानसभा चुनाव में भी जनता का आशीर्वाद फिर भाजपा को मिलेगा और प्रदेश में दूसरी बार सरकार बनाने का मौका मिलेगा।

उपायुक्त अशोक कुमार मीणा ने अतिथिगण का स्वागत करते हुए बताया कि इस कार्यक्रम के माध्यम से जरूरतमंदों तक सहायक उपकरण पहुंचाने में केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर व वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु के प्रयासों की जितनी सराहना जाए, कम है। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन भी दिव्यांगजनों के प्रति संवेदनशील है और इनकी भलाई के लिए कई नई पहल व अनूठे प्रयोग किए गए हैं। उन्होंने बताया कि लोकसभा चुनाव में जिला प्रशासन ने दिव्यार्थ एप विकसित किया जिसकी मदद से दिव्यांगजन अपने मताधिकार का इस्तेमाल आसानी से कर पाए। प्रशासन द्वारा किए गए कई सफल प्रयासों को प्रदेश के अन्य जिलों व केंद्र सरकार द्वारा अन्य राज्यों में भी लागू किया जाएगा। एलिम्को के मोहाली केंद्र के इंचार्ज एके मिश्रा ने बताया कि एलिम्को द्वारा प्रतिवर्ष 3-4 लाख दिव्यांगों के लिए उपकरण बनाए जाते हैं जिनका वितरण शिविरों के माध्यम से करवाया जाता है।

इस अवसर पर पूर्व मंत्री अतर सिंह सैनी, युवा भाजपा नेता अजय सिंधु, उपायुक्त अशोक कुमार मीणा, हांसी पुलिस अधीक्षक वीरेंद्र सिंह, एसडीएम सुरेंद्र सिंह, डीआरडीए के सीईओ विकास यादव, जिला रेडक्रॉस सोसायटी के सचिव रविंद्र लोहान, भाजपा नेता राजेंद्र लांबा, पं. महाबीर शर्मा, चेयरमैन राजेश पेटवाड़, सतपाल मल्हान, अनिल सैनी मानी, सत्यपाल श्योराण, सुरेश एमसी, दिनेश गोयल, सुरेश एमसी, सुनील पाल वाल्मीकि, कपिल गुराना, प्रेम वर्मा, कुलदीप गौतम, लक्ष्मीनारायण उर्फ घोलू गुर्जर, कमलेश लोहान, जनसंपर्क विभाग के उपनिदेशक डॉ. साहिब राम गोदारा, जिला समाज कल्याण अधिकारी डॉ. दलबीर सिंह सैनी, पशुपालन उपनिदेशक डॉ. डीएस सिंधु, डीएफएससी सुभाष सिहाग व जिला प्रशिक्षण अधिकारी सुरेंद्र श्योराण सहित अनेक गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

नारनौंद में आयोजित शिविर में दिव्यांगजनों को निशुल्क कृत्रिम अंग व सहायक उपकरण वितरित करते केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर व वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु।

नारनौंद में आयोजित शिविर में दिव्यांगजनों को निशुल्क कृत्रिम अंग व सहायक उपकरण वितरण कार्यक्रम को संबोधित करते केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर।

नारनौंद में आयोजित शिविर में दिव्यांगजनों को निशुल्क कृत्रिम अंग व सहायक उपकरण वितरण कार्यक्रम को संबोधित करते वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close