अन्यटुडे न्यूज़ताजा खबरसिरसाहरियाणाहिसार

मैं 100%Sure हूं दुष्यंत सीट निकालेगा : नैना चौटाला (Video)

कुलदीप और रेणुका पर नैना चौटाला का प्रहार कहा “जो विधानसभा में नहीं गया उसको कौन देगा वोट”?

किसान भाजपा के राज में कर्जदार, नहीं मिल रही सरसों की सही कीमत
भाजपा के काले कारनामों “दवाई घोटाले” को दुष्यंत ने ही किया उजागर
भाजपा कर रही सबसे ज्यादा परिवारवाद
अर्चना त्रिपाठी | हिसार टुडे
हिसार लोकसभा क्षेत्र में जननायक जनता पार्टी और आम आदमी पार्टी के संयुक्त प्रत्याशी दुष्यंत चौटाला के प्रचार में आज उनकी मां नैना चौटाला ने हिसार के विभिन्न इलाकों में जाकर धुआंधार प्रचार अभियान को अंजाम दिया। हिसार के अपने दौरे में उन्होंने घर-घर जाकर अपने पार्टी के कार्यकर्ताओं और आम जनता से मुलाकात करके अपने बेटे के लिए वोटों की अपील की।
इस दौरान हिसार टुडे की खास बातचीत में नैना चौटाला ने पुरे आत्मविश्वास से कहा कि इस बार लोगों का रुझान और हवा देखकर उन्हें पूरा विश्वास है कि दुष्यंत हर हाल में जीत दर्ज करवाकर दुबारा दिल्ली संसद में जाएगा। इस दौरान जहां उन्होंने भाजपा के परिवारवाद पर जोरदार प्रहार किया तो ठीक दूसरी तरफ उन्होंने भजनलाल परिवार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि जो अपने विधानसभा क्षेत्र में नहीं गया उन्हें कौन वोट देगा। इतना ही नहीं जब बात आयी इनेलो की तो उन्होंने कहा कि इनेलो ने कौन सा तोप उतारा है दुष्यंत के सामने ? उनका नाम लेना भी उन्हें पसंद नहीं।
इस दौरान राजगुरु मार्केट आर्गेनाईजेशन के प्रधान अक्षय मलिक, व्यापार प्रकोष्ठ जिलाध्यक्ष राजेंद्र चुटानी, शहरी जिला अध्यक्ष तरुण जैन एवं परिवार के सदस्य, कार्यकर्ता बड़ी संख्या में मौजूद थे।

भाजपा क्या मुआवजा देगी किसानों को ?

नैना चौटाला ने प्रदेश में हाल में किसानों की फसल जलकर खाक हो जाने पर भी अपना दुःख व्यक्त करते हुए कहा कि “मैं एक किसान परिवार से हूं और मुझे लगता है कि किसानो को मुआवजा मिलना चाहिए”। नैना चौटाला ने कहा कि सबसे बड़ा सवाल तो यह उठता है कि मुआवजा क्या भाजपा देगी ?
सरकार ने किसानों को जो 2000 रूपए दिए उसके एवज में किसानों के अकाउंट से 500 रूपए निकाले जा रहे हैं। पूछने पर भाजपा कहती है कि प्राइवेट कंपनी ने निकाला है, जबकि यह कंपनी भी तो इन लोगों की है। यानी भाजपा ‘कान सीधा पकड़ने की जगह उल्टा कान पकड़ती है।’
मैं SURE हूं दुष्यंत की जीत पक्की : नैना
हिसार लोकसभा क्षेत्र में धुआंधार चुनाव प्रचार में व्यस्त दुष्यंत की मां नैना चौटाला ने हिसार में के विभिन्न इलाकों में जाकर दौरा किया। कार्यकर्ताओं और आम जनता से मिलते हुए उन्होंने जननायक जनता पार्टी और आम आदमी पार्टी के संयुक्त प्रत्याशी दुष्यंत चौटाला के लिए वोटों की अपील की।
इस दौरान हिसार टुडे से खास मुलाकात में नैना चौटाला ने कहा कि आज तक उन्होंने अपने पति अजय चौटाला के लिए नहीं बल्कि सबसे पहला प्रचार जिंदगी का अपने बेटे दुष्यंत चौटाला के लिए वर्ष 2014 में किया था। उन्होंने उस दौर का जिक्र करते हुए कहा कि 2014 में जब उन्होंने दुष्यंत के लिए डोर टू डोर किया था तब उन्हें लोग कहते थे कि दुष्यंत जीत जाएगा, मगर उन्हें दुष्यंत की जीत को लेकर डर था।
मगर इस बार जब वह लोगों से मिल रही है और डोर टू डोर कर रही है तो अब की हवा 2014 से बिलकुल अलग दिखाई दे रही है। नैना चौटाला ने कहा कि मुझे 100 प्रतिशत विश्वास है कि इस बार उनका बेटा सीट निकालेगा और हर हाल में दुबारा जीत दर्ज कर दिल्ली में संसद तक पहुंचेगा।
दुष्यंत ने किया भाजपा के काले कारनामे “दवा घोटाले” को उजागर
नैना चौटाला ने कहा कि जो सरकार भ्र्ष्टाचार मुक्त की बात करती है उस सरकार के काले कारनामे दुष्यंत ने उजागर किये। बता दें कि राज्य सरकार के अस्पतालों में दवाओं की खरीद फरोक में करोड़ों रुपयों की हेराफेरी और घोटाले के आरोप दुष्यंत ने लगाए थे और इस पूरे मामले की उन्होंने सीबीआई जांच की मांग की थी।
उन्होंने आरोप लगाया था कि बीते तीन साल में संबंधित अधिकारियों ने जिला स्तर पर की गई दवा की खरीद में नियमों का उल्लंघन किया है। उन्होंने दावा किया था कि एक वर्ष में इनेलो ने पांच जिलों रेवाड़ी, हिसार, फरीदाबाद, रोहतक और जींद से आरटीआई के जरिए जानकारी एकत्रित की और पाया कि इन जिलों में 125 करोड़ रुपए के ‘घोटाले’ हुए हैं।

भाजपा के राज में किसानों की कमर तोड़ दी सरसों के नहीं मिल रहे दाम और बेटियां सबसे ज्यादा असुरक्षित

नैना चौटाला ने कई बार भाजपा के राज में सबसे अधिक महिला अत्याचार के के मामले में उनको घेरने का काम किया है। उन्होंने भाजपा के महिला सुरक्षा और विकास के बखान पर उनको आड़े हाथों लेते हुए कहा कि भाजपा ने कोई विकास काम नहीं किया बल्कि 5 साल तक सिर्फ झूट बोलने का काम किया है।
नैना चौटाला ने आरोप लगाया कि चाहे बेटियों के लिए स्कूल की बात हो सुरक्षा की बात हो या बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ। आज के दिन सबसे असुरक्षित बेटियां है, आज बेटियों को मार के झाड़ों में फेंका जा रहा है। वहीं किसानों के हालत का जिक्र करते हुए नैना चौटाला ने कहा कि आज किसानों को उनके दाम नहीं मिल रहे है। जिस दाम में जो फसल बिकनी चाहिए थी नहीं बिक रही।
भाजपा के राज में उनकी नीतियों ने किसानों को सबसे ज्यादा कर्ज में डुबो दिया है। नैना चौटाला ने सरसों की फसल का जिक्र करते हुए कहा कि जो सरसो किसानो को 5000 या 4500 में बिकनी चाहिए थी, वह मंडियों में 3400 -3500 की किसान मजबूरी में बेचने को मजबूर है।
उन्होंने भाजपा सरकार पर प्रहार करते हुए कहा कि यह एक ऐसी सरकार है जिनके राज में किसान की कमर टूट गई और बहन बेटियों को बेआबरू कर दिया, वहीं रोजगार की तलाश में बच्चे बेरोजगार घूम रहे हैं।

विधायक से ज्यादा काम किया सांसद रहते दुष्यंत ने

नैना चौटाला ने कहा कि दुष्यंत चौटाला ने सांसद रहते हुए विधायक से ज्यादा काम किये है। उन्होंने कहा कि 5 साल वह गांव-गांव जाकर लोगों से मिला, ट्रैक्टर लेकर संसद पहुंच गया ताकि उसे कर मुक्त करवा सके, ढाणियों पर बिजली देना का काम, पाने के टैंकर देने का काम, साथ ही संसद में सबसे ज्यादा प्रश्न भी दुष्यंत ने उठाए।
उन्होंने कहा कि बेटे दुष्यंत ने 689 बार प्रदेश और देश के मुद्दे जोर-शोर से उठाए। दुष्यंत चौटाला गरीब छात्रों की शिक्षा के लिए, लड़कियों की शिक्षा सुविधा के लिए और सरकारी स्कूलों में सुधार के लिए 41 बार संसद में आवाज उठाई। स्वास्थ्य व्यवस्था में सुधार, डॉक्टरों की बढ़ोतरी और दवाइयों को सस्ता करने के लिए दुष्यंत चौटाला ने 54 सवाल लोकसभा में पूछे।
दुष्यंत चौटाला ने मजदूरों के कल्याण के लिए 32, गांव में सुविधाओं के लिए 29, किसान और खेतों के लिए 21, प्रदूषण की रोकथाम के लिए 21, कानून और न्याय व्यवस्था में सुधार के लिए 17 बार संसद में आवाज उठाई और सरकार को काम करने के लिए मजबूर किया। दुष्यंत चौटाला ने महिलाओं की सुरक्षा के लिए 15, युवाओं के रोजगार और अधिकार के लिए 15, पीने के पानी के लिए 9, देश की सुरक्षा के लिए 12, परिवहन व्यवस्था के लिए 15, रेलेव के लिए 32, शहरों में सुविधा एवं सुरक्षा के लिए के लिए 35 और गरीबों के भरपेट भोजन के लिए 23 बार संसद के सदन लड़ाई लड़ी।
संसद के सबसे युवा सांसद दुष्यंत चौटाला ने बिजली की आपूर्ति के लिए 7, विज्ञान और तकनीकी के बढ़ावे के लिए 10, संचार साधनों के लिए 10, युवाओं कौशल विकास के लिए 10 और परिवहन व्यवस्था में सुधार के लिए 15 बार लोकसभा में अपने विचार रखे। यह रिकॉर्ड है कि उसने विधायक से भी ज्यादा काम अपने जनता के लिए किया।

जो विधायक अपने विधानसभा में नहीं गया उसको कौन देगा वोट : नैना

अक्सर भजनलाल परिवार द्वारा पिछली हार का बदला लेने की बात करने पर नैना चौटाला ने चुटकी लेते हुए कहा कि कोई दुष्यंत से बदला नहीं ले सकता, बल्कि ऐसा बोलने वाले से जनता दुष्यंत को वोट देकर बदला लेंगे। नैना चौटाला ने हिसार जिला में कांग्रेस के 2 विधायकों (कुलदीप और रेणुका बिश्नोई) पर कटाक्ष करते हुए कहा कि जो लोग 5 साल में अपने विधानसभा क्षेत्र में नहीं गया उसे कौन वोट देगा ?

दूसरों पर आरोप लगाने वाली भाजपा खुद वंशवाद का शिकार
हम पर परिवारवाद का आरोप लगाने वाले भाजपा खुद कर रही सबसे ज्यादा परिवारवाद की राजनीति नैना चौटाला ने अपने चित परिचित अंदाज में कहा कि भाजपा हम पर परिवारवाद का आरोप लगाती थी, जबकि आज वो ही सबसे ज्यादा परिवारवाद को बढ़ावा दे रही है।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close