टुडे न्यूज़हिसार

आधुनिक युग में योग की उपयोगिता कई गुणा बढ़ गई है: मांगेराम

आर्य नगर की जाट धर्मशाला में पतंजलि योग समिति हिसार के तत्वावधान में चल रहे 15 दिवसीय सहयोग शिक्षक प्रशिक्षण शिविर में योगाभ्यास करवाते हुए

हिसार टुडे |

आर्य नगर की जाट धर्मशाला में पतंजलि योग समिति हिसार के तत्वावधान में चल रहे 15 दिवसीय सहयोग शिक्षक प्रशिक्षण शिविर में आज योगाभ्यास करवाते हुए पतंजलि योग समिति के मार्गदर्शक श्री मांगेराम ने कहा कि आज के भागमभाग भरे इस जीवन में तनाव व अन्य शारीरिक व मानसिक व्याधियों के प्रबंधन में योग की उपयोगिता कई गुणा बढ़ गई है। आज हमारी दिनचर्या, खान-पान, रहन सहन, जीवनषैली, आदि अस्वाभाविक हो गए हैं जिस कारण से तनाव, मोटापा, बी.पी., शुगर, हार्ट अटैक, सर्वाइकल, माइग्रेन तथा कैंसर तक के कई खतरनाक व जानलेवा बीमारियों का बोलबाला होता जा रहा है। इन सभी प्रकार की व्याधियों से निजात पाने तथा सुखी व समृद्ध जीवन जीने के लिए योग ही एकमात्र उपाय है। हमें योग की शरण में आना ही होगा।

उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर भी प्रकाश डालते हुए कहा कि जिस प्रकार से योगर्षि स्वामी रामदेव ने जन-जन में योगक्रांति का सूत्रपात किया व पूरी दुनिया में योगमय वातावरण बना तथा प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा संयुक्त राष्ट्र में अंतराष्ट्रीय योग दिवस मानने का प्रस्ताव रखा तो इस दिवस को मान्यता मिली। 21 जून 2019 को पाँचवाँ अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस है। जिला स्तरीय कार्यक्रम महावीर स्टेडियम में होगा तथा इसमें लगभग 10000 लोग एक साथ योग करेगें।

योगाभ्यास के क्रम में उन्होंने भस्त्रिका, कपालभाति, अनुलोम विलोम, बाह्य, उज्जयी, भ्रामरी, उद्गीथ, प्रणव आदि प्राणयामों के साथ साथ यौगिक जौगिंग, सूर्य नमस्कार, भुजंगासन, शलभासन, मर्कटासन, सेतुबंधासन, पश्चिमोतानासन, त्रिकोणासन, वज्रासन आदि का अभ्यास करवाया तथा उनसे होने वाले लाभ व सावधानियाँ बताई।

इस अवसर पर कार्यक्रम के संयोजक रविन्द्रजीत आर्य, सुरजीत डांगी, बलवान सिंह पंच, जयबीर डी.पी.ई. सुभाष चंद्र एस.डी.ओ., ज्योति, प्राची गोविन्द, संजीव कुमार, कमलजीत, सुशील ढाण्डा, जागृति सोनी, ज्योति, कुमकुम, अंतिम, संगीता, चंद्रो देवी, गीता देवी, आदि सैकड़ो योग साधक व साधिकाएँ उपस्थित थे।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close