टुडे न्यूज़हिसारहेल्थ

नशीली दवाओं के दुरुपयोग व खतरे पर कानूनी जागरूकता शिविर आयोजित

मनोचिकित्सक की सलाह, दृढ़ संकल्प व इच्छाशक्ति से नशे की लत को छोड़ा जा सकता है।

हिसार।

हरियाणा राज्य विधिक सेवाएं प्राधिकरण के निर्देशानुसार व जिला एवं सत्र न्यायधीश अरुण कुमार सिंगल के मार्गदर्शन में जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण द्वारा निरीक्षण गृह में आज नशीली दवाओं के दुरुपयोग तथा इनके खतरे पर एक कानूनी जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम में बाल बंदियों को संबोधित करते हुए सीजेएम सुरेंद्र कुमार ने बताया कि भारत युवाओं का देश है लेकिन नशीली दवाओं के दुरुपयोग एवं नशाखोरी के कारण आज की युवा पीढ़ी सबसे अधिक प्रभावित हो रही है। नशे के कारण आज का युवा वर्ग अंदर से खोखला होता जा रहा है। नशे के कारण ही युवा पीढ़ी अपराध की दलदल में धंसती जा रही है जो हमारे देश व समाज के लिए घातक है।
सीजेएम ने कहा कि प्रत्येक युवा का यह कर्त्तव्य है कि वह राष्ट्र निर्माण में अपनी अहम भूमिका निभाए। यह तभी संभव है जब युवा पीढ़ी नशाखोरी की लत से दूर रहे। उन्होंने कहा कि मनोचिकित्सक की सलाह, दृढ़ संकल्प व इच्छाशक्ति से नशे की लत को छोड़ा जा सकता है।

इस अवसर पर नागरिक अस्पताल के एमओ डॉ. समीर कंबोज, निरीक्षण गृह के सहायक अधीक्षक कुलदीप शर्मा व विधि संकाय के प्रशिक्षु भी उपस्थित थे।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close