ताजा खबरहरियाणाहिसार

इनसो ने लिया हरियाणा को नशामुक्त बनाने का संकल्प

हजारों युवाओं ने नशे से दूर रहने की ली शपथ

टुडे न्यूज | हिसार
इंडियन नेशनल स्टूडेंट्स आर्गेनाइजेशन (इनसो) ने गुजवि में आयोजित अपने स्थापना दिवस समारोह में हरियाणा को नशामुक्त करने का संकल्प लेते हुए इस अभियान का आगाज किया। इनसो प्रदेश भर में युवाओं को नशे से दूर रखने के लिए गांव-गांव जाकर न केवल उन्हें जागरूक करेगी बल्कि नशे के जंजाल में फंसे युवाओं को नशे की लत से छुड़वाने के लिए मदद भी करेगी। कार्यक्रम में इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने उपस्थित हजारों युवाओं को नशे से दूर रहने की शपथ दिलवाई। युवाओं ने शपथ ली की न नशा करेंगे और न किसी को नशा करने देंगे। कार्यक्रम के मुख्य वक्ता पूर्व सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि यदि हम समय से नशे को लेकर न चेते तो हमारा हंसता-खेलता, दूध-दही की पहचान रखने वाला हरियाणा नशे की जद में आकर बर्बाद हो जाएगा।

हरियाणा के युवाओं की पहचान आज विदेशों में खेलों में गोल्ड मेडल लाने, सीमा पर देश की रक्षा करने और देश को अनाज उपलब्ध करवाने की रही है। अफसोसजनक है कि पिछले कुछ वर्षो से हरियाणा में नशे का काला कारोबार करने वाले हर गांव तक पहुंच कर युवाओं को नशे की काली दुनिया की ओर धकेल रहे हैं। हरियाणा की भाजपा सरकार नशे पर रोक लगाने में विफल रही है। फतेहाबाद-सिरसा जैसे जिलों में तो नशे को लेकर स्थिति चिंताजनक होती जा रही है और इस स्थिति पर काबू नहीं पाया गया तो पूरा प्रदेश नशे के मक्कडज़ाल में फंस जाएगा। जेजेपी नेता ने कहा कि नशे के खिलाफ जंग में हर युवा, हर हरियावासी को आगे आना होगा, हम केवल हरियााणा की भाजपा सरकार के भरोसे हाथ पर हाथ रख कर नहीं बैठ सकते। उन्होंने ऐलान किया कि प्रदेश में जेजेपी के सत्ता में आने पर नशा का कारोबार करने वालों को उम्र कैद की सजा का प्रावधान करेगी। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि 17 सालों से लगातार इनसो छात्र, सामाजिक हितों की लड़ाई लडऩे में बढ़-चढ़ कर भाग ले रही है।

दुष्यंत ने नशे को प्रदेश के भविष्य के लिए खतरा बताते हुए कहा कि आज भाजपा राज में नशा पूरे प्रदेश में फैल रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार हरियाणा को पंजाब की तरह खेल को खत्म करके युवाओं को नशे की अंधेर में डालना चाह रही है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close