टुडे न्यूज़हरियाणाहिसार

धूमधाम व हर्षोल्लास के साथ महाबीर स्टेडियम में मनाया गया 73वां स्वतंत्रता दिवस समारोह

एक विधान, एक निशान बनाकर दी शहीदों को सच्ची श्रद्धांजलि : डॉ. बनवारी लाल

हिसार टुडे ।
जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी राज्यमंत्री डॉ. बनवारी लाल ने कहा कि इस बार का स्वतंत्रता दिवस हम सब भारतवासियों के लिए दोहरी खुशियां लेकर आया है। भारत की संसद ने एक विधान, एक निशान और एक प्रधान का प्रावधान करके देश के शहीदों को सच्ची श्रद्धांजलि दी है। राज्यमंत्री डॉ. बनवारी लाल आज 73वें स्वतंत्रता दिवस पर महाबीर स्टेडियम में राष्ट्रीय ध्वज फहराने तथा परेड का निरीक्षण करने उपरांत उपस्थितगण को स्वतंत्रता दिवस का संदेश दे रहे थे। इससे पहले राज्यमंत्री ने लघु सचिवालय स्थित शहीद स्मारक पर जाकर वीर-शहीदों को श्रद्घासुमन अर्पित किए। उन्होंने स्वतंत्रता सेनानियों व शहीदों के आश्रितों तथा उत्कृष्ट कार्य करने वाले अधिकारियों, कर्मचारियों व नागरिकों को सम्मानित किया। इस अवसर पर स्कूल व कॉलेज के विद्यार्थियों ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए।

मुख्यातिथि ने समारोह में 400 खिलाडिय़ों को 12.67 करोड़ रुपये के पुरस्कार प्रदान किए। इस बार स्वतंत्रता दिवस समारोह में पहली बार बीएसएफ की टुकड़ी ने भी मार्च पास्ट में भागीदारी की। समारोह की शुरुआत के साथ ही रिमझिम बारिश आनी शुरू हो गई थीं जो

कुछ समय बाद बंद हो गई। इससे मौसम सुहावना हो गया और सभी कार्यक्रम सफलतापूर्वक संपन्न हुए। प्रदर्शन के आधार पर मार्च पास्ट में जिला महिला पुलिस की टीम प्रथम व बीएसएफ की टीम द्वितीय स्थान पर रही। इसी प्रकार जूनियर श्रेणी में एनसीसी एयर विंग की जूनियर डिविजन प्रथम व लडक़ों की सीनियर डिविजन द्वितीय स्थान पर रही। सांस्कृतिक कार्यक्रमों में सेंट फ्रांसिस स्कूल की टीम ने प्रथम, सुशीला भवन के पास स्थित राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय ने द्वितीय व राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय की टीम ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। मूक एवं बधिर कल्याण केंद्र के बच्चों ने मां तुझे सलाम व राष्ट्रगान पर प्रस्तुति देकर उपस्थितगण का मन मोह लिया। मुख्यातिथि ने इन बच्चों को विशेष रूप से पुरस्कृत करते हुए सम्मानित किया। उन्होंने प्रतिभागी व विजेता टीमों को पुरस्कृत किया।

राज्यमंत्री डॉ. बनवारी लाल ने सभी उपस्थितगण को आजादी के पावन पर्व व रक्षाबंधन पर्व की बधाई देते हुए सभी के सुख-समृद्धि की कामना की। उन्होंने कहा कि इस बार का स्वतंत्रता दिवस हम सबके लिए दोहरी खुशियां लेकर आया है। हाल ही में जम्मू-कश्मीर के हमारे भाई-बहनों को अनुच्छेद-370 व धारा 35ए से आजादी मिली है और कश्मीर से कन्याकुमारी तक अखंड भारत का हमारे महापुरुषों का सपना साकार हुआ है। इसके लिए उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह का आभार जताया। उन्होंने कहा कि 5 अगस्त 2019 का दिन देश के इतिहास में स्वर्णिम अक्षरों में अंकित हो गया है। इस दिन प्रधानमंत्री और गृहमंत्री के दृढ़ संकल्प के बल पर देशवासियों को स्वतंत्रता के बाद एक बार फिर से इतनी बड़ी खुशी मनाने का मौका मिला है।

उन्होंने कहा कि यह अनुच्छेद हटाकर केंद्र सरकार ने न केवल जनभावनाओं का सम्मान किया है, बल्कि पूरी दुनिया को भी एक स्पष्ट संदेश देने का काम किया है कि यह नया भारत है, जो न रुकेगा और न झुकेगा। यह अनुच्छेद जम्मू एवं कश्मीर के लोगों और शेष भारत के मध्य जुड़ाव में एक बहुत बड़ी बाधा थी, जिसे समाप्त करके प्रधानमंत्री ने सही मायने में जम्मू एवं कश्मीर को शेष भारत के साथ जोडऩे का काम किया है। इसके समाप्त होने से 72 साल से चली आ रही एक गंभीर समस्या का समाधान हुआ है। इससे आतंकवाद, अलगाववाद और परिवारवाद का खात्मा होगा। केंद्र सरकार का यह कदम कश्मीर घाटी में देश व नागरिकों की सुरक्षा के लिए शहीद हुए हमारे जवानों को सच्ची श्रद्धांजलि है। यह डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी को भी सच्ची श्रद्धांजलि है, जिन्होंने इस अनुच्छेद के विरोध में अपने जीवन का बलिदान कर दिया। इससे एक विधान, एक निशान और एक प्रधान का उनका सपना साकार हुआ है। राज्यमंत्री डॉ. बनवारी लाल ने कहा कि स्वतंत्रता दिवस के इस पावन पर्व के साथ हमारे देशभक्तों के त्याग, तप और बलिदान की एक लंबी गौरव गाथा जुड़ी हुई है। इस शुभ अवसर पर मैं उन सभी ज्ञात-अज्ञात शहीदों को नमन करता हूं जिन्होंने देश की एकता व अखंडता और सीमाओं की रक्षा के लिए अपने प्राण न्योछावर कर दिए। आजादी की लड़ाई के दौरान और आजादी के बाद देश की सरहदों की रक्षा के लिए हरियाणा के वीर शहादत देने में हमेशा अग्रिम पंक्ति में रहे हैं। आज भी हमारी सशस्त्र सेनाओं में औसतन हर दसवां जवान हरियाणा से है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने पिछले लगभग सवा पांच सालों में कई ऐतिहासिक फैसले लिए हैं, जिससे दुनियाभर में भारत की प्रतिष्ठा बढ़ी है। तीन तलाक पर प्रतिबंध लगाने से हमारी मुस्लिम बहनों के जीवन में एक नया बदलाव आएगा और वे सामाजिक तौर पर सम्मानजनक व सुरक्षित जीवनयापन कर पाएंगी।

राज्यमंत्री ने कहा कि हम अपने शहीदों के बलिदानों का कर्ज तो नहीं चुका सकते, लेकिन उनके परिजनों को कुछ सुविधाएं देकर उनके प्रति अपनी कृतज्ञता अवश्य दिखा सकते हैं। इसी भाव के चलते राज्य सरकार ने वीरगति को प्राप्त होने वाले सैनिकों के परिवारों को दी जाने वाली एक्सग्रेेसिया ग्रांट 20 लाख रुपये से बढ़ाकर 50 लाख रुपये की है। भूतपूर्व सैनिकों और उनकी विधवाओं को दी जाने वाली विभिन्न प्रकार की पेंशनों में बढ़ोतरी की गई है। राज्य सरकार ने सेवारत सैनिकों, भूतपूर्व सैनिकों तथा उनके आश्रितों के सम्मान एवं कल्याण के लिए सैनिक एवं अर्ध सैनिक कल्याण विभाग का गठन किया है। वर्तमान राज्य सरकार ने आजादी के बाद हुए युद्धों तथा देश की आंतरिक सुरक्षा के लिए आंतकवादियों से मुठभेड़ में वीरगति को प्राप्त होने वाले हरियाणा के 292 शहीदों के आश्रितों को विभिन्न विभागों में सरकारी नौकरियां दी हैं। वीरता पुरस्कार प्राप्त सैनिकों को राज्य परिवहन की सामान्य बसों में राज्य की सीमा के अंदर मुफ्त यात्रा सुविधा है। प्रथम स्वतन्त्रता संग्राम के शहीदों के सम्मान में अम्बाला छावनी में शहीदी स्मारक स्थापित किया जा रहा है।
उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार ने न केवल शहीदों, स्वतंत्रता सेनानियों और देश की सीमाओं की रक्षा करने वाले वीर जवानों का मान बढ़ाया है बल्कि खेत में दिन-रात पसीना बहाकर पूरे देश का पेट भरने वाले अन्नदाता किसान की मेहनत का भी पूरा सम्मान किया है। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत पात्र लघु और सीमांत परिवारों को 6000 रुपये की वार्षिक सहायता 3 किस्तों में दी जा रही है। किसानों को प्राकृतिक आपदा के कारण अपनी फसल खराब होने की चिंता न सताए, इसके लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लागू की गई है।

राज्यमंत्री डॉ. बनवारी लाल ने जिला हिसार में वर्तमान सरकार द्वारा करवाए गए सभी प्रमुख विकास कार्यों के बारे में भी विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार से प्रदेश की जनता को ढेरों उम्मीदें हैं। सरकार की मंशा व कार्य करने का तरीका प्रदेश में अब तक बनी सभी सरकारों से अलग है। मुझे पूरा विश्वास है कि वर्तमान सरकार प्रदेश में नई व्यवस्था कायम करके लोगों की आशाओं पर खरा उतरेगी।

इस अवसर पर मेयर गौतम सरदाना, हरियाणा मिट्टी कला बोर्ड के चेयरमैन कर्ण सिंह रानौलिया, हिसार रेंज के आईजी अमिताभ ढिल्लो, उपायुक्त अशोक कुमार मीणा, पुलिस अधीक्षक शिवचरण, अतिरिक्त उपायुक्त अमरजीत सिंह मान, पूर्व विधायक रणबीर गंगवा, एसडीएम परमजीत सिंह, सीटीएम राजीव अहलावत, भाजपा जिला महामंत्री सुजीत कैमरी, सैनिक-अर्धसैनिक कल्याण अधिकारी कैप्टन प्रदीप बाली, जिला राजस्व अधिकारी राजबीर धीमान, डीडीपीओ अश्वीर सिंह, जनसंपर्क विभाग के उपनिदेशक डॉ. साहिब राम गोदारा, पशुपालन विभाग के उपनिदेशक डॉ. डीएस सिंधु, जिला रैड क्रॉस सचिव रविंद्र लोहान व डीपीओ डॉ. राजकुमार नरवाल सहित बड़ी संख्या में गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close