हिसार

सिविल अस्पताल में ट्रैफिक की समस्या सुलझाने खुद उतरे डेंटल सर्जन डॉ. विक्रम

Hisar Today

सिविल अस्पताल में वाहन पार्किंग की सुविधा होने के बावजूद बड़े पैमाने पर वाहन अस्पताल के गेट पर खड़े रहते थे। जिसके चलते आपातकालीन समय में मरीजों को अस्पतालों में ले जाने बड़ी मशक्कत का सामना करना पढता था। दुर्घटना के शिकार मरीजों को गाड़िया पार्क करने की जगह नहीं होती थी।  सिविल अस्पताल में रोजाना असंख्य मरीज अपना इलाज करवाने आतें है। ऐसे में भीड़ के कारण मरीजों को दिक्कते और हुआ करती थी।

ऐसे में सिविल अस्पताल में सालो से चली आ रही ट्रैफिक की समस्या से निराकरण के लिए सिविल अस्पताल में साढ़े तीन साल से कार्यरत डेंटल सर्जन डॉ विक्रम पंघाल ने ट्रैफिक जाम की समस्या हल करने का जिम्मा अपने कंधो पर उठाया है। डॉ विक्रम रोजाना सुबह 7 बजे आकर सिविल अस्पताल के अंदर गेट पर खड़े वाहनों को हटा कर पार्किंग में खड़ी करने का काम किया करते है।  गए 4 दिनों से शुरू उनकी इस मुहीम में उन्होंने 26 सुरक्षा गार्ड और  3 सुपरवाईज़र की मदद से यह काम सिविल अस्पताल में किया जा रहा हैं।

एम्बुलेंस गेट के सामने रुक ही नहीं पाते 

डॉ विक्रम पंघाल (डेंटल सर्जन, सिविल अस्पताल)
डॉ विक्रम पंघाल (डेंटल सर्जन, सिविल अस्पताल)

पार्किंग व्यवस्था सिविल अस्पताल में बराबर नहीं थी। आपातकालीन समय में एम्बुलेंस गेट के सामने रुक ही नहीं पाते थे। इसलिए अब हमने लोगो को जनजागृत करने का प्रयास किया है। जरुरत पड़ी तो हम रस्सी या बैरियर भी लगवाएंगे। मुख्य स्वास्थ अधिकारी के आदेशानुसार शुरू इन कोशिशों को बहुत सफलता मिली है। जबतक व्यवस्था सुचारु नहीं हो जाती यह मुहीम जारी रहेगी।

होमगार्ड की कमी से ऑटोरिक्शा का जमावड़ा 

गौरतलब है की आज होम गार्ड शहर के प्रमुख चौको में है , मगर सिविल अस्पताल में भी होमगार्ड रखने की जरूरत डॉ विक्रम पंघाल ने कही। उन्होंने कहा कि आज सिविल गेट अस्पताल के बाहर कोई होमगार्ड न होने पर ऑटोरिक्शा चालक गेट के सामने रोड ब्लॉक कर परेशानियां खड़ी कर देते हैं।  एम्बुलेंस भी हॉर्न बजाती रहती है मगर ऑटोरिक्शा चालक हटते नहीं, इसलिए हमने मांग की है कि गेट पर होमगार्ड रहे ताकि ट्रैफिक की समस्या से मरीज की जान पर बन आए।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close