टुडे न्यूज़हिसार

नाम नहीं काम देखकर चुनें सांसद: दुष्यंत

 हिसार
17 वीं लोकसभा का यह चुनाव हिसार क्षेत्र की जनता के लिए केवल एक सांसद चुन कर लोकसभा में भेजने का नहींंंबल्कि हिसार के विकास, पहचान व शान का चुनाव है, वह शान जो लोकसभा के माध्यम से पूरे देश में फैली, वह पहचान जो देश के कोने-कोने से हिसार को मिली। जनता फिर से हिसार से ऐसा सर्वश्रेष्ठ सांसद चुन कर भेजे जो राष्ट्रीय स्तर पर चमकाए गए हिसार के नाम में और चार चांद लगा सके।
कहीं ऐसा न हो कि जो सांसद आप भेजें, वह हिसार के नाम को गुमनामी के अंधेरे की ओर धकेल दे। वोट डालने से पहले अपनी अंतरात्म की आवाज को जरूर सुनें कि कौन हिसार को प्रगति के पथ पर ले जाने की क्षमता रखता है, कौन हिसार के हितों के लिए लड़ सकता है, कौन हिसार को नया लुक दे सकता है। मंथन के लिए हिसार की जनता के पास एक दिन का समय है। यह अपील जेजेपी-आप गठबंधन प्रत्याशी दुष्यंत चौटाला ने की। वे हिसार एवं उचाना के विभिन्न कार्याक्रमों में जनता से रूबरू हो रहे थे। उन्होंने कहा कि 12 मई को वोट डालने से पहले हरियाणा के अन्य लोकसभा क्षेत्रों से पिछली लोकसभा में चुन कर गए भाजपा व कांग्रेस सांसदों का ट्रैक रिकार्ड देख एक बार जरूर जान लें कि किसने कितना काम किया है और फिर हिसार लोकसभा के प्रतिनिधि से उनकी तुलना कर लें। उसके बाद जो आपकी आत्मा कहे, उसी प्रत्याशी को वोट दें।
दुष्यंत चौटाला ने कहा कि भाजपा प्रत्याशी बृजेंद्र सिंह के पिता बिरेंद्र सिंह भाजपा से न केवल राज्यसभा सांसद हैं बल्कि मंत्री भी बने। हिसार लोकसभा क्षेत्र की जनता बिरेंद्र सिंह का हिसार ही नहीं पूरे हरियाणा में उनका रिकार्ड खंगाल ले कि बिरेंद्र सिंह ने कितने काम किए। लोग जब काम पूछते हैं तो भाजपा प्रत्याशी के पिता केंद्रीय वित्त मंत्री बिरेंंद्र सिंह जनता के सामने कह रहे हैं कि उन्हें तो जनता ने नहीं, मोदी ने मंत्री बनाया है। मुझे समस्याएं सुनने की कोई जरूरत नहीं है। पिछले दो सप्ताह से उन्हीं का बेटा बृजेंद्र सिंह हिसार लोकसभा क्षेत्र की जनता से मोदी के नाम पर वोट मांग रहा है।
जाहिर है कि बेटा भी भविष्य में पिता के ही नक्शे कदम पर चलेगा।
इसी प्रकार से कांग्रेस प्रत्याशी के परिवार के पिछले 10 सालों के रिकार्ड को देख लें, सब पता चल जाएगा कि किसने क्या किया। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि पिछली बार मोदी के नाम पर हरियाणा से भाजपा के सात सांसद चुन कर लोकसभा में पहुंचे थे। 2014 में मोदी की भारी बहुमत की सरकार भी बनी परन्तु भाजपा के सांसदों ने अपने-अपने लोकसभा क्षेत्रों में ऐसा कुछ नहीं किया जिसे वे अपनी जनता के सामने रख सके।

वर्तमान भाजपा प्रत्याशी भी अपने काम की बजाय चुनाव में मोदी के लिए वोट मांग रहे हैं।
दुष्यंत चौटाला ने कहा कि किसी भी क्षेत्र के विकास के लिए जरूरी है कि वहां का प्रतिनिधि दमदार, नए विजन वाला, मिलनसार जनता के लिए दिन-रात संघर्ष करने वाला होना चाहिए न कि जनता की समस्याओं से मुंह मोडऩे और सत्ता का सुख भोगने वाला। स्थानीय प्रतिनिधि यदि जनता से दूर रह कर ऐशो-आराम और सत्ता का आनंद लेने वाला होगा तो ऐसे में कैसे अपने समस्याओं के निवारण की उम्मीद कर सकते हैं। दुष्यंत ने कहा कि फैसला जनता करे कि उन्हें कैसा प्रतिनिधि चाहिए।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close