टुडे न्यूज़राजनीतिहिसार

दुष्यंत का विकास की बजाय स्वार्थ की राजनीति पर जोर : भव्य

Hisar Today

टुडे न्यूज | बवानीखेड़ा
अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य भव्य बिश्नोई ने कहा कि हिसार लोकसभा क्षेत्र में विकास करवाने की बजाय दुष्यंत ने पांच सालों तक निजी स्वार्थ की राजनीति की। मंत्रियों के साथ फोटों खिंचवाकर झूठी लोकप्रियता हासिल करने के लिए हर पैंतरे अपनाए। अपने पगड़ी बदल भाई बादल परिवार को चुनाव में तो ये लोग ले आए, मगर बाद में उनसे कोई विकास का काम करवाना तो दूर हरियाणा के हिस्से का एसवाईएल के पानी की एक बार भी उनसे मांग नहीं की।

चुनाव जीतने के बाद हिसार लोकसभा क्षेत्र के 80 प्रतिशत गांवों में दोबारा नहीं गए। हिसार लोकसभा क्षेत्र का सही ढंग से प्रतिनिधित्व करने की बजाय अपने ही परिवार को धोखा दिया। पिछले चुनाव में अपने दादा को जेल से मुख्यमंत्री बनवाने की बात करने वाले दुष्यंत ने उसी दादा की आप के साथ मिलकर दो बार पैरोल रूकवाई। एसवाईएल के पूरे पानी पर पंजाब का हक बताने वाले केजरीवाल से समझौता किया। 5 साल में गोद लिए गांव मखंड और भिवानी रोहिल्ला का विकास नहीं करवा पाए।

2014 में अभय चौटाला उनके लिए भगवान थे, अब उनके लिए दुर्याेधन हैं और अब अस्तित्व बचाने के लिए कांग्रेस के पैरों में गठबंधन के लिए गिड़गिड़ा रहे हैं। जो पोता अपने दादा का नहीं हुआ, उस पर जनता कैसे विश्वास करेगी। वे शनिवार को हलके के गांव अलखपुरा, सिवाना, खेड़ी दौलतपुर, कुंगड़, भैणी, मुंढाल खुर्द, मुंढाल कलां, सुखपुरा, जताई, तालू व धनाना में ग्रामीण सभाओं को संबोधित कर रहे थे। गांवों में पहुंचने पर ग्रामीणों ने उनको मोटरसाईकिलों के काफिलों, ढोल नगाड़ों, फूल मालाओं से जोरदार स्वागत किया।

भव्य ने कहा किचौ. भजनलाल ने बवानीखेड़ा को तहसील का दर्जा दिया। उस समय सिवानी बवानीखेड़ा के अंतर्गत आता था, सिवानी को उपमंडल का दर्जा दिया। सुंदर नहर में महीने में दो सप्ताह तक पानी किया, जिस वजह से क्षेत्र के किसान खुशहाल हुए। बलियाली समेत हलके के दो दर्जन गांवों में भजनलाल ने स्कूलों को अपग्रेड किया। अमर सिंह धानक जी, जगन्नाथ जी को अपने मंत्रीमंडल में प्रतिनिधित्व दिया। 1995 में आई भीषण बाढ़ के बाद हलके के गांव मिताथल, खरक, धनाना, बडेसरा, जताई, सुखपुरा, गुजरानी, नाथुवास, तिगड़ाना समेत ज्यादातर गांवों में तबाही से प्रभावित किसानों, ग्रामीणों को मुआवजा राशी उपलब्ध करवाई। सुखपुरा माईनर का निर्मााण करवाया, जिस वजह से आज सुखपुरा खुशहाल है। हलके के लगभग सभी गांवों में भजनलाल ने अपने शासनकाल में सड़कों व पक्की गलियों का निर्माण करवाया। हलके के पढ़े लिखे युवाओं को योग्यता के आधार पर बड़ी संख्या में रोजगार दिया।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close