हिसार

ठीक फुटपाथ को तोडक़र बनाना भ्रष्टाचार को बढ़ावा व जनता के पैसे की बर्बादी: हिन्दुस्तानी

सरकार, प्रशासन की जनता के पैसे की बर्बादी के प्रति जवाबदेही क्यों नहीं

टुडे न्यूज | हिसार

  • जीजेयू के सामने ठीक फुटपाथ को तोडऩे की बजाय शहर में विभिन्न जगहों पर टूटे पड़े फुटपाथों को ठीक करवाए प्रशासन।

  • पुरानी इंटरलॉकिंग टाइलों के लेवल को ठीक करके जनता का पैसा बचाया जा सकता है : हिन्दुस्तानी।

  • हिन्दुस्तानी के सत्याग्रह धरने को हुए 993 दिन।

राष्ट्र व मानवता को समर्पित ‘जागो मानव-बनो इंसान’ संस्था के अध्यक्ष सामाजिक कार्यकर्ता गंगापुत्र राजेश हिंदुस्तानी 993 दिनों से राजीव नगर में शुद्ध पेयजल आदि मांगों पर सत्याग्रह धरने पर हैं। वहीं उनकी समाजहित व पीडि़तों की मदद के साथ जागरुकता अभियान जारी है। हिन्दुस्तानी ने बताया कि शासन-प्रशासन व नेता अपने खड़े होने के नीचे की जमीन तो देखते नहीं जबकि दूर की चीजें ज्यादा देखते हैं। जी हां, जहां एक ओर लघु सचिवालय हिसार के सरेआम टूटे-फूटे, खस्ताहाल परिसर के चलते आने-जाने वालों के लिए खतरा मंडराता रहता है। फुटपाथ कई वर्षों से ना होने से व गाडिय़ों के लिए बहुत कम जगह होने से आमजन को भारी परेशानी के साथ-साथ कई बार चोटें लग चुकी हैं वहीं शासन-प्रशासन व नेताओं के विकास के दावे सबूत सहित खोखले साबित हैं और सरकार की जीरो टोलरेंस नीति की पोल खोलते हैं।

राजेश हिन्दुस्तानी ने बताया कि बरवाला चुंगी मोड़ से जीजेयू की दीवार के साथ ठीक फुटपाथ को तोडक़र नया बनाया जाना जनता के पैसे की घोर बर्बादी है। जहां जरूरी है वहां जनता का पैसा लगने की बजाय व्यर्थ बर्बाद किया जाना भ्रष्टाचार का जीता-जागता सबूत है। क्या सरकार, प्रशासन की जनता के प्रति कोई जवाबदेही नहीं है। ऐसा विकास किस काम का जो जनता को मूलभूत सुविधाएं देने की बजाय उसके पैसे की बर्बादी करे। शहर में कई जगह सडक़ों पर गड्ढे हैं वहीं कई फुटपाथ टूटे हैं वो तो बनाए नहीं गए जबकि ठीक को तोडक़र नया बनाकर विकास दिखाना चाहते हैं। हिन्दुस्तानी ने कहा कि इंटरलॉकिंग टाइलों के थोड़ा-बहुत टूटे या बैठ जाने पर उन्हें लेवल करके ठीक जनता का पैसा बचाकर उचित जगह लगाया जाना चाहिए जबकि नेताओं व अफसरों की जेबें भ्रष्टाचार से भरी जा रही हैं।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close