टुडे न्यूज़हिसार

आप को देता हूं 100/100 नंबर, जो कोई नहीं कर पाया वो हिसार टुडे ने किया : आशीष लावट

नागरिकों ने जताया हिसार टुडे का अाभार और पार्षद अनिल जैन के कार्यों की करी सराहना

Today News | हिसार

हिसार टुडे ने बीते दिन अपनी प्रदर्शित रिपोर्ट में बताया था कि किस प्रकार हिसार ऋषि नगर के निवासी गए काफी समय से “कालापानी” से भी बदतर सजा से होकर गुजर रहे थे। हमने बताया था कि कैसे सबसे पॉश वीवीआईपी एरिया के तौर पर मशहूर ऋषिनगर की गलियों का हाल झोपड़पट्टी से भी बदतर हो चुका था। हर बार बरसात आते ही जलनिकासी और सीवेरज की कोई पर्याप्त व्यवस्था न होने के कारण यहां 15-15 दिनों तक गलियां सीवर के गंदे पानी के कारण भरी रहती थी। परिणामस्वरूप डेंगू, मलेरिया और अन्य प्रकार की बीमारियों का प्रकोप परिस्थिति को और विकट बनाने के लिए काफी था।

सीवर का पानी भरे रहने की वजह से न केवल नागरिको को चलने में दिक्कतों का सामना करना पढता था, बल्कि एम्बुलेंस से अस्पताल ले जाते वक्त मरीज पर भी खतरा मंडराता था। मगर आखिरकार हिसार टुडे की खबर पर संज्ञान लेते हुए यहां के पार्षद अनिल जैन ने बड़ी गंभीरता से यह मुद्दा उठाते हुए, यहां के नागरिकों की सालों से चली आ रही परेशानियों का तुरंत इलाज करते हुए जमा काला पानी निकलवाने का काम किया।

कार्तिक अस्पताल के लापरवाही के कारण उत्पन हुई समस्या को देखते हुए उन्होंने अस्पताल को सख्त हिदायतें दी, और ब्लॉक सीवर साफ करवाकर यहां के नागरिकों को राहत देने का काम किया।
इस कार्य के समापन के बाद ऋषिनगर के निवासी आशीष लावट ने हिसार टुडे का आभार मानते हुए कहा कि “मैं हिसार टुडे को 100/100 नम्बर देता हुं। उन्होंने कहा कि हिसार टुडे की टीम के साथ मैं यहां के पार्षद अनिल जैन का बेहद शुक्रगुजार हुं। उन्होंने सुबह से ही अपनी पूरी टीम के साथ यहां के नागरिकों कि समस्या का निराकरण करने का काम किया। वही पार्षद अनिल जैन ने कहा कि “वाकई यहां कि समस्या बेहद गंभीर थी। कार्तिक अस्पताल के कारण सीवर ब्लॉक हुआ था, उनके हस्पताल से कंस्ट्रक्शन का मलबा पानी निकासी को रोके हुआ था, हमने उनको सख्त हिदायतें देते हुए सारी सफाई करवाई हैं।

मगर हम इसका नियमित हल खोज रहे हंै ताकि ऐसी समस्या न आए। जैन ने आगे कहा कि हमने पाया है कि पहले जालियों का काम करवाते समस्या पर हमने ध्यान नहीं दिया था कि गोस्वामी अस्पताल के पास गली ट्रैप (जीटी) ब्लॉक हुआ है। हम बारिश रुकते ही यह ब्लॉक खुलवाने का काम करेंगे, जिसके बाद नागरिकों को कभी समस्या नहीं आएगी।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close