टुडे विशेषराजनीतिहरियाणा

हिसार संसदीय क्षेत्र में भाजपा को मजबूत करने वाले कुछ चुनिंदा “अनमोल हीरे”

ताकत बढ़ती है जहां होती है एकता | एकता बढ़ती है जहां होता है विश्वास | विश्वास बढ़ता है जहां होता है एक लक्ष्य | लक्ष्य होता है जहां होती है एक ताकत

महेश मेहता | हिसार टुडे
हिसार लोकसभा क्षेत्र से चुनाव जीतना पहले भारतीय जनता पार्टी के लिए चुनौतियों से काम नहीं था। यहां पर घरानेशाही का राज था। वोट बैंक उन्ही घरानो के इर्द गिर्द घूमता था, मगर यह तस्वीर बदल चुकी है। अब हिसार संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले 8 विधानसभा और खासकर हिसार हलके में घरानेशाही की ताकत को चुनौती देते हुए आज भारतीय जनता पार्टी की टीम ने हिसार में ऐसी राजनीतिक ताकत को बलवान करने की दिशा में काम किया उसको देखते हुए यह कहना गलत नहीं होगा की भाजपा के पूरी फ़ौज के साथ भाजपा के कुछ चुनिंदा अनमोल हीरे ऐसे हैं जिन्होंने हिसार की जनता को भाजपामय बनाने और परिवारवाद से मुक्त करवाने की दिशा में महत्वपूर्ण भूमिका अख्तियार की।

यह वही अनमोल हीरे हैं जिन्हें दशकों से संगठन में काम करते हुए उस नामुमकिन चीज को मुमकिन कर दिखाया जो सीधे तौर पर भाजपा की एकता और एकजुटता की ताकत का परिचय देता है। भाजपा के वो अनमोल हीरे हैं जिलाध्यक्ष सुरेंद्र पुनिया, राजयसभा सांसद चौधरी बीरेंद्र सिंह, डी.पी वत्स, विधायक डॉ कमल गुप्ता, वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु, मेयर गौतम सरदाना, प्रदेश उपाध्यक्ष महिला मोर्चा सोनाली फोगाट, कॉनफेड चेयरमैन कैप्टन भूपेंद्र, भाजपा नेता घोलू गुज्जर, भाजपा नेता रणबीर गंगवा, जिला महामंत्री सुजीत कुमार, जिला अध्यक्ष भाजपा महिला मोर्चा गायत्री देवी, किसान मोर्चा जिला अध्यक्ष कृष्ण सरसाना जैसे कई ऐसे अनमोल हीरे हैं जिन्होंने हिसार हलके के साथ पुरे हिसार संसदीय क्षेत्र को भाजपामय बनाने में बहुमुल्य भूमिका अदा की है। यही कारण है कि आज ऐसी नौबत आ गयी है कि एक ही हलके में इतने सारे दिग्गज अपनी दावेदारी पेश कर रहे है, जो एक प्रकार से प्रतिस्पर्धा के साथ जनता के बीच अच्छी छवि और बर्ताव रखने के लिए कार्यकर्ताओं को बाध्य करता है।

इन अनमोल हीरों के टीम वर्क की वजह से भाजपा में हो रही एंट्री पर एंट्री

बता दें यह इतिहास गवाह है कि अब तक हिसार हलके के साथ संसदीय क्षेत्र में 5 साल पूर्व तक भाजपा की वह शक्ति नहीं थी जो इस बार 5 साल में दुगुनी रफ़्तार से बढ़ी है। भाजपा की जब उतनी ताकत नहीं थी तब भाजपा के कुछ चुनिंदा हीरे दशकों से भाजपा का कमल लेकर संगठन की ताकत को मजबूत करने में लगे थे। आज उनके प्रयास का नतीजा ही है कि भाजपा का कुनबा लगातार बढ़ता जा रहा है। रणबीर गंगवा जहां इनेलो से भाजपा में शामिल हुए, वहीं हरियाणा जनहित कांग्रेस से गौतम सरदाना, घोलू गुज्जर कैसे दिग्गजों ने भाजपा का दामन थाम कर भाजपा का कुनबा और मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की।

भाजपा में विभिन्न समाज के दिग्गज कर रहे पार्टी को मजबूती देने का काम

बता दें कि भारतीय जनता पार्टी में ऐसे दिग्गज शामिल हुए हैं जो अलग-अलग समाज का प्रतिनिधित्व करते हुए भी भाजपा के विचारों के साथ चलते हुए समाज का विश्वास जीतने में कामयाबी हासिल कर रहे हैं। जहां एक तरफ बीरेंद्र सिंह सबसे बड़े जाट नेता, मेयर गौतम ने सबसे बड़े पंजाबी समाज के नेता, रणबीर प्रजापति समाज, डॉ कमल गुप्ता बनिया समाज, घोलू गुज्जर गुर्जर समाज, सुजीत कुमार उत्तरभारतीय वोटों में मजबूत पकड़ के लिए जाने जाते है। यही कारण है कि भाजपा के लिए हर तरफ मजबूती देने का काम यह लोग कर रहे है।

भाजपा की महिला विंग मजबूती में किसी से कम नहीं

बता दें कि हरियाणा में महिलाओं को राजनीति में स्थान और पहचान बड़ी मुश्किल से मिलती थी। मगर इस मिथ्या को जहां हिसार से सुनीता दुग्गल को सिरसा से पार्टी ने सांसद की टिकट दी तो वहीं अभिनेत्री और भाजपा महिला मोर्चा प्रदेश उपाध्यक्ष सोनाली फोगाट को कला परिषद् का हिसार मंडल का अध्यक्ष बनाया, गायत्री देवी को भाजपा महिला मोर्चा हिसार जिला अध्यक्ष की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी देकर महिला विंग को मजबूत करने की दिशा में काम किया और राजनीति की भागेदारी को भी सुनिश्चित किया।

जिलाध्यक्ष सुरेंद्र पुनिया संगठन के मजबूत नेता
बता दें कि इस बात से सभी अवगत हैं कि अगर हिसार संसदीय क्षेत्र और हिसार हलके में भाजपा को मजबूत करने की दिशा में जिलाध्यक्ष सुरेंद्र पुनिया का अहम योगदान माना जा रहा है। लगतार संगठन में दिग्गजों को पार्टी में लाने में भी उनकी भूमिका अहम मानी जा रही है। माना जा रहा है गौतम सरदाना, रणबीर गंगवा के बाद अब जजपा की टीम को तोड़ने में भी सुरेंद्र पुनिया अहम भूमिका अदा करने वाले है। आज जिस प्रकार से सुरेंद्र पुनिया संगठन में अहम भूमिका अखितयार करते जा रहे है। आज वह जिस रफ़्तार से बढ़ते जा रहे हैं उससे यह कहना गलत नहीं होगा कि उन्हें आगे चलकर प्रदेश स्तर में महत्वपूर्ण जिम्मेदारी से नवाजा जा सकता है।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close