टुडे विशेषहिसार

जजपा की बनी सरकार तो पहली कलम से हल होगा “इन्हांसमेंट” का मुद्दा : जितेंद्र श्योराण

जनता के करोडों रूपए झूठे ढकोसले के नाम डकार चुकी भाजपा, एसी में रहने वाले विधायक को नकार चुकी जनता

अर्चना त्रिपाठी | हिसार टुडे

“छाज भी बोले छलनी भी बोले” जैसे अभद्र भाषा का उपयोग कर लोगों का अपमान करने वाले भाजपा के विधायक डॉ कमल गुप्ता को मुंह तोड़ जवाब देने के लिए इस बार चुनावी रण में जननायक जनता पार्टी के नेता दुष्यंत चौटाला ने अपने ऐसे कर्मठ कार्यकर्ता को हिसार की इतिहासिक धरती से मैदान में उतारा है, जिसने जनहित के कार्यों के साथ भाजपा के प्रत्याशी के पसीने छुड़ा दिए हैं। हम बात कर रहे हैं जननायक जनता पार्टी के दमदार प्रत्याशी “जितेन्द्र श्योराण” की।

सेक्टरवासियों पर जबरन गलत इन्हांसमेंट थोपे जाने को लेकर सरकार के खिलाफ काफी समय से अपनी आवाज बुलंद करने वाले जितेन्द्र श्योराण का मानना है कि दुष्यंत की सरकार बनने के बाद पहले ही कलम से इन्हांसमेंट का मुद्दा हल कर दिया जाएगा। इतना ही नहीं उन्होंने भाजपा विधायक के उन वादों को खोखला बताते हुए कहा कि कहा था कि “2017 में हिसार आवारा पशु मुक्त” हो गया, मगर आज जाकर शहर के हालात देख ऐसा कोई सेक्टर और चौराहा नहीं बचेगा, जहां आवारा पशु न पाए गए हों। वहीं हवाई जहाज के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि जब मैं बच्चा था तब जो हवाई अड्डा देखा था आज भी उसमें कोई खास बदलाव नहीं आया है। कब तक विधायक कहते रहेंगे कि यह शिशु स्टेज में है और कितना समय लगेगा उसे विकसित होने में।

अपने चुनावी मुद्दों का जिक्र करते हुए जितेन्द्र श्योराण ने कहा कि “मैं चाँद तारे तोड़ लाऊंगा” जैसे झूठे वादे नहीं करूंगा बल्कि जनहित के मुद्दे पर काम करते हुए वही बात करूंगा जिन कार्यों को करवाने में वह सक्षम रहेंगे। उन्होंने कहा कि इस चुनाव में “आवारा पशु मुक्त”, छोटे व्यापारियों के व्यवसाय को जीवंत रखने के लिए ट्रैफिक की पर्याप्त व्यवस्था की जाएगी। जितेंद्र श्योराण ने कहा कि आज दुष्यंत और जननायक जनता पार्टी को जनता का इतना प्रेम मिल रहा है कि मुझे विश्वास है कि इस बार चुनाव में हिसार ने उनकी 50 हजार के मतों से जीत दर्ज करवाएंगे।

आवारा पशुओं को हटाने के नाम पर भाजपा विधायक ने सिर्फ किया “फोटो सेशन”

जितेंद्र श्योराण ने कहा कि विधायक महोदय तो 2017 को ही घोषित कर चुके हैं कि हिसार आवारा पशु से मुक्त हो चुका है। मगर ऐसा है वह किस आवारा पशु से हिसार को मुक्त करवाने का वह काम कर रहे हैं? जितेंद्र श्योराण ने कहा कि हिसार संघर्ष समिती का हमने गठन किया था और इसी संस्था के माध्यम से हमने हिसार को आवारा पशु को लेकर भाजपा विधायक के झूठे वादों की पोल खोल करते हुए कहा कि इसी साल मार्च में हमने 150 गायों को खुद पकड़ा था। उन्होंने कहा कि आज इन लोगों ने आवारा पशुओं को हटाने के नाम पर सिर्फ फोटो सेशन करने का काम किया। उन्होंने कहा कि अगर जनता उन्हें चुनकर लाती है तो वह हिसार को “आवारा पशु मुक्त” कर देंगे। जिसका प्रयास उन्होंने इसी साल किया जिसके बाद प्रशासन जागा था। इतना ही नहीं गौ अभ्यारण की दुर्दशा पर भी जितेंद्र श्योराण ने सभी का ध्यान आकर्षित करवाया और कहा कि चुनाव के डर से अफरातफरी में विधायक ने आवारा पशु को पकड़ने का काम किया जब कि गौ अभ्यारण में सभी सुविधाएं मुहैय्या नहीं करवाई।

हरियाणा का आने वाला भविष्य होगा सुनहरा, “दुष्यंत”

जितेंद्र श्योराण ने कहा कि आज हरियाणा में दुष्यंत ही दुष्यंत की गूंज है। आज जनता ताऊ देवीलाल के विचारो में चलने वाले दुष्यंत चौटाला को दिल खोलकर अपना प्यार दे रही है, मुझे विश्वास है कि इस बार दुष्यंत की ही सरकार बनेगी और आने वाले हरियाणा का भविष्य उज्जवल होगा।

हरियाणा स्वर्ण जयंती” के नाम पर जनता के करोडों रूपए झूठे ढकोसले के नाम डकार चुकी भाजपा

जननायक जनता पार्टी के नेता जितेंद्र श्योराण का कहना है कि इन 5 सालों में भाजपा ने विकास जरूर किया है, मगर यह विकास सिर्फ “पब्लिसिटी के नाम पर जनता के करोडों रूपए को झूठे ढकोसले के नाम पर भाजपा ने खर्च किया है।” मैं हिसार की जनता को बताना चाहता हूं 2017 में स्वर्ण जयंती के समापन समारोह का आयोजन एक दिन का 8 करोड़ रूपए खर्च आया। क्या यह खर्च जनता के हित के लिए किया जाएगा। यह पैसा फूलों, डीजल और पेट्रोल में पानी की तरह खर्च किया गया। कितने की कंपनी है जिनको अब तक उस इवेंट की बकाया राशि तक नहीं प्रदान की गयी। जिन कंपनी ने टेंडर लिए उन्होंने कहा कि अगर नयी सरकार आयी तो उनको उनकी बकाया राशि नहीं मिलेगी तो हमने उनको भरोसा दिलाया कि सबका पैसा मिलेगा। एक कंपनी तो दिल्ली की थी, जिनका 20 करोड़ का हरियाणा प्रदेश में काम था वह कंपनी दिवालिया हो गयी, वही 8 करोड़ यहां के स्थानीय कंपनी का बकाया है और टैक्सी वालों का भी पैसा बकाया कर रखा है भाजपा ने।

हिसार को मिला एसी में रहने वाला विधायक: श्योराण

जितेंद्र श्योराण ने कहा कि उनका राजनीति में आने का मकसद कोई लोभ लालच नहीं है, बल्कि वे मानते हैं कि राजनीति के माध्यम से हम लोगों के काम प्रशासनिक तौर पर अधिक अच्छे ढंग से करा सकते हैं। उन्होंने कहा कि अब यह लोगों को तय करना है कि उन्हें हमेशा अपनो बीच रहकर संघर्ष करने वाला साथी चाहिए या एयरकंडीशनर में बैठने वाले ऐसे पूंजीवादी लोग, जो केवल जनता को केवल मात्र वोटबैंक की तरह यूज करते रहे हैं। उन्होंने बस स्टैंड की दिवार के मुद्दे पर भाजपा को घेरते हुए कहा कि यह बसस्टैंड की दिवार नहीं बल्कि चीन की दिवार है। इसलिए विधायक ने आज तक उस मुद्दे को हल नहीं करवाया।

कमल गुप्ता को जनता सिखाएगी सबक

क्या एक विधायक को ऐसा वक्तत्व करना शोभा देता है? मैं तो इतना ही कहना चाहूंगा कि आने वाले समय मेें जनता छलनी से छान छान कर उनको वोट देगी। दरअसल डॉ कमल गुप्ता ने सिर्फ मेरे साथ ऐसा व्यवहार नहीं किया बल्कि उन्होंने हिसार की पूरी जनता के साथ ऐसा व्यवहार किया। जनता जनता ही उनको इसका जवाब देगी। आप इंद्रा कॉलोनी में चले जाइये वहां तो बाकायदा बोर्ड लगे हैं कि कमल गुप्ता जी वोट मांगने हमारे पास मत आइए। कभी वो बोलते हैं कि सिफारिश के बिना नौकरी नहीं मिलती। क्या किसी इतने उम्रदराज व्यक्ति को यह शोभा देता है। मेरा तो कहना है कि ऐसे व्यक्ति को जनता ही छलनी से छान छान कर वोट दे।

जजपा की सरकार बनी तो इन्हांसमेंट का मुद्दा करेंगे हल: जितेंद्र

वही इन्हांसमेंट के मुद्दे पर चर्चा में आये जितेंद्र श्योराण ने कहा कि उनकी जजपा में जुड़ने से पहले ही उन्होंने इन्हांसमेंट के मुद्दे पर जजपा नेता दुष्यंत चौटाला ने चर्चा की थी। तब उन्होंने विश्वास दिलाया था कि जजपा की सरकार बनने के बाद पहली कलम से इन्हांसमेंट के मुद्दे को हल किया जाएगा। जितेंद्र श्योराण ने कहा कि हमने कहा इन्हांसमेंट माफ नहीं, बल्कि जो जायज है वो कॅल्कुलेशन करे और जो जायज है वो जनता से ले न कि नाजायज वसूली करें।

हवाई अड्‌डे के नाम डकारे करोड़ों

हिसार हवाई जहाज के मुद्दे पर जजपा प्रत्याशी का कहना था कि जब मैं छोटा था तब यहां पर हवाई जहाज की ट्रेनिंग देखने आता था। तब से लेकर आजतक यह हवाई जहाज शिशु का शिशु ही है, कभी जवान नहीं बना। उन्होंने कहा कि हवाई जहाज के नाम पर बस सरकार ने करोडों रूपए खर्च किये, मगर नतीजा शून्य रहा। न यहां हवाई जहाज उड़ रहा है, स्पाइस जेट का अता पता नहीं। मुझे तो लगता है कि सिर्फ सीएम के आने-जाने के लिए ही यह हवाई जहाज है।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close