टुडे न्यूज़टुडे विशेषहरियाणाहिसार

विकास का पर्याय भाजपा : डॉ. कमल गुप्ता

हिसार से 7000 आवारा पशुओं में से 2500 आवारा पशुओं को पकड़ा, कुछ महीनों में होगा “हिसार आवारा पशु मुक्त”

> हिसार के कनेक्टिविटी पर अब तक किसी ने नही दिया ध्यान
> विपक्ष का अस्तित्व ख़त्म, भाजपा की लहर
>हिसार को हिन्दुस्तान का नंबर 1 शहर बनाना है लक्ष्य
4 महीनों में हिसार को जायेगा आवारा पशु मुक्त

अर्चना त्रिपाठी | हिसार टुडे

आरएसएस और भाजपा से लंबे समय से जुड़े रहे हैं। पिछले चुनाव में डा. गुप्ता ने सावित्री जिंदल को हराया था। डा. कमल गुप्ता ने अपने कार्यकाल में अनेक विकास के कार्य करवाए। इसमें से हिसार एयरपोर्ट का शुरू होना उनकी सबसे बड़ी उपलब्धि रही है।
उनके विधायक रहते हिसार में पहली बार भाजपा ने मेयर का चुनाव जीता।

इसके अलावा दूसरी पार्टियों से बड़े नेता भाजपा में शामिल करवाए और संगठन को मजबूत बनाया। हिसार में टिकट देने के लिए भाजपा हाईकमान को अधिक सोचने की जरूरत नहीं पड़ी। यहां डा. कमल गुप्ता के अलावा कोई ऐसा चेहरा भाजपा के सामने नहीं था, जो सावित्री जिंदल के सामने चुनाव लड़ सके। इस कारण भाजपा ने डा. कमल गुप्ता को टिकट दिया।

2014 में कांग्रेस की दिग्गज नेता सावित्री जिंदल को बुरी तरह पराजित कर हिसार में भाजपा का पहली बार कमल खिलाने वाले डॉ कमल गुप्ता को उनके 5 साल के कार्यकाल के दम पर उन्हें दुबारा हिसार से चुनावी मैदान में उतारने का काम भाजपा हाई कमान ने किया है।

बता दें कि आरएसएस से लम्बे समय तक जुड़े रहे डॉ कमल गुप्ता ने इन 5 सालों में हिसार में अपने द्वारा किये विकासशील कार्यों के साथ वह जनता के बीच जा रहे हैं। इन 5 वर्षों में किये विकास में हिसार का अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा उनके कार्यकाल में मील का पत्थर बनकर साबित हुआ है। इतना ही नहीं सड़कों के विकास, रोड़ और रेलवे कनेक्टिविटी के चलते उन्होंने हिसार को एक अलग मुकाम तक ले जाने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की है। आज कॉफी विद हिसार टुडे में हम मिलवाने जा रहे हैं हिसार के विधायक डॉ कमल गुप्ता से।

हिसार का दुर्भाग्य: पिछली सरकारों ने हिसार की कनेक्टिविटी के बारे में नहीं सोचा, मगर हमने कर दिखाया

डॉ कमल गुप्ता का मानना है कि किसी भी शहर का विकास उस शहर के बुनियादी विकास के ढांचे पर निर्भर करता है। मगर हिसार के 70 साल के विकास में किसी भी सत्तारूढ़ ने हिसार शहर के बुनियादी विकास के साथ उसकी कनेक्टिविटी के बारें में गंभीरता से नहीं सोचा। मगर हिसार में 2014 में भाजपा की सरकार आने के बाद न केवल उन्होंने हिसार में वाशिंग यार्ड के कार्यों को मंजूरी दिलवाने का काम करवाया, बल्कि उनके इन प्रयासों का परिणाम यह हुआ कि लम्बी दुरी की ट्रैन हिसार आने लगी। इतना ही नहीं मैंने पूर्व केंद्रीय रेलवे मंत्री सुरेश प्रभु से गुजारिश कर हिसार रेलवे को रोहतक वाया महम से जोड़ने का काम करवाया।

हिसार का 5 साल का विकास 70 साल के विकास पर भारी

हिसार से भाजपा की तरफ से ताल ठोक रहे डॉ. कमल गुप्ता का मानना है कि 2014 में हिसार की जनता ने पहली बार हिसार के बेटे को सराखों पर बिठाया था। मगर उन्होंने जनता के विश्वास पर खरा उतरते हुए 5 साल में इतना विकास किया जो 70 साल के कार्यों पर भारी पड़ा। सडकों की बात करें तो सेक्टर 13, 14, 15, 16, 9, 11 के साथ अर्बन स्टेट, मेला ग्राउंड, सूर्य नगर और यह सारा का सारा ऑटो मार्केट जहां 800 के करीब दुकाने हैं। सभी के रास्ते हमने पक्के करवाए और सडकों का निर्माण करवाया। बरवाला चुंगी से पड़ाव चौक, पड़ाव चौक से लाहौरिया चौक, लाहौरिया चौक से डीसीएम और डीसीएम से एयरपोर्ट तक का विकास करवाया।

अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा और क्रिकेट स्टेडियम का विकास साबित होगा “मील का पत्थर”

कमल गुप्ता का मानना है कि उनके कार्यकाल में एशिया का सबसे बड़े हवाई अड्डे में शुमार हिसार हवाई अड्डे के लिए 7300 एकड़ जमीन को लॉक कर दिया गया है। वो दिन दूर नहीं जब इटली, अमेरिका, रशिया, चीन और जापान के हवाई जहाज यहां आएंगेे तो यह शहर देश का नंबर एक शहर बनेगा। इतना ही नहीं इस सपने को साकार करने के लिए 70 एकड़ में अंतर्राष्ट्रीय दर्जे के क्रिकेट स्टेडियम बनाने का प्रस्ताव भी उन्होंने मंजूरी के लिए सरकार के पास भेजा है।

अगर हमने यहां एक भी टेस्ट मैच करवा लिया तो यहां सैकड़ों होटल्स खुल जायंेगे, असंख्य हस्पताल एवं मेडिकल हब बन जायेगा। इतना ही नहीं गरीब व्यक्तियों को भी रोजगार का द्वारा खुलेगा। कनेक्टिविटी होने और दिल्ली से सवा घंटे की दुरी होने के चलते यहां असंख्य उद्योगों का विकास होगा और यह गुरुग्राम को भी पीछे छोड़ आगे निकल जाएगा।

हिसार पुरे हिन्दुस्तान में बुलंदी पर होगा। केन्दीय मंत्री नितिन गडकरी की बातों का जिक्र करते हुए डॉ कमल गुप्ता का कहना था कि अमेरिका का इंफ्रास्ट्रचर इसलिए अच्छा नहीं क्योंकि वहां के लोग अमीर हैं। बल्कि वहां का इंफ्रास्ट्रक्टर एेसा बनाया इसलिए वहां के लोग अमीर हुए। ठीक उसी प्रकार हिसार में इन्फ्राट्रक्चर नहीं था। इसलिए हिसार से लोगों का पलायन होता था, मगर अगर यहां सभी बुनियादी सुविधा हो तो यहां से छोड़कर लोग क्यों जाएंगे?

सुरजेवाला और बिश्नोई परिवार का नाम लिए बगैर कमल गुप्ता का प्रहार, कहा नहीं है कोई टक्कर में

लोकसभा में इतिहासिक जीत दर्ज करवाने के दुबारा यही नतीजे हिसार विधानसभा में दोहराने का आत्मविश्वास कायम करते हुए कहा कि लोकसभा में हिसार से भाजपा के प्रत्याशी को 57 हजार वोटों की लीड मिली थी। यानी 144 बूथों में 400 वोटों के लीड से लोकसभा चुनाव में भाजपा जीती थे। मगर इस बार विधानसभा चुनाव में दमदार तरीके से जीत होगी। उन्होंने लोकसभा चुनाव का जिक्र करते हुए कहा था कि लोकसभा में यहां कांग्रेस पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष स्तर का आदमी चुनाव में खड़ा हुआ था तो उसकी जमानत मुश्किल से बची थी।

दूसरा व्यक्ति भी अपने आपको राष्ट्रीय अध्यक्ष से कम नहीं मानता था और उनका बेटा भी चुनाव में खड़ा हुआ था उनकी भी जमानत जब्त हो गयी। आज भी इन पार्टियों ने ऐसे लोगों को चुनाव में खड़ा किया है जिनके बारे में मुझे जानकारी नहीं है। आज हिसार की बात करें तो जजपा और कांग्रेस का अस्तित्व ही नहीं बचा है। क्योंकि हमने 5 साल में विकास किया और कुछ पार्टी घोटालों में लिप्त पाई गयी। इसलिए आज की स्थिती को देखकर यह नहीं लगता कि भाजपा के टक्कर में कोई है।

मुमकिन: रोड और रेलवे से दिल्ली का रास्ता सवा घंटे में होगा तय

डॉ कमल गुप्ता ने कहा कि हिसार से कनेक्टिविटी जब नहीं थी तो दिल्ली जाने में 5 घंटे लगते थे, सड़कों का जाल ऐसा है कि ढाई से 3 घंटा लगता था। मगर हमने 6 लेन का एक्सप्रेस वे तैयार करने का एमओयू पवार हस्ताक्षर किया है। जिसके चलते दिल्ली तक का सफर सवा घंटे में मुमकिन हो जायेगा । रोड़ और रेलवे का काम हो जाएगा तो हम मांग करेंगे यहां से शताब्दी चले, तेजस चले। जब रेलवे से कनेक्शन वाया महम हो जायेगा तो रोड़ और रेलवे से दिल्ली का सफर सवा घंटे में हो जाएगा।

विपक्ष पर वार: हिसार हवाई अड्डे का हमने सपना देखा है कोई जुर्म नहीं किया

हिसार हवाई अड्डा के कार्यों में देरी की बात को स्वीकारते हुए कमल गुप्ता ने कहा कि उड़ान भरने में देरी जरूर हुयी, क्योंकि टेंडर में कंपनी सामने नहीं आ रही थी क्योंकि उनका मानना था कि हिसार की कनेक्टिविटी नहीं है। हमने हिसार का स्टैण्डर्ड को बढ़ाने का काम किया, इंफ्रास्ट्रक्टर बनाने का प्रयास किया। उन्हने कहा कि यह हवाई अड्डा अभी शिशु स्टेज पर है और स्टेप बाय स्टेप काम चल रहा है “हाथ कंगन को आरसी क्या, पढ़े लिखे को फ़ारसी क्या।”

4 महीनो में “आवारा पशु मुक्त” हो जायेगा हिसार

आवारा पशुओं का मुद्दा लेकर 2014 में चुनाव जीतने वाले डॉ कमल गुप्ता को इस बार शहर में आवारा पशुओं के कारण उन्हें जनता के साथ विपक्ष के कोप का भी भागी बनना पड़ रहा है। इस पर डॉ कमल गुप्ता ने कहा कि हिसार में आज तकरीबन 7000 आवारा पशु थे 2500 को सफलता पूर्वक शहर से हटा दिया गया है। मगर और पशु रखने के लिए शेड का निर्माण किया जा रहा है इसलिए आने वाले 4 महीनो में शहर को आवारा पशुओं से मुक्ति मिल जाएगी।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close