मनोरंजनहरियाणा

हरियाणवीं संस्कृति से जगमग होगी शैक्षणिक नगरी बहल

Today News| बहल/भिवानी

रैंप पर हरियाणवीं घाघरा, धोती और कुर्ता। इतना ही नहीं पूरी लोक संस्कृति पंडाल में जगमग होगी। युवा पीढ़ी से वर्षों पहले दूर हो चुके चरखा, रई, चाखड़ा, बिलौने, कुल्हडी और ऐतिहासिक विरासत की अनेकों निशानियां एक बार फिर अपनी शान दिखाएंगी। देसी रागनियां व लोकगीत जहां पुराने परिवेश से रुबरु करवाएंगे, वहीं आज की संस्कृति का कड़वा सच भी बताएंगे। यह सब देखने को मिलेगा हरियाणवीं संस्कृति को सहेजने के प्रयासों के अर्न्तगत शैक्षणिक नगरी बहल स्थित बीआरसीएम एजुकेशन ग्रुप के कॉलेज परिसर में 30 सितंबर को शाम सात बजे से आयोजित होने वाले प्रदेश के 16वें हरियाणवीं फैशन शो में।

इसी कड़ी में पांच जिलों के तीस से अधिक कलाकारों ने बुधवार सुबह बीआरसीएम ज्ञानकुंज स्कूल में कड़ा अभ्यास किया। आयोजक ने जानकारी देते हुए कहा कि इस ऐतिहासिक हरियाणवीं फैशन शो में हिसार, फतेहाबाद, जींद, भिवानी, रोहतक, गुरुग्राम, सिरसा, गुरुग्राम सहित कुल 16 जिलोंं के प्रतिभागी रैंप पर कैैटवॉक करते नजर आएंगे। इस कार्यक्रम में हरियाणवीं फैशन शो, लोकगीत गायन, रागनी गायन सहित विभिन्न प्रतियोगिताओं का भी आयोजन किया जाएगा। जिसमें स्थानीय कलाकारों को भी प्रोत्साहित किया जाएगा। श्रीमति सांगवान के अनुसार हरियाणवीं संस्कृति को सहजने के प्रयासों
के अन्र्तगत आयोजित होने वाले इस फैशन शो में 4000 से अधिक दर्शकों के बैठने की व्यवस्था की जाएगी। आयोजक के अनुसार कार्यक्रम में पहुंचने वाले मेहमानों का स्वागत विशेष अंदाज में किया जाएगा।

कार्यक्रम में पहुंचने वाले मेहमानों को भोजन में गुलगले, स्वाहली व देसी पकवानों के साथ-साथ मुर्रा नस्ल की भैंस के दूध से तैयार लस्सी पिलाकर व दही खिलाकर किया जाएगा। मेहमानों को मीठे के तौर पर कोल्हू से तैयार शुद्व देसी गुड़ भी खिलाया जाएगा। बहल में हरियाणवीं धरोहर की लगेगी प्रदर्शनी
इस दौरान हरियाणवीं संस्कृति, विरासत व खेत खलिहान से जुड़ी पुरानी धरोहरों व साजो सम्मान पर भी एक प्रदर्शनी आयोजित की जाएगी। जिसमें मुख्य रुप से पुराने बर्तन, खेती के काम आने वाले पुराने औजार, आभूषण, वस्त्र, पुराने सिक्कों, पनघट, रहट तथा हरियाणा के परिवहन के साधनों सहित तीन सौ से अधिक वस्तुओं को भी दर्शाया जाएगा।

नामी कलाकारों का रहेगा जमावड़ा

इस हरियाणवीं फैशन शो में हरियाणा प्रदेश के नामी कलाकार प्रदीप बूरा, पूजा हुड्डा, नवीन नारु व नफेसिंह रोहिल्ला सहित आधा दर्जन से अधिक कलाकार अपनी प्रतिभा का जलवा दिखाएंगे। साथ ही कई कलाकार इस दौरान मुख्य कलाकारों के साथ प्रस्तुति देते हुए नजर आएंगे। हरियाणवीं फैशन शो मेंं रागनी या एकल गायन में महिला व पुरुष दोनों वर्ग में होंगे। जबकि समूहगान केवल महिलाओं के लिए होगा। जिसमें जकड़ी व दूसरे हरियाणवीं लोकगीतों पर प्रतिभागी अपनी प्रस्तुति देंगे। इसके लिए आयुवर्ग की कोई सीमा नहीं रखी गई है।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close