सिरसाहरियाणा

पोषाहार को जनांदोलन बनाकर कुपोषण के तरफ सभी को जागृत करे : अतरिक्त उपायुक्त  

Hisar Today

राष्ट्रिय पोषाहार सप्ताह एवं प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना सप्ताह के अंतर्गत स्थानीय पंचायत भवन में जिला स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि अतिरिक्त उपायुक्त आम्रा तस्नीम शिकरत की। कार्यक्रम की अध्यक्षता महिला एवं बाल विकास विभाग की जिला कार्यक्रम अधिकारी डा. दर्शना सिंह ने की जबकि विशिष्ट अतिथि के रुप में जिला सूचना एवं जनसम्पर्क अधिकारी सुरेंद्र कुमार वर्मा मौजूद रही।

इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रिय  हित में राष्ट्रिय  पोषाहार सप्ताह को बढा कर एक महीना कर दिया है ताकि समाज का अधिक से अधिक फायदा हो। उन्होंने आंगनवाड़ी वर्करों से कहा कि गांव-गांव में यह संदेश पहुंचाएं कि पोषण से न केवल स्वयं की जिंदगी संवरती है बल्कि आने वाली पीढिय़ों का भी भविष्य बेहतर होता है। उन्होंने कहा कि पुरानी सोच के कारण पीढ़ी दर पीढ़ी पोषण पर ध्यान नहीं दिया जाता। इसलिए नवजात बच्चों का वजन कई बार कम होता है और विशेष रुप से लड़कों के मुकाबले में लड़कियों की लंबाई कम और वे दुबली, पतली होती है। इसलिए हमें लड़का लड़की में भेदभाव की मानसिकता को बदलने की जरुरत है। उन्होंने कहा कि लोगों की पुरानी धारणा है कि लड़का परिवार के लिए आजीविका कमाएगा लेकिन आज लड़कियां भी परिवार के लिए आजीविका कमाने में सक्षम हैं। उन्होंने कहा कि आज लड़कियां खेलकूद में भी मैडल ला कर अपने परिवार व क्षेत्र का नाम रोशन कर रही है। इसके अतिरिक्त शिक्षा व अन्य क्षेत्रों में बेटियों ने नाम कमाया है। इसलिए बेटियों को भी लड़कों से कम न आंके और उन्हें संतुलित आहार दें ताकि बेटियों शारीरिक व मानसिक रुप से भी स्वस्थ रहें और अपने समाज व देश के हित में अपना योगदान दे सकें। उन्होंने राष्ट्रिय  पोषाहार माह को सफल बनाने के लिए आंगनवाड़ी वर्करों से कहा कि वे इसे जनआंदोलन बना कर कुपोषण के प्रति लोगों को जागरुक करने का काम करें।

इस मौके पर अतिरिक्त उपायुक्त ने उपस्थितजनों, आंगनवाड़ी वर्करों, सुपरवाईजरों व अन्य महिलाओं को कुपोषण मुक्त, स्वस्थ व मजबूत बनाने के लिए शपथ दिलवाई कि वे राष्ट्रिय पोषण माह के दौरान हर घर तक सही पोषण का संदेश पहुंचाएंगे। सही पोषण का अर्थ पौष्टिक आहार, साफ पानी एवं सही प्रथाएं है। इसके अलावा इस पोषण अभियान को एक देशव्यापी आंदोलन बना कर हर घर-हर विद्यालय-हर गांव-हर शहर में सही पोषण की गूंज उठाने की भी शपथ दिलाई गई ताकि इस जनआंदोलन से सभी स्वस्थ हों और पूरी क्षमता प्राप्त करें और सही पोषण से देश रोशन करें। इस मौके पर महिला एवं बाल विकास विभाग की जिला कार्यक्रम अधिकार डा. दर्शना सिंह ने मुख्य अतिथि का स्वागत करते हुए बताया कि इस जिला स्तरीय कार्यक्रम में पोषण से संबंधित स्लोगन प्रतियोगिता एवं रैस्पी प्रतियोगिताएं करवाई गई।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close