हरियाणा

छात्र संघ चुनाव आम चुनावों के नतीजों में डालता है असर, इसलिए डर रही हैं भाजपा : दिग्विजय

Today News | हिसार

छात्र संगठन इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने छात्र संघ चुनाव करवाने को लेकर बरती जा रही देरी पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल को आड़े हाथों लिया हैं। सरकार कि वादाखिलाफी के तहत दिग्विजय चौटाला ने आज एचएयु में इनसो के छात्र संघटन और तमाम छात्रों से मुलाकात कर आगे की रणनीति तय करने के लिए मुलाकात की।  हिसार टुडे की टीम से खास बातचीत में दिग्विजय चौटाला ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल पर जमकर अपनी भड़ास निकाली।

इनसो राष्ट्रिय अध्यक्ष दिग्विजय चौटाला ने कहा कि भाजपा सरकार ने हमेशा से ही विद्यार्थियों को झूठे आश्वासन देकर हमेशा वादाखिलाफी की हैं। दिग्विजय ने कहा कि ‘जब पाप का घड़ा भर जाए तो उसे मिटाने के लिए भगवान श्री कृष्ण के रूप में युवा पीढ़ी को खड़ा होना पड़ेगा’। इसीलिए आज सभी विद्यार्थी सरकार के खिलाफ उठ खड़े हुए हैं।दिग्विजय चौटाला ने आगे कहा कि विधयर्थियों को आजादी देना केवल मेरा मुद्दा नहीं, बल्कि डॉ बाबासाहेब आम्बेडकर और चौधरी देवीलाल जी का भी सपना है।

22 सालों से हरियाणा में छात्र संघ चुनाव होने पर अब सरकार प्रतिबन्ध लगा रही हैं और हम इसके लिए जी जान से लड़ाई लड़ रहे है। चौटाला ने कहा कि हमने मुख्यमंत्री के खिलाफ पंचकूला में संघर्ष किया, पुलिस ने हम पर लाठियां,आंसूगैस के गोले और पानी की बौछार कर हमारा आंदोलन विफल करने की कोशिश की। लेकिन मैंने तब ही मुख्यमंत्री को कहा था कि “आपके पानी की बौछारे और लाठिया मजबूत हैं या हमारा हौसला”। दिग्विजय ने कहा की एबीवीपी बहुत ज्यादा कमजोर है।

एबीवीपी इस परिस्थिति में नहीं है की चुनाव जीत सके। इसलिए सरकार चुनाव करवाने से बच रही हैं।  उन्होंने आगे कहा कि छात्र संघ चुनाव में युवा पीढ़ी का मैंडेट होता है,और इसी के नतीजे आम चुनाव में प्रभाव डालते हैं, इसलिए सरकार हरियाणा में छात्र संघ चुनाव करवाने को लेकर डर रही हैं।  गौरतलब है कि दिग्विजय चौटाला मनोहर लाल सरकार के खिलाफ दुबारा जोरदार प्रदर्शन करने कि तैयारियों में हैं।  इसको लेकर तय रणनीति अनुसार वह प्रदेश के 12 विश्वविद्यालयों में छात्रों से मुलाकात कर उनका समर्थन मांगने पहुंच रहे हैं ।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close