टुडे न्यूज़हरियाणा

गोतस्कर उड़ा रहे है कानून की धज्जियां, डाक पार्सल कंटेनर 17 गौवंशों से भरा पकड़ा

Today News | बरवाला

उपाध्यक्ष गौपुत्र के नेतृत्व में टीम ने अग्रोहा-भूना बाईपास पर नाका लगाया। करीब डेढ़ बजे एक कंटेनर आता हुआ दिखाई दिया। टॉर्च जलाकर रोकने का इशारा किया तो ड्राइवर परिस्थिति को भाप गया ओर कंटेनर को हिसार की बजाय बरवाला की तरफ भगा लिया। इसकी खबर बरवाला टीम व नरवाना तथा जींद टीम को की। गौसेवा दल के अध्यक्ष डाक्टर संदीप उचाना ने कहा कि अग्रोहा से सूचना मिलते ही हमने इस घटना की पूरी स्थिति गोसेवा आयोग द्वारा गठित स्पेशल गौ टास्क फोर्स जींद को सूचना दे दी।बरवाला बस स्टैंड पर खड़े हमारे साथी प्रदीप नैन ने बताया कि कंटेनर बरवाला से जींद रोड़ पर निकल चुका है हम पीछा करते रहे आगे से गोटास्क फोर्स पुलिस टीम भी बरवाला की ओर निकल पड़ी। खेड़ी चोपटा के पास हमने आगे निकल कर गाड़ी को रोकने का इशारा किया लेकिन तस्करो ने गाड़ी को ओर तेज भगा लिया

लेकिन गौभगतो ने गाड़ी का पीछा नही छोड़ा और आगे जींद में गऊ सेवा दल और गऊ टॉस फोर्स पुलिस द्वारा नाका लगवाया गया और जब गाड़ी खेड़ी चोपटा से कुछ आगे निकले निकली तो रोड का निर्माण कार्य चल रहा था तो रोड पर रोड़े पड़े होने के कारण गाड़ी का टायर फट गया। लेकिन तस्कर गाड़ी को फिर भी भगाते रहे कुछ दूर चलने पर ईक्कस गावं से पहले आगे नाका बन्दी देख कर गाड़ी को छोड़ कर तस्कर अंधेरे का फायदा उठा कर भाग गए। पुलिस टास्क फोर्स टीम व गौसेवा दल जींद ने मौके पर गाड़ी को चेक करने पर 17 गौवंश ठूस-ठूस कर मिले और फिर गाड़ी को नन्दीशाला जींद में ले जाया गया। जहां पुलिस व गौशाला उतारा गया तथा गौतस्करों के खिलाफ गोसंवर्धन एवं गोसरंक्षण एक्ट 2015 के अनुसार पर्चा दर्ज करवा कर कानूनी कार्यवाही कर दी है।हरियाणा प्रदेश संयोजक गौपुत्र प्रमोद श्योकंद ने गुस्सा जाहिर करते हुए कहा कि बताया कि इसी रात में गौपुत्र सेना पंजाब टीम ने मानसा जिले में भी एक गौवंश से भरा ट्रक पकड़ा गया है और दो दिन पहले भी हिसार जिले में गाड़ी पकड़ी।

इसी प्रकार एक दिन पहले बजरंग दल गुरुग्राम ने भी मोनू मानेसर के नेतृत्व में वीटा डैरी के बंद बाड़ी कंटेनर में कंटेनर पकड़ा। उन्होंने कहां अगर सरकार द्वारा गठित गो टास्क फोर्स रात में नाके लगाए जाए तो प्रतिदिन 10 गोवंश से भरी गाड़ी जा सकती है। कैले,अंडे की करेट,सेब पेटी ,डाक पार्सल, तूड़े की बोरी,साइड में फोम लगाकर ,बैलो के मुहं बांधकर, सांडो के नाक फोड़कर रस्सा (नाथ) डालकर में ,ट्रक में एक 12 अंगुल एक बिलात मिट्टी या रेती डालकर ताकि गोबर ,पेशाब निचे ना टपके, ओर तो ओर पतंजलि नाम लिखे हुए कंटेनर भी 2 महीने पहले ही पकड़ा गया था।कानून में लचीलापन है इसलिए अभी तक किसी गोतस्कर को कानून के अनुसार सात साल की सजा नही हो पाई,तथा गाड़ियों की सुपर्दारी भी जल्द हो जाती है।गौतस्करी अखलाक को लाखो रूपये का चेक हरियाणा सरकार ने दिया था जिससे तस्करों के होंसले बढ़ जाते है।उनके पास अवैध रूप से हथियार भी पाए जाते है।मौके से सब कागजात लेकर भाग जाते है इन्ही कारणो से गोतस्करी नही नही थम रही।अग्रोहा से जोगेन्द्र, संदीप, फौजी,नरवाना टीम से रवि माथुर , वीरेंद्र नैन गोसवा दल सेवा दल जींद अतुल चौहान जी, राकेश, अमित हिन्दू, सर्वेश, कालू ईगराह, बबलू, विजेश, मनदीप, कालू अहिरका, राहुल डांगी, अन्ना जी व अन्य गौभक्त मौजूद रहे।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close