टुडे न्यूज़हरियाणा

कुलदीप बिश्नोई जल्द दिखाएंगे भाजपा को उनकी “औकात”: रेणुका बिश्नोई

Today News

अर्चना त्रिपाठाी | हिसार
हांसी की विधायक रेणुका बिश्नोई ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल के बीजेपी सरकार पर तीखे तेवर के साथ जोरदार प्रहार करते हुए कहा कि “मैं लिख कर देती हूं, कि 2014 के पहले बीजेपी कि जो औकात थी, वही औकात हरियाणा में कुलदीप बिश्नोई उनको 2019 में दिखाएंगे”। रेणुका बिश्नोई ने मनोहर लाल खट्टर को आड़े हाथो लेते हुए यह भी कहा कि आज हरियाणा में भाजपा की सरकार सिर्फ कुलदीप बिश्नोई कि ही देन हैं। इनके कार्यकर्ताओं के पास तो वोटिंग पैड पकड़ने के लिए भी कार्यकर्ता नहीं थे। उनको (भाजपा) तो उल्टा कुलदीप बिश्नोई का एहसानमंद होना चाहिए कि उन्ही के कारण आज हरियाणा में भाजपा की सरकार बनी है। रेणुका बिश्नोई के इस तीखे वक्तत्व ने जहां भाजपा के खेमे में हलचल बढ़ा दी, वही 2019 में कुलदीप बिश्नोई और रेणुका बिश्नोई को हल्के में लेने वाले नेताओं के मुंह भी बंद कर दिए।

2019 का चुनाव जहां भाजपा की मनोहरलाल खट्टर सरकार के लिए प्रतिष्ठा का चुनाव बन गया है, वही कुलदीप बिश्नोई परिवार के लिए यह चुनाव “पिछले चुनावों का बदला लेने का हैं। “यही कारण है कि कुलदीप बिश्नोई के साथ रेणुका बिश्नोई ने इस चुनाव की कमान अपने हाथों में लेते हुए अपनी रणनीति बनानी शुरू कर दी है। उन्होंने प्रदेश में बढ़ रहे महिला अत्याचार और बलात्कार की बढ़ती घटनाओं के मद्देनजर भाजपा सरकार को आड़े हाथो लेते हुए कहा कि आज हरियाणा में बलात्कार और महिला अत्याचार की घटना का बढ़ता आपराधिक ग्राफ इस बात कि तरफ इशारा करता है कि भाजपा सरकार इसे रोकपाने में पूर्ण तौर पर असफल हो चुकी हैं। आज प्रदेश की लड़कियां खुद को बेहद असुरक्षित महसूस कर रही है, इसलिए उन्होंने लड़कियों की सुरक्षा का मुद्दा उठाकर उनके लिए सेल्फ डिफेंस प्रशिक्षण की शुरुवात कर दी हैं।

इस बहाने रेणुका ने मुख्यमंत्री की निष्क्रियता और महिला के इस गंभीर मसले के जरिये भाजपा को घेरने और उनकी नाकामी को उजागर करने की कोशिश कि हैं। गौरतलब है कि कुछ महीनों पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और तमाम बीजेपी नेता कुलदीप बिश्नोई और रेणुका बिश्नोई पर हमलावर हुए थे। भाजपा मंत्रियों ने कुलदीप और रेणुका बिश्नोई की विधानसभा में उपस्थिति पर सवाल उठाया था। मगर रेणुका ने तब और आज भी इस मुद्दे पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल को आड़े हाथो लेते कहा कि मुख्यमंत्री ने हांसी में आकर बहुत घोषणाबाजी कि थी,मगर आज तक वो अपने घोषणा किये कार्यों को पूरा नहीं कर पाए। रेणुका ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल की विधानसभा में माना 100 प्रतिशत उपस्थिति रही, मगर वो ये तो गिनाये कि उन्होंने ऐसा कौनसा काम किया ? आज भी जनता उनके कार्यों से खुश नहीं। आज “अटैंडन्स नहीं परफॉरमेंस” बोलता है।

रेणुका ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को हांसी से चुनाव लड़ने की चुनौती देते हुए कहा कि हिम्मत है तो मुख्यमंत्री यहां से चुनाव लड़कर दिखाए।कम से कम इसी बहाने यहां कि जनता के कार्य तो होंगे। उन्होंने कहा कि 4 साल में मुख्यमंत्री ने हांसी की सारी विकास शील कार्यों की फाइलें रोक कर रखी, वो सामान विकास कि बातें करते है मगर यहां का काम होने नहीं देते।

लड़कियों को सेल्फ डिफेंस न आना मुख्यमंत्री की नाकामयाबी करती है उजागर

हांसी की विधायक रेनुका बिश्नोई ने कहा कि भाजपा सरकार का बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का नारा सिर्फ विज्ञापनों तथा कागजों तक ही सीमित होकर रह गया है। जिस तरह से पिछले 4 वर्षों में राज्य में महिलाओं के साथ दंरिदगी की घटनाएं सामने आई है, उससे हरियाणा की पहचान गैंगरेप प्रदेश के रूप में हो गई है, जोकि किसी भी सरकार व समाज के लिए शर्मनाक स्थिति है। खट्टर सरकार के कार्यकाल में बेटियों का आगे बढना तो दूर उनकी सुरक्षा का ही सबसे बड़ा प्रश्नचिन्ह लग गया है। इसलिए भाजपा सरकार के उदासीन रवैए तथा पुलिस प्रशासन की नाकामी को देखते हुए कुलदीप बिश्नोई के समर्थकों ने उनके 50वें जन्मदिवस को राज्यभर में हकरक्षक महिला सुरक्षा की प्रण लेने के रूप में मनाया, जिसके बाद अब भजन ग्लोबल इम्पैक्ट फाउंडेशन द्वारा वह राज्य की महिलाओं, बेटियों को अब आत्मरक्षा के प्रति एजुकेट करने के लिए महिला आत्मरक्षा प्रशिक्षण शिविरों के रूप में आयोजित कर रही है।

कुलदीप बिश्नोई को मिलेगी अहम् जिम्मेदारी

अब तक कांग्रेस नेतृत्व को लेकर सवाल उठते रहे है। मगर रेणुका बिश्नोई ने इशारों ही इशारों में यह बता दिया कि कांग्रेस में कुलदीप बिश्नोई को पार्टी आलाकमान अहम् जिम्मेदारी देंगे। रेणुका ने मनोहर लाल सरकार पर करारा प्रहार करते कहा कि 2014 में भाजपा की सरकार सिर्फ कुलदीप बिश्नोई के दम पर बनी। मगर इस बार चुनाव में कांग्रेस की जीत पक्की है और इस जीत के बाद कुलदीप बिश्नोई का सरकार में अहम योगदान रहेगा।

बिश्नोई परिवार का ही होगा सांसद उम्मीदवार

जिस प्रकार से कुलदीप और रेणुका बिश्नोई जोरशोर से तैयारियों में लगे हुए है। आज रेणुका बिश्नोई ने खुद ही इस बात को काबुल लिया की सांसद चुनाव परिवार का ही कोई सदस्य लड़ेगा। मगर जिस प्रकार से उन्होंने कहा कि नाम पार्टी अध्यक्ष राहुल गाँधी और कुलदीप बिश्नोई तय करेंगे इससे यह बात तो तय है कि कही न कही रेणुका बिश्नोई को सांसद के तौर पर उतारने की तैयारी चल रही है।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close