क्राइम

हिसार गुडिय़ा रेप केस: दस महीने बाद कोर्ट ने आरोपी को सुनाई बीस साल की सजा

अर्चना त्रिपाठी |Today News

हिसार: पिछले साल के आखिरी महीने में हिसार के उकलाना में गुडिय़ा रेप केस मामले ने हरियाणा से लेकर पुरे देश में बलात्कार की घिनौनी घटना से शर्मसार हुआ था। इसी मामले में हिसार कोर्ट के एडीजे-वन स्पेशल कोर्ट के न्यायाधीश डीआर चालिया ने आरोपी को 20 साल की सजा के साथ 80 हजार रुपए जुर्माना लगाया है। गौरतलब है कि उकलाना में छह साल की बच्ची के साथ दरिंदगी का मामला 9 दिसम्बर 2017 को पॉस्को एक्ट के तहत दर्ज हुआ था। पुलिस द्वारा डीएसपी जयपाल सिंह के नेतृत्व में एसआईटी गठित की थी। वहीं अनेक संगठनों ने धरना-प्रदर्शन किया था। बीते 13 सितंबर को  कोर्ट ने आरोपी को दोषी करार दिया था और 20 साल की सजा सुनाई है।

यह है पूरा मामला

जानकारी के मुताबिक, उकलाना में कबाड़ चुनकर अपना गुजारा करने वाले गरीब परिवार की बेटी को दरिंदे ने उठाया। आरोपी ने मासूम का दुष्कर्म किया और बच्ची के नाजुक अंगों पर प्रहार किया है। आरोपी ने बच्ची के गुप्तांग में लकड़ी भी डाल दी थी, जिससे उसकी मौत होग गई। वहीं शव टेलिफोन एक्सचेंज के पास लहूलुहान हालत में मिला। जिसके बाद सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले की जांच शुरू की। बताया जाता है कि बच्ची अपने मां के साथ तंबू में सो रही थी। देर रात आरोपी ने बच्ची का अपहरण किया।

बच्ची पड़ोसी था आरोपी: बच्ची के साथ दरिंदगी के बाद हत्या का आरोपी कोई और नहीं बल्कि बस्ती के नजदीक रहने वाला युवक सोमपाल था।
परिजनों के सामने कबूला जुर्म: मामले में छानबीन कर रही पुलिस ने सोमपाल को गिरफ्तार किया। पुलिस सोमपाल को लेकर परिजनों के पास आई। उसने सभी के सामने बताया कि उसने बच्ची का मुंह दबाकर उसे झोंपड़ी से उठाया और फिर वहां ले गया जहां पर उसका शव मिला था।
घटना की रात को छत पर था आरोपी: मीडिया को मृतका की मां ने बताया था कि सोमपाल को उस रात उसने उसके मकान की छत पर देखा था। आरोपी नशेड़ी किस्म का लड़का था।
Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close