आदमपुरटुडे न्यूज़

कुलदीप बिश्नोई ने जनसंपर्क अभियान के दौरान लोगों से बातचीत

कुलदीप बिश्नोई ने कहा कि हलके का प्रत्येक निवासी आरदमपुर के मान-सम्मान की लड़ाई को मानकर यह चुनाव लड़ रहा है

हिसार टुडे

किसी भी परिवार का इतिहास होता है और वह इतिहास पीढिय़ों की मेहनत, सुख-दुख, उतार-चढ़ावों से भरा होता है। परिवार की ताकत किसी भी अन्य ताकत से कहीं ज्यादा बढ़ी होती है और परिवार हमेशा परिवार ही होता है। चौ. भजनलाल हमेशा मुझसे कहते थे कि आदमपुर मेरा परिवार है और परिवार का हमेशा ख्याल रखना। 32 वर्षों से मैंने आदमपुर के हितों के लिए ईमानदारी से संघर्ष किया है। पिछले 50 सालों से मेरे आदमपुर परिवार के विश्वास को मैं हमेशा कायम रखूंगा और इसे कभी टूटने नहीं दूंगा।

लोकसभा चुनाव में कमजोरी के बाद मैंने पिछले तीन महीने से आदमपुर परिवार के लोगों से पूछा की उनसे क्या गलती हो गई तो मेरे परिवारिक लोगों के साथ बिताया समय मेरे लिए बहुत ही भावुकतापूर्ण रहा और ऐसे-ऐसे लोग उनसे गले मिलकर रोए की जीवन में पहली बार उन्होंने एक लहर के कारण भजनलाल परिवार के खिलाफ वोट डाला, लेकिन विधानसभा चुनाव में पूरा आदमपुर हलका एकजुटता का ऐसा संदेश देगा, जिसकी गूंज पूरे देश में जाएगी और आदमपुर की पहचान और ज्यादा मजबूत होगी। यह बात केन्द्रीय कांग्रेस कार्यसमिति सदस्य कुलदीप बिश्नोई ने शनिवार को महलसरा, मोठसरा, असरावा, जगान, चिकनवास, मलापुर, सदलपुर, काजला, जाखोद, काबरेल, कालीरावण, भोडिया बिश्नोईयान, ऑटो मार्केट आदमपुर, हाउसिंग बोर्ड कालोनी में जनसंपर्क अभियान के दौरान लोगों से बातचीत करते हुए कही।
कुलदीप बिश्नोई ने कहा कि हलके का प्रत्येक निवासी आरदमपुर के मान-सम्मान की लड़ाई को मानकर यह चुनाव लड़ रहा है, क्योंकि हलकावासी यह समझ चुके हैं कि भाजपा आदमपुर की पहचान को मिटाना चाहती है, जो पिछले 50 सालों के आपसी विश्वास से बनी है। बच्चे, बुढ़े, जवान, महिलाओं से लेकर सभी लोगों में चुनाव को लेकर भारी उत्साह है और 21 अक्तूबर को आदमपुर की जनता फिर से इतिहास लिखेगी। उन्होंने कहा कि पिछले 5 वर्षों में भाजपा ने चुनावी वायदे पूरे करने की बजाय तानाशाही नीतियां थोपी, जिस वजह से किसान, व्यापारी, कर्मचारी, मजदूर वर्ग में असंतोष बढ़ा।  किसानों को न तो फसलों का मूल्य मिला और न ही खराब फसलों का मुआवजा। उल्टा खाद, बीज, दवाईयों तथा डीजल के दामों में बेताशाहा वृद्धि की। इस दौरान बड़ी संख्या में कार्यकत्र्ता उपस्थित थे।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close