टुडे न्यूज़टुडे विशेषहिसार

स्कूल बच्चों ने दिया ‘5 स्टार’ रैंकिंग अपनाकर पर्यावरण बचाने का संदेश

मिशन ग्रीन कार्यक्रम में पहुंचने वाले सभी लोगों को नि:शुल्क कपड़े के थैले किए वितरित

हिसार टुडे | हिसार

गीता जयंती महोत्सव को लेकर हिसार के पुराना गवर्नमैंट कॉलेज मैदान में आयोजित कार्यक्रम में मिशन ग्रीन फाऊंडेशन ने स्टॉल लगाकर लोगों को पर्यावरण संरक्षण के ‘5 स्टार रैंकिंग प्रणाली’, पॉलिथीन मुक्त पर्यावरण, मेरा थैला-मेरी शान व पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया। संस्था की ओर कार्यक्रम में पहुंचने वाले सभी लोगों को नि:शुल्क कपड़े के थैले भी वितररित किए गए।

मिशन ग्रीन के संस्थापक एवं राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ पर्यावरण गतिविधि केंद्रीय समिति के सदस्य स्वामी सहजानंद नाथ ने बताया कि इस अवसर पर मिशन ग्रीन द्वारा पर्यावरण को बचाने के लिए ‘5 स्टार’ रैंकिंग को लेकर बनाए गए ‘गाने’ पर आईडीडीएवी स्कूल के बच्चों बच्चों ने प्रस्तुति दी व सभी को पर्यावरण को बचाने के लिए 5 स्टार रैंकिंग प्रणाली अपनाने के लिए प्रेरित किया।

सहजानंद नाथ ने बताया कि मिशन ग्रीन फाऊंडेशन द्वारा पर्यावरण संरक्षण हेतु घरों, स्कूलों, अस्पतालों को 5 स्टार रैंकिंग प्रणाली अपनाने को लेकर प्रेरित करने के लिए एक गीत बनाया गया है जिसे सोशल मीडिया के माध्यम से सभी लोगों तक पहुंचाया जाएगा और अधिक से अधिक लोगों को इसके प्रति जागरुक किया जाएगा।

5 स्टार रैंकिंग प्रणाली को लागू करने के लिए प्रधानमंत्री को भी एक पत्र लिखा है और इसे मन की बात कार्यक्रम के माध्यम से लोगों तक पहुुंचाने का आग्रह भी किया है। गीता जयंती महोत्सव में पहुंच रहे सभी बुद्धिजीवी, आम जनमानस व स्कूली बच्चों को पॉलिथीन के दुष्प्रभावों के प्रति सचेत किया जा रहा है और उनसे इसका इस्तेमाल पूरी तरह से बंद करने की अपील की जा रही है।

आडीडीएवी स्कूल के बच्चों ने आज पर्यावरण संरक्षण के स्लोग्र लगी तख्तियां हाथों में लेकर सभी को पर्यावरण संरक्षण संदेश दिया। ‘जाति-पाति छोडक़र पर्यावरण बचाना है, प्रदूषण हटाना है 5 स्टार बनाना है’ आदि स्लोगनों के माध्यम से बच्चों ने यह संदेश दिया। बच्चों ने हाथों में थैले लेकर लोगों को कपड़े के थैले अपनाने के लिए भी प्रेरित किया।

स्वामी सहजानंद नाथ ने 5 स्टार रैंकिंग के बारे में विस्तार से बताया कि इसके तहत पर्यावरण संरक्षण में विभिन्न स्तर पर भागीदारी देने वाले घर, गांव, स्कूल, अस्पताल को 5 स्टार दिए जाएंगे। उन्होंने बताया कि हमें सर्वप्रथम इसकी शुरूआत घर से करनी होगी जिसके तहत पानी बचाना, कूड़े का सही निस्तारण व प्लास्टिक की चीजों को घर में ही एक जगह एकत्रित करना आदि के लिए स्टार रैंकिंग दी जाएगी।

इसके तहत बरसात के पानी को वाटर हार्वेस्टिंग के माध्यम से गाड़ी, फर्श इत्यादि धोने में पानी को व्यर्थ नहीं करने तथा आए हुए मेहमानों को आधा गिलास पानी देना आदि से पानी की बचत के लिए 1 स्टार की रैंकिंग दी जाएगी। घर के कूड़े को एकत्रित करके गीला कचरा व सूखा कचरा के हिसाब से उसका सही निस्तारण करने पर दो स्टार, घर में प्लास्टिक की चीजों को ‘दादी की मटकी’ बनाकर उसमें इकट्ठा करना व उसका सही स्थान पर निस्तारण करने पर 3 स्टार, घर में सौर ऊर्जा के इस्तेमाल पर 4 स्टार तथा घर में कम से कम 5 पौधे लगाने, पक्षियों के लिए घर में घोंसले बनवाने पर व निर्धारित अंतराल के बाद घर में हवन-यज्ञ करने पर 5 स्टार की रैंकिंग दी जानी चाहिए जिससे लोग इस बात को बड़े गर्व के साथ कह सकते हैं कि उनका घर 5 स्टार रैंकिंग का घर है।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close