टुडे न्यूज़संपादकीय

हरियाणा में निर्दलीय विधायकों के समर्थन से बीजेपी बनाएगी सरकार?

संपादकीय महेश मेहता

 हिसार टुडे

हरियाणा विधानसभा चुनाव में बीजेपी भले ही बहुमत से चूक गई लेकिन वह सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी है। अब वह निर्दलीय विधायकों के समर्थन से फिर से सरकार बनाने की तैयारी में है। सूत्रों के मुताबिक, सिंगल लार्जेस्ट पार्टी होने के नाते मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जल्द ही राज्यपाल सत्यनारायण आर्य से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे। सूत्रों के मुताबिक, खट्टर दिवाली से पहले शुक्रवार को सीएम पद की शपथ लेंगे। 90 सदस्यों वाली हरियाणा विधानसभा में बीजेपी 39 सीटें जीत चुकी है जबकि 1 पर आगे है। इस तरह वह बहुमत के आंकड़े 46 से 6 सीट पीछे है। बीजेपी इसकी भरपाई निर्दलियों से करने की कोशिश कर रही है। 7 निर्दलीय विधायकों ने जीत हासिल की है।

गोपाल कांडा के भाई का दावा, 6 निर्दलीय बीजेपी के साथ

इस बीच सिरसा से जीत हासिल करने वाले हरियाणा जनहित पार्टी के नेता गोपाल कांडा के भाई गोविंद कांडा ने दावा किया है कि उनके भाई के साथ-साथ 6 निर्दलीय विधायक भी बीजेपी को समर्थन देंगे। उन्होंने कहा कि गोपाल कांडा 6 निर्दलीय विधायकों के साथ दिल्ली रवाना हो चुके हैं। गोविंद कांडा ने कहा कि इस बार के रिजल्ट बिल्कुल 2009 की तरह हैं। उस बार कांग्रेस 40 सीट जीतकर सबसे बड़ी पार्टी बनी थी तो इस बार उसकी जगह बीजेपी है। उन्होंने कहा कि 10 साल बाद इतिहास दोहराया जा रहा है। तब उनके भाई ने कांग्रेस की सरकार बनवाई थी, इस बार बीजेपी की बनवाएंगे।
कार में बैठे कांडा की निर्दलीय विधायकों के साथ तस्वीर वायरल

इस बीच, सोशल मीडिया पर एक तस्वीर भी वायरल हो रही है जिसमें एक गाड़ी में गोपाल कांडा कुछ लोगों के साथ बैठे हुए हैं। दावा किया जा रहा है कि कांडा के साथ बैठे लोग निर्दलीय विधायक हैं और दिल्ली में बीजेपी नेताओं से मिलने के लिए जा रहे हैं। गोपाल कांडा के भाई के दावों के मद्देनजर हरियाणा में एक बार फिर खट्टर सरकार बनती दिख रही है। कांडा और 6 निर्दलीय विधायकों के साथ आने से बीजेपी के पास कुल 47 विधायकों का समर्थन हो जाएगा जो बहुमत के लिए जरूरी आंकड़े से 1 ज्यादा है। सूत्रों के मुताबिक, बीजेपी ने निर्दलीय विधायक रणजीत सिंह को मंत्री पद देने की भी पेशकश की है। उन्हें दिल्ली बुलाया गया है।
निर्दलियों के हाथ सत्ता की चाबी

बता दें कि हरियाणा में बीजेपी ने 40 (एक सीट पर बढ़त समेत), कांग्रेस ने 31 और जेजेपी ने 10 सीटों पर जीत हासिल की है। इसके आईएनएलडी और हरियाणा लोकहित पार्टी को 1-1 सीट मिली है। 7 सीटों पर निर्दलियों ने जीत का परचम लहराया है। दोपहर तक जब बीजेपी 40 के आंकड़े से नीचे थी तो जेजेपी को किंगमेकर माना जा रहा था। लेकिन फाइनल फिगर आने के बाद अब निर्दलीय विधायक किंगमेकर बनकर उभर हैं।

हरियाणा में बहुमत से 6 सीट दूर रही बीजेपी स्वतंत्र विधायकों की मदद से सरकार बना सकती है। दावा किया जा रहा है कि गोपाल कांडा समेत 6 निर्दलीय विधायक बीजेपी के संपर्क में है। राज्य विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 40 सीटें मिली हैं।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close