टुडे न्यूज़संपादकीय

दंगल और देशभक्ति से जीत पाएगी भाजपा!

संपादकीय महेश मेहता

हिसार टुडे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब जब हरियाणा में चुनावी रैली को सम्बोधित करने आए पास पलटा। ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि अब जब हरियाणा में भाजपा की लोकसभा चुनाव जैसी हवा नहीं है इसी कारण वश इस विधानसभा चुनाव में भाजपा के सामने मुसीबत मुंह बाए कड़ी है। ऐसे में भाजपा के दिग्गज नेताओ की सीट पर पेंच फसे होने के कारण मुसीबत ज्यादा बनी हुयी है। यही कारण है कि हरियाणा के भाजपा के नेताओ के लिए नैय्या पार कोई कर सकता है तो वो है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी।

हरियाणा विधानसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बल्लबगढ़ के बाद चरखी दादरी का रुख किया और विशाल जनसभा को संबोधित कर माहौल को भाजपा के पक्ष में मोड़ने की भरसक कोशिश की। अपने चित परिचित लहजे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हरियाणवी बोलकर अपना संबोधन शुरू किया और खुद को हरियाणा से जोड़ने की कोशिश की। मगर हां यहाँ आकर शहीदों की धरती और देशभकतो की भूमि हरियाणा को उन्होंने नमन कर अनुच्छेद 370 और राफेल जैसे मुद्दे उठाकर देशभक्ति के मुद्दों पर जनता को मोड़ने की कोशिश की।

पीएम मोदी ने कहा कि मैं दो दिन से अलग-अलग जगहों पर जा रहा हूं और हरियाणा का रुख साफ-साफ नजर आ रहा है। भाजपा फिर से हरियाणा की सेवा करे, यह फैसला यहां की जनता ने कर लिया है। शहीदों की इस धरती को मेरा शत शत नमन है। विकास की गाथा गाकर पीएम ने कहा की हरियाणा प्रदेश में मेडिकल कॉलेज व लॉजिस्टिक हब बन रहे हैं, क्योंकि यहां डबल इंजन से विकास तेज हुआ। केंद्र में मोदी का इंजन और राज्य में मनोहर का इंजन। अर्थात वो यहां भाजपा के विकास की रेल की बात कर रहे थे।

ख़ास तौर पर कांग्रेस के गढ़ में प्रभाव डालने के इरादे से भाजपा ने यहाँ पीएम नरेंद्र मोदी का कार्यक्रम आयोजित कर माहौल को और रोमांचक बना दिया है। पीएम मोदी के इस कार्यक्रम से न केवल चरखी दादरी, भिवानी, झज्जर और तो और महेंद्रगढ़ पर प्रभाव दाल सकती है। इस पूरे इलाके में जब मैं संगठन का काम देखता था, तब शायद ही कोई कार्यकर्ता हो, जिसके यहां जाने का मौका मुझे न मिला हो। यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का कॉंफिडेंट बोले या कुछ और जो यह कहने से नहीं चुके की 2014 की भाँती इस बार दुबारा हरियाणा में मनोहर लाल की सरकार बनने वाली है। आपको भी पीएम की वो कही पक्ति सुननी चाहिए जो इस बात का सबुत है की क्यों उन्हें देश के सर्वश्रेस्ट वक्ता है। उन्होंने कहा कि “मैं हरियाणा में वोट मांगने नहीं आता, न प्रचार करने आता हूं। हरियाणा मुझे खुद खींच लाता है। मैं अपने आप को हरियाणा आने से रोक ही नहीं पाता हूं। हरियाणा के लोगों को नमन करना मेरी निजी जरूरत है,

क्योंकि मुझे यहां से ऊर्जा मिलती है। मेरा मन करता है कि मैं हरियाणा आऊं और मैं आ जाता हूं। क्या करुं, इस प्रदेश की जनता ने मुझे प्यार ही इतना दिया है, इसलिए मैं आशीर्वाद लेने चला आता हूं।” चुनाव के दौरान ऐसी भाषा सभी को प्रभावित कर सकती है। ऐसे पीएम नरेंद्र मोदी का क्या कहना जब वो खुद को हरियाणा से जोड़ने के लिए आमिर खान की फिल्म “दंगल” का भी जिक्र करते है। वही दंगल फिल्म जिसकी नायिका अर्थात जिसपर यह फिल्म बनी है वो बबिता फोगाट आज भाजपा की प्रत्याशी है। पीएम ने कहा की “मुझे चीन के राष्ट्रपति मिले, उन्होंने बताया कि वे हाल ही में दंगल मूवी देखकर आएं हैं, जिससे उन्हें पता चला कि भारत की बेटियां कितनी धाकड़ हैं। भारत की बेटियां कितनी मजबूत और सशक्त हैं, यह देखकर मुझे बहुत खुशी हुई। और चीनी राष्ट्रपति के मुंह से यह सब सुनकर मेरे दिल को भी काफी सुकून मिला। इससे अंदाजा लगा सकता हूं कि भारत में बेटियों की स्थिति और हालातों पर दुनिया भर के देश भी अपनी नजर रखते हैं। यानी एक तीर से कई निशाने। अब देखना यह है की क्या उनका तीर निशाने में लगेगा और भाजपा की सरकार बनेगी या निशाना चूक जायेगा।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close